Thursday, Oct 28 2021 | Time 10:41 Hrs(IST)
image
राज्य » राजस्थान


रीट परीक्षा में ठगी के मामले में गिरफ्तार शिक्षक के खिलाफ 24 आपराधिक मामले दर्ज

बाडमेर 25 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान के डूंगरपुर में रीट परीक्षा में फर्जी तरीके से डमी अभ्यर्थी बिठाकर परीक्षा पास करवाने के आरोप में गिरफ्तार मुख्य सरगना भंवरलाल जाट के खिलाफ 24 आपराधिक मामले दर्ज होने के बावजूद 16 साल में फर्जी चरित्र प्रमाण पत्र बनाकर दो बार तृतीय श्रेणी शिक्षक की नौकरी हासिल कर ली।
सूत्रांें के अनुसार आरोपी भंवरलाल पहली बार 2005 में शिक्षक लगा और 16 माह बाद ही 2007 में बर्खास्त कर दिया। इसके बाद वर्ष 2008 शिक्षक भर्ती में दोबारा डूंगरपुर में तृतीय श्रेणी टीचर लगा। इसके बाद फर्जी दस्तावेज से नौकरी हासिल करने के मामले में 2012 में निलंबित हो गया। आरोपी वर्ष 2005 के बाद से ही ये नकल गिरोह का सरगना रहा है और हर भर्ती में अभ्यर्थियों को पास करवाने के लिए मोटी रकम लेकर नौकरी लगाता है।
सूत्रों के अनुसार आरोपी भंवरलाल के पास आलीशान बंगले और एक स्कॉर्पियो है। आरोपी के तीन पत्नियां हैं और तीनों ही सरकारी सेवा में हैं। आरोपी के ऊंचे राजनीतिक रसूखात का अंदाज इस बात से लगाया जा सकता है कि पिता थानाराम के नाम थानावास राजस्व गांव भी करवा दिया। पिछले 15 साल से पुलिस, ग्रामसेवक, बीएसटीसी, रीट, पटवारी, एलडीसी सहित हर भर्ती में मोटी रकम लेकर अभ्यर्थियों को नौकरी लगाने की गारंटी देता था। रीट में फर्जीवाड़े के आरोपी की राजनीतिक पहुंच इतनी कि गांव का नाम पिता के नाम पर रखवाया है।
भंवरलाल 2008 में तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती से दूसरी बार डूंगरपुर में शिक्षक लग गया। वहीं 13 साल से नौकरी कर रहा था। 2012 में फर्जी दस्तावेज से नौकरी लगने की शिकायत पर शिक्षा विभाग ने निलंबित कर दिया, लेकिन एक-डेढ़ साल बाद बहाल हो गया।
डूंगरपुर में आरोपी भंवरलाल के पकड़े जाने के बाद बाड़मेर पुलिस ने उसके सहयोगी ई-मित्र संचालक हरीश जाट निवासी सणतरा को गिरफ्तार किया है। भंवरलाल ने बताया कि वह डमी अभ्यर्थियों को रीट सहित अन्य परीक्षाओं में बिठाने के लिए हरीश से ही मूल आधार कार्ड पर फोटो बदल कर डुप्लीकेट आधार बनाता था। ये सालों से इस तरह का काम चल रहा था।
जिला पुलिस अधीक्षक आनंदश शर्मा ने आरोपी भंवरलाल के मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को सौंपी है। श्री शर्मा के निर्देश पर गिड़ा थानाधिकारी जयराम मुंडेल ने गिड़ा में ई-मित्र संचालक हरीश को दस्तयाब किया। उसके कब्जे से ई-मित्र दुकान से 400-500 आधार कार्ड बरामद किए गए है। पुलिस ने गिड़ा से एक-दो अन्य आरोपियों को भी दस्तयाब किया है, जिनसे पूछताछ की जा रही है।
भाटी रामसिंह
वार्ता
More News
जनता के आशीर्वाद से धरियावद और वल्लभनगर दोनों सीटें जीतेगी भाजपा- पूनियां

जनता के आशीर्वाद से धरियावद और वल्लभनगर दोनों सीटें जीतेगी भाजपा- पूनियां

27 Oct 2021 | 11:24 PM

जयपुर, 27 अक्टूबर( वार्ता) राजस्थान में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) प्रदेश अध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां ने कांग्रेस पर पचास साल तक आदिवासियों को सिर्फ वोट बैंक समझने का आरोप लगाते हुए दावा किया है कि मोदी सरकार के आदिवासियों के उत्थान के लिये कार्य करने एवं जनता के आशीर्वाद से धरियावद और वल्लभनगर दोनों सीटों पर भाजपा जीतेगी।

see more..
image