Tuesday, Nov 30 2021 | Time 21:40 Hrs(IST)
image
राज्य » राजस्थान


आठ दिवसीय पुष्कर पशुहाट मेला की मंजूरी

अजमेर 16 अक्टूबर (वार्ता) राजस्थान सरकार ने कोरोना महामारी की संभावित तीसरी लहर से सतर्कता बरतते हुए अजमेर के तीर्थराज पुष्कर में कार्तिक माह पर आयोजित होने वाले अंतरराष्ट्रीय ख्यात नाम पुष्कर मेले के लिए केवल आठ दिवसीय पुष्कर पशु हाट मेला 2021 की मंजूरी दी है जिसमें कोरोना नियमों के बीच केवल पशुओं की खरीद फरोख्त संभव हो सकेगी।
सरकार की ओर से कार्तिक मेले पर पंचतीर्थ स्नान के लिए कहीं कोई मंजूरी नहीं है।
इस बीच पुष्कर के धार्मिक मेले के आयोजन एवं मेले के प्रति लोगों में जागृति लाने के उद्देश्य से पुष्कर में 84 कोसिए परिक्रमा आयोजित की जा रही है। हिंदूवादी संगठनों ने सात नवंबर को 101 झंडों के साथ 84 कोसिए परिक्रमा आयोजित कर पुष्कर सरोवर के घाटों पर मेला आगाज की ध्वज पताका फहराए जाने का निर्णय लिया है।
84 कोसिए परिक्रमा प्रभारी तखत सिंह गौड़ और परिक्रमा संयोजक तरूण वर्मा, पुष्कर प्रभारी बालकिशन पाराशर आदि ने परिक्रमा की तैयारी के लिए आज पुष्कर का दौरा किया और सभी समाजों की ओर से 101 झंडे के साथ 84 कोसिए परिक्रमा जो कि वाहन यात्रा के रूप में आयोजित होगी की सर्वसमाज से बात कर रूपरेखा तैयार की।
परिक्रमा प्रभारी तखत सिंह गौड़ ने तीखी टिप्पणी करते हुए कहा कि पुष्कर मेला केवल पशु मेला नहीं है। यह मेला भारत की संस्कृति, धार्मिक एवं सामाजिक उत्थान का मिलन है। पुष्कर सरोवर स्नान और ब्रह्मा जी के दर्शन श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र है।
अनुराग रामसिंह
वार्ता
image