Thursday, Jul 25 2024 | Time 00:49 Hrs(IST)
image
राज्य » राजस्थान


देश-दुनिया के निवेशक राजस्थान की ओर हुए आकर्षित-गहलोत

बीकानेर 30 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि उद्योगों को प्रोत्साहन देने के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है और उसके महत्वपूर्ण फैसलों का ही परिणाम है कि आज बड़ी संख्या में देश-दुनिया के निवेशक प्रदेश की ओर आकर्षित हुए हैं।
श्री गहलोत शनिवार को बीकानेर में आयोजित भुजिया पापड़ व्यवसायियों के साथ संवाद और विभिन्न विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बीकानेर का भुजिया पापड़ देश-विदेश में प्रसिद्ध बताते हुए कहा कि एमएसएमई एक्ट के तहत उद्योगों को विभिन्न प्रकार की अनुमतियों में रियायत दी गई है। पर्यटन को उद्योग का दर्जा दिया गया है। एग्रो बिजनेस, प्रोसेसिंग एवं एक्सपोर्ट की पॉलिसी बनाई गई है। राज्य सरकार के महत्वपूर्ण फैसलों का ही परिणाम है कि आज बड़ी संख्या में देश-दुनिया के निवेशक प्रदेश की ओर आकर्षित हुए हैं।
उन्होंने कहा कि बीकानेर में भुजिया एवं पापड़ उत्पादन की सैकड़ों इकाइयां संचालित हैं। इनमें लोगों को वृहद स्तर पर रोजगार मिल रहा है। स्थानीय उद्योगों को प्रोत्साहन देना विजन-2030 का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। उन्होंने कहा कि संवाद के दौरान प्राप्त महत्वपूर्ण सुझावों को विजन-2030 डॉक्यूमेंट में शामिल किया जाएगा।
श्री गहलोत ने कहा कि प्रत्येक प्रदेशवासी की भागीदारी सुनिश्चित करते हुए पांच अक्टूबर को विजन-2030 डॉक्यूमेंट जारी किया जाएगा। उसी के आधार पर राज्य सरकार प्रदेश की प्रगति के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लेगी। अभी तक 2.50 करोड़ से अधिक लोगों द्वारा अपने सुझाव दिए जा चुके हैं, जिनका अध्ययन कराया जा रहा है। इस दौरान भुजिया पापड़ व्यवसाय से जुड़े विभिन्न उद्यमियों, विद्यार्थियों एवं जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों ने मुख्यमंत्री के साथ संवाद किया।
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार की योजनाएं देशभर में चर्चा का विषय बनी हुई है। इनमें स्वास्थ्य का अधिकार, राजस्थान न्यूनतम आय गारंटी, गिग वर्कर्स वेलफेयर एक्ट, मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, पुनः ओपीएस की षुरूआत, कामधेनु बीमा योजना, अनुप्रति कोचिंग योजना सहित विभिन्न नीतिगत फैसलों से हर वर्ग को राहत प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि तीन लाख सरकारी नौकरियां देने के साथ संविदाकर्मियों को स्थायी करने का कार्य राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा है।
संवाद के दौरान शिक्षा मंत्री श्री बी.डी. कल्ला ने कहा कि विजन-2030 डॉक्यूमेंट के लिए सभी को अपने सुझाव देने चाहिए। ये सुझाव निश्चित रूप से प्रदेश के विकास को गति देंगे। पूर्व शिक्षा राज्य मंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि प्रदेश सरकार के कुशल वित्तीय प्रबंध के कारण विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के संचालन के साथ-साथ आर्थिक विकास दर में भी राजस्थान पूरे देश में दूसरे स्थान पर है।
जोरा
वार्ता
image