Saturday, Jul 20 2019 | Time 14:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारतीय नागरिकों की रिहाई के लिए ईरान के संपर्क में है भारत
  • आईएमए धोखाधड़ी का आरोपी बेंगलुरु लाया गया
  • दिव्या दत्ता को गौर गोपाल दास ने उबारा डिप्रेशन से
  • ग्रीन वूड प्रोजेक्ट के तहत विकसित होंगे 35 पार्क-धारीवाल
  • मराठवाड़ा में पिछले छह महीनों में 458 किसानों ने की आत्महत्या
  • धोनी ने खुद को विंडीज़ दौरे से किया अलग
  • धोनी ने खुद को विंडीज़ दौरे से किया अलग
  • धनखड़ पश्चिम बंगाल के और फागु चौहान बिहार के नये राज्यपाल
  • पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए
  • पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए
  • राजनाथ ने कारगिल युद्ध के शहीदों को दी श्रद्धांजलि
  • रमेश बैस त्रिपुरा के तथा आर एन रवि नागालैंड के नये राज्यपाल नियुक्त
  • लाल जी टंडन को बिहार से स्थानांतरित कर मध्य प्रदेश का नया राज्यपाल बनाया गया
  • आनंदी बेन पटेल मध्य प्रदेश से स्थानांतरित कर उत्तर प्रदेश की नयी राज्यपाल बनायी गयीं
खेल


1986 के बाद से अपना दूसरा सेमीफाइनल खेल रहे बेल्जियम का इस हार के साथ पहली बार फाइनल में जाने का सपना टूट गया। इस टूर्नामेंट में अंतिम चार में पहुंचने तक शानदार प्रदर्शन करने वाले बेल्जियम को कई मौके गंवाने का अफ़सोस जरूर रहेगा जिससे उसके हाथ से इतिहास बनाने का मौका निकल गया।
बेल्जियम ने दूसरे हाफ में अपने खेल में सुधार किया लेकिन 65वें मिनट मारौन फेलिनी का हैडर गोल के पास से निकल गया। बेल्जियम ने टूर्नामेंट में पिछले पांच मैचों में 14 बार गेंद को गोल में पहुंचाया था लेकिन सेमीफाइनल में उसके खिलाड़ियों से एक बार भी गेंद गोल में नहीं पहुंच पायी।
मैच के दूसरे हाफ के शुरू में बढ़त बनाने के बाद फ्रांस ने अपने डिफेन्स को मजबूत करते हुए बेल्जियम के एडेन हेजार्ड और केविन डी ब्र्यून के खतरे को काबू रखा। बेल्जियम के फ़ॉरवर्डों को काबू में रखना ही फ्रांस की जीत का मूलमंत्र रहा।
फ्रांस की 1998 की विश्व चैंपियन टीम के कप्तान रहे और यूरो 2016 के भी कोच डीशैंप्स ने मैच के बाद कहा कि हमने मैच में मानसिक मजबूती दिखाई जो इस तरह के मुकाबले के लिए बहुत जरूरी थी। हमने अपने डिफेंस पर काफी मेहनत की हालांकि हमें अपने जवाबी हमलों में फायदा उठाने की कोशिश करनी होगी लेकिन मैं अपने सभी खिलाड़ियों और स्टाफ को बधाई देना चाहता हूं।
बेल्जियम के कोच रॉबर्टो मार्टिनेज अपनी टीम के एक निश्चित गोल को चूकने से बेहद निराश नजर आये। मार्टिनेज ने कहा कि दुर्भाग्य से मैच में सबसे बड़ा अंतर बनाये गए गोल का चूकना रहा। मुकाबला बेहद नजदीकी था और इसका फैसला गोल के सामने थोड़े भाग्य की कमी से हो गया।
राज
जारी वार्ता
More News
पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए

पटेल की शानदार पारी के बावजूद हारा भारत ए

20 Jul 2019 | 2:15 PM

कुलीगे, 20 जुलाई (वार्ता) अक्षर पटेल की आठवें नंबर पर नाबाद 81 रन की शानदार पारी के बावजूद भारत ए को मेज़बान वेस्टइंडीज़ ए के हाथों गैर आधिकारिक वनडे मैचों की सीरीज़ के चौथे मुकाबले में पांच रन से नज़दीकी हार झेलनी पड़ी है। हालांकि मेहमान टीम पांच मैचों की सीरीज़ में पहले ही 3-1 से अपराजेय बढ़त बना चुकी है।

see more..
ऐश्वर्या प्रताप ने जूनियर विश्व रिकॉर्ड के साथ जीता स्वर्ण

ऐश्वर्या प्रताप ने जूनियर विश्व रिकॉर्ड के साथ जीता स्वर्ण

20 Jul 2019 | 12:00 AM

नयी दिल्ली, 19 जुलाई (वार्ता) 18 वर्षीय ऐश्वर्या प्रताप सिंह तोमर ने जर्मनी के सुहल में आयोजित आईएसएसएफ जूनियर विश्व कप राइफल / पिस्टल / शॉटगन चैंपियनशिप के सातवें और अंतिम दिन शुक्रवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए पुरुषों की राइफल थ्री पोजीशन स्पर्धा में जूनियर विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए स्वर्ण पदक जीत लिया।

see more..
उत्तर कोरिया ने जीता इंटरकांटिनेंटल कप

उत्तर कोरिया ने जीता इंटरकांटिनेंटल कप

20 Jul 2019 | 12:00 AM

अहमदाबाद, 19 जुलाई (वार्ता) उत्तर कोरिया ने दूसरे हाफ के एकमात्र गोल की बदौलत ताजिकिस्तान को शुक्रवार को 1-0 से हराकर इंटरकांटिनेंटल कप फुटबॉल टूर्नामेंट का खिताब जीत लिया।

see more..
भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब

भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब

20 Jul 2019 | 12:00 AM

कटक, 19 जुलाई (वार्ता) भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए शुक्रवार को 21वीं राष्ट्रमंडल टेबल टेनिस प्रतियोगिता में खिताब जीत लिए।

see more..
राजा रणधीर सिंह डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित

राजा रणधीर सिंह डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित

19 Jul 2019 | 10:32 PM

अमृतसर, 19 जुलाई (वार्ता) भारतीय ओलम्पिक संघ के पूर्व महासचिव और राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलों के प्रचार के लिए राजा रणधीर सिंह और डॉ गुरतेज सिंह संधू, सीनियर फेलो एंड वाइस प्रेसीडेंट माइक्रोन टेक्नॉलॉजी को उनके अपने-अपने क्षेत्र में उत्कृष्ट उपलब्धियों और उत्कृष्ट सेवाओं के लिए गुरु नानक देव विश्वविद्यालय, अमृतसर ने शुक्रवार को डॉक्टर ऑफ साइंस की उपाधि प्रदान की।

see more..
image