Tuesday, Jul 16 2019 | Time 09:42 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मुजफ्फरनगर पुलिस मुठभेड़ में दो इनामी बदमाश ढेर
  • जम्मू से 3967 श्रद्धालुओं का नया जत्था अमरनाथ रवाना
  • कैलिफोर्निया में गैस विस्फोट से एक की मौत, 15 घायल
  • इराक में दो बम विस्फोटों में एक की मौत, 25 घायल
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 17 जुलाई)
  • ईरान के साथ युद्ध नहीं चाहते ट्रम्प : जरीफ
  • इंडोनेशिया के बाली में 5 7 तीव्रता का भूकंप
  • अफगानिस्तान में सैन्य कार्रवाई में 11 आतंकवादी ढेर
  • अमेरिका-ईरान के बीच तनाव कम करने वाला प्रस्ताव पेश करेगा फ्रांस
  • पुतिन, ट्रम्प और रूहानी से करूंगा परमाणु समझौते पर चर्चा : मैक्रॉन
खेल


विराट कोहली ने जनवरी 2017 में टीम इंडिया की कप्तानी संभालने के बाद से टीम के संयोजन में कई तरह के प्रयोग किये हैं और राहुल को तीसरे नंबर पर पिछले मैच में उतारना भी उनका एक सफल प्रयोग कहा जा सकता है। हालांकि माना जा रहा है कि अगले वर्ष विश्वकप के मद्देनज़र भी यह टीम मैनेजमेंट इस पोजिशन पर विभिन्न खिलाड़ियों को परखना चाहता है।
पिछले कुछ समय से चोटों से जूझ रहे राहुल ने 54 गेंदों में अपनी नाबाद 101 रन की 10 चौकों और पांच छक्कों से सजी पारी से अपनी फिटनेस को भी साबित किया है। वहीं ओल्ड ट्रेफर्ड में कप्तान विराट ने भी अपनी नाबाद 20 रन की पारी से सबसे तेज़ 2000 रन की उपलब्धि भी दर्ज की थी और उम्मीद है कि अगले मैच में उन्हें धुआंधार पारी खेलने का मौका मिले।
ओपनिंग में शिखर धवन और रोहित शर्मा की विशेषज्ञ जोड़ी के अलावा मध्यक्रम में सुरेश रैना, महेंद्र सिंह धोनी और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या अहम हैं लेकिन गेंदबाज़ी में एक बार फिर से कुलदीप पर निगाहें रहेंगी। चाइनामैन गेंदबाज़ ने हमेशा ही मौका मिलने पर खुद को साबित किया है और ट्वंटी 20 से पूर्व आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट पदार्पण में भी उन्होंने इसी तरह प्रभावित किया था। इस वर्ष दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ छह वनडे में उन्होंने 17 विकेट निकाले थे और उनकी निरंतरता तथा अबूझ गेंदबाज़ी ने कप्तान और मैनेजमेंट को खासा प्रभावित किया है।
वैसे गेंदबाजी में टीम के पास भुवनेश्वर कुमार, उमेश यादव, हार्दिक तेज़ गेंदबाज़ों के अच्छे विकल्प हैं जबकि युजवेंद्र अन्य उपयोगी स्पिनर हैं। लेकिन हमेशा की तरह उन्हें महंगी गेंदबाज़ी से बचना होगा। वहीं भुवी भी चार ओवर में 45 रन देकर सबसे महंगे गेंदबाज़ रहे थे और सीरीज़ कब्ज़ाने के लिहाज़ से अहम मैच में उन्हें संभलकर प्रदर्शन करना होगा।
दूसरी ओर इंग्लैंड की टीम भी करो या मरो के मैच में वापसी करना चाहेगी। आस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज़ में 5-0 से की क्लीन स्वीप से उत्साहित मेजबान टीम भारत के खिलाफ पहले ही मैच में बल्लेबाज़ी और गेंदबाज़ी में बहुत प्रभावित नहीं कर सकी अाैर जाेस बटलर की एकमात्र 69 रन की पारी ने उसे संभाला। हालांकि जेसन राॅय, एलेक्स हेल्स, कप्तान इयाेन माेर्गन तथा गेंदबाज़ों में आदिल राशिद, डेविड विली, क्रिस जार्डन तथा मोइन अली अगले मैच में बेहतर प्रदर्शन के साथ टीम को वापसी करा सकते हैं।
भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी बार वर्ष 2016-17 में अपने घरेलू मैदान पर तीन मैचों की ट्वंटी 20 सीरीज़ 2-1 से जीती थी जबकि वर्ष 2014 में आखिरी बार अपने इंग्लैंड दौरे में एकमात्र ट्वंटी 20 अंतरराष्ट्रीय मैच मेजबान टीम से गंवाया था।

प्रीति
वार्ता
More News
इस बार प्रो कबड्डी का खिताब जीतेंगे: गुजरात फार्च्यून जायंट्स

इस बार प्रो कबड्डी का खिताब जीतेंगे: गुजरात फार्च्यून जायंट्स

15 Jul 2019 | 11:27 PM

अहमदाबाद, 15 जुलाई (वार्ता) प्रो कबड्डी लीग में अपने प्रवेश के बाद से दोनों सत्रों में फाइनल तक पहुंचने वाली युवा टीम गुजरात फार्च्यून जायंट्स ने सोमवार को कहा कि इस बार यानी लीग के सीजन 7 में यह बदली हुई रणनीति के जरिये खिताब पर जरूर कब्जा जमायेगी।

see more..
राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस से हटा पाकिस्तान

राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस से हटा पाकिस्तान

15 Jul 2019 | 11:27 PM

कटक, 15 (वार्ता) ओडिशा के कटक में होने वाली 21वीं राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस चैंपियनशिप से ठीक पूर्व में पाकिस्तान इस टूर्नामेंट से हट गया है।

see more..
उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर

उत्तर कोरिया ने ताजिकिस्तान को हराया, भारत बाहर

15 Jul 2019 | 11:27 PM

अहमदाबाद, 15 जुलाई (वार्ता) उत्तर कोरिया ने शीर्ष पर चल रही टीम ताजिकिस्तान को सोमवार को 1-0 से हरा दिया और उत्तर कोरिया की इस जीत के साथ मेजबान तथा गत चैंपियन भारत इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल टूर्नामेंट से बाहर हो गया।

see more..
इंग्लैंड-न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता, बाउंड्री नियम क्रूर

इंग्लैंड-न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता, बाउंड्री नियम क्रूर

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली, 15 जुलाई (वार्ता) विश्वकप फाइनल में सुपर ओवर भी टाई हो जाने के बाद सर्वाधिक बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित करने पर पूर्व क्रिकेटरों ने आईसीसी के इस नियम को काफी क्रूर बताया और कई खिलाड़ियों ने कहा कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाना चाहिये था।

see more..
इंग्लैंड और न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता

इंग्लैंड और न्यूजीलैंड बनने चाहिये थे संयुक्त विजेता

15 Jul 2019 | 11:27 PM

नयी दिल्ली, 15 जुलाई (वार्ता) विश्वकप फाइनल में सुपर ओवर भी टाई हो जाने के बाद सर्वाधिक बाउंड्री के आधार पर इंग्लैंड को विजेता घोषित करने पर पूर्व क्रिकेटरों ने आईसीसी के इस नियम को काफी क्रूर बताया आैर कई खिलाड़ियों ने कहा कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाना चाहिये था।

see more..
image