Saturday, Nov 17 2018 | Time 18:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नवाब नगरी में दिखेगा सिंधू और सायना का जलवा
  • लालजी टंडन से महाराष्ट्र भाजपा के महामंत्री ने की मुलाकात
  • सीबीआई ने जीएसटी के तीन अधिकारियों को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार
  • किसान का अपमान कर रहे हैं मोदी : राहुल
  • पटना में खुले नाले में गिरा दस वर्षीय दीपक
  • सीबीआई को प्रवेश नहीं करने देने के निर्णय पर जेटली की आपत्ति
  • द अफ्रीका ने 10 ओवर मुकाबले में आस्ट्रेलिया को हराया
  • रिश्वत लेते हुए सिपाही गिरफ्तार
  • सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह के लिए मालदीव पहुंचे मोदी
  • राजनाथ से सिद्धू को सुरक्षा कवर देने की मांग
  • तेलंगाना विस चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी
  • भारत के रवि स्वर्ण से एक कदम दूर
  • भारत के रवि स्वर्ण से एक कदम दूर
  • तेलंगाना विस चुनाव के लिए कांग्रेस उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी
  • मुंगेर में तीन दिवसीय नियोजन मेला शुरू
खेल Share

1986 के बाद से अपना दूसरा सेमीफाइनल खेल रहे बेल्जियम का इस हार के साथ पहली बार फाइनल में जाने का सपना टूट गया। इस टूर्नामेंट में अंतिम चार में पहुंचने तक शानदार प्रदर्शन करने वाले बेल्जियम को कई मौके गंवाने का अफ़सोस जरूर रहेगा जिससे उसके हाथ से इतिहास बनाने का मौका निकल गया।
बेल्जियम ने दूसरे हाफ में अपने खेल में सुधार किया लेकिन 65वें मिनट मारौन फेलिनी का हैडर गोल के पास से निकल गया। बेल्जियम ने टूर्नामेंट में पिछले पांच मैचों में 14 बार गेंद को गोल में पहुंचाया था लेकिन सेमीफाइनल में उसके खिलाड़ियों से एक बार भी गेंद गोल में नहीं पहुंच पायी।
मैच के दूसरे हाफ के शुरू में बढ़त बनाने के बाद फ्रांस ने अपने डिफेन्स को मजबूत करते हुए बेल्जियम के एडेन हेजार्ड और केविन डी ब्र्यून के खतरे को काबू रखा। बेल्जियम के फ़ॉरवर्डों को काबू में रखना ही फ्रांस की जीत का मूलमंत्र रहा।
फ्रांस की 1998 की विश्व चैंपियन टीम के कप्तान रहे और यूरो 2016 के भी कोच डीशैंप्स ने मैच के बाद कहा कि हमने मैच में मानसिक मजबूती दिखाई जो इस तरह के मुकाबले के लिए बहुत जरूरी थी। हमने अपने डिफेंस पर काफी मेहनत की हालांकि हमें अपने जवाबी हमलों में फायदा उठाने की कोशिश करनी होगी लेकिन मैं अपने सभी खिलाड़ियों और स्टाफ को बधाई देना चाहता हूं।
बेल्जियम के कोच रॉबर्टो मार्टिनेज अपनी टीम के एक निश्चित गोल को चूकने से बेहद निराश नजर आये। मार्टिनेज ने कहा कि दुर्भाग्य से मैच में सबसे बड़ा अंतर बनाये गए गोल का चूकना रहा। मुकाबला बेहद नजदीकी था और इसका फैसला गोल के सामने थोड़े भाग्य की कमी से हो गया।
राज
जारी वार्ता
More News
भारत के रवि स्वर्ण से एक कदम दूर

भारत के रवि स्वर्ण से एक कदम दूर

17 Nov 2018 | 6:13 PM

बुकारेस्ट, 17 नवंबर (वार्ता) भारत के रवि कुमार यहां चल रही अंडर-23 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप के 57 किग्रा फ्री स्टाइल वर्ग के फाइनल में पहुंच गये हैं अौर स्वर्ण से एक कदम दूर रह गये हैं।

 Sharesee more..
इंग्लैंड और श्रीलंका में जीत के लिये छिड़ा संघर्ष

इंग्लैंड और श्रीलंका में जीत के लिये छिड़ा संघर्ष

17 Nov 2018 | 5:42 PM

पल्लेकेल, 17 नवंबर (वार्ता) इंग्लैंड और श्रीलंका के बीच दूसरे क्रिकेट टेस्ट में जीत हासिल करने के लिये जबरदस्त संघर्ष छिड़ गया है। मैच में चौथे दिन की समाप्ति पर दोनों टीमों के पास जीत की उम्मीद बनी हुई है। श्रीलंका को जहां जीत के लिये 75 रन चाहिये वहीं इंग्लैंड को तीन विकेट की जरूरत है।

 Sharesee more..

17 Nov 2018 | 5:42 PM

 Sharesee more..
पार्थिव पटेल शतक से चूके, विजय शंकर का अर्धशतक

पार्थिव पटेल शतक से चूके, विजय शंकर का अर्धशतक

17 Nov 2018 | 5:33 PM

माउंट मॉनगनुई, 17 नवंबर (वार्ता) विकेटकीपर पार्थिव पटेल(94) न्यूजीलैंड ए के खिलाफ पहले गैर आधिकारिक टेस्ट मैच के दूसरे दिन शनिवार को मात्र छह रनों से अपना शतक बनाने से चूक गये लेकिन उनकी इस बेहतरीन पारी से भारत ए टीम ने आठ विकेट पर 467 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी।

 Sharesee more..
image