Saturday, Jul 11 2020 | Time 15:42 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कैमूर में लूटकांड में शामिल होमगार्ड जवान समेत आठ अपराधी गिरफ्तार
  • चीन को कोरोना वायरस की पहले से जानकारी थी : लि मेंग येन
  • गोपालगंज में भारी मात्रा में शराब बरामद, तीन गिरफ्तार
  • दरभंगा में भारी मात्रा में शराब जब्त, एक गिरफ्तार
  • विकास दुबे की ‘मुठभेड़’ का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा
  • गोवा में कोरोना संक्रमण से दो लोगों की मौत
  • कर्नाटक में भाजपा विधायक कोरोना संक्रमित
  • पिछले 100 साल का सबसे गंभीर आर्थिक संकट लेकर आया कोरोना: शक्तिकांता
  • मुंबई के बोरीवली शॉपिंग सेंटर में आग लगी
  • विभाग वितरण रविवार को होगा - शिवराज
  • चार दिन में कोरोना संक्रमण के एक लाख से अधिक मामले
  • नेपाल में बाढ़ से 11 लोगों की मौत, 23 लापता
  • कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक अनुशासन जरूरी: मोदी
  • चार दिन में कोरोना संक्रमण के एक लाख से अधिक मामले
  • ओडिशा में कोरोना के 570 नए मामले
राज्य » राजस्थान


बारां जिले में एक लाख से अधिक श्रमिकों का नियोजन

बारां, 21 मई (वार्ता) राजस्थान के बारां जिले में महात्मा गांधी राष्ट्रीय राजेगार योजना (मनरेगा) के तहत एक लाख नौ हजार 444 श्रमिक नियोजित है जिससे जिले में गरीब को काम एवं आर्थिक स्वावलम्बन मिला है।
जिला कलक्टर इन्द्र सिंह राव ने बताया कि कोरोना संकट से कई लोग आर्थिक रूप से प्रभावित हुए हैं जिनकों आर्थिक संबल प्रदान करने की आवश्यकता थी। राज्य सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों को आर्थिक रूप से स्वावलम्बन प्रदान करने के लिए कोरोना संकट के तहत सोशल डिस्टेंस, मास्क लगाने, हाथ धोने व स्वास्थ्य मानकों की पालना के साथ महात्मा गांधी नरेगा योजना के तहत लोगों को रोजगार प्रदान कर कई समस्याओं का समाधान कर दिया है इस योजना के तहत प्रवासी मजदूरों को भी जोड़ा गया है जिससे उन्हें काम के बदले प्रतिदिन मजदूरी प्राप्त हो रही है।
जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी बृजमोहन बैरवा ने बताया कि कोरोना आपदा के दौर में मनरेगा योजना से ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को अपने परिवार का पालन-पोषण करने में सहायता मिली है साथ ही लोग श्रम के माध्यम से आर्थिक रूप से सशक्त हो रहें है। जिले के सभी विकास अधिकारियों को जो प्रवासी गांवों में आये हैं उनके जॉब कार्ड बनाने के आदेश जारी कर दिए है।
उन्होने बताया कि मनरेगा के तहत जिले की 221 ग्राम पंचायतों में मस्टरोल जारी किए जा चुके है जिले की समस्त सात पंचायत समितियों में वर्तमान में एक लाख 9 हजार 444 श्रमिकों को काम दिया जा रहा है। जिले के अंता ब्लॉक में सर्वाधिक 19 हजार 329 श्रमिकों का नियोजन किया गया है इसी क्रम में किशनगंज मंे 19 हजार 4, अटरू में 18 हजार 528, शाहबाद में 16 हजार 196, छीपाबड़ौद में 14 हजार 761, बारां मंे 13 हजार 169 एवं छबड़ा मंे 8 हजार 457 श्रमिकों को नियोजित कर रोजगार दिया गया है। जिले में कुल 12 हजार 842 मस्टरोल जारी हो चुके है।
शाह रामसिंह
वार्ता
More News
मिश्र ने विश्व जनसंख्या दिवस पर दी शुभकामनाएं

मिश्र ने विश्व जनसंख्या दिवस पर दी शुभकामनाएं

11 Jul 2020 | 2:53 PM

जयपुर, 11 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने विश्व जनसंख्या दिवस पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी हैं।

see more..
image