Sunday, Nov 18 2018 | Time 23:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • खशोगी के शव के टुकड़ों को संभवत: सूटकेसों में ले जाया गया: तुर्की
  • भाजपा ने तेलंगाना के लिए जारी की छठी सूची
  • उप्र में टीईटी की परीक्षा में फर्जी पेपर एवं साल्वर समेत 35 गिरफ्तार
  • किसी को भी पंजाब में शांति एवं साम्प्रदायिक सद्भाव खराब नहीं करने दिया जाएगा: बिट्टू
  • ग्रेनेड हमले की जांच के लिए एनआईए टीम अदलीवाल पहुंची
  • प्रधानमंत्री पद की गरिमा के प्रतिकूल है मोदी का भाषण: कमलनाथ
  • पंजाब में हर कीमत पर कायम की जायेगी शांति: अमरिन्दर
  • इराक में कार बम विस्फोट में दो मरे ,15 घायल
  • कांग्रेस के स्वभाव में धोखा, जनता का विश्वास खोया: मोदी
  • सीएम ने दिये अधिकारियों को दिये तुरंत गाँव अदलीवाल पहुँचने के निर्देश
  • बिहार में सड़क दुर्घटना में 12 लोगों की मौत ,18 घायल
  • संवैधानिक संकट का सामना कर रहा देश : उदय नारायण
  • पटना के नाले में गिरे दीपक की दूसरे दिन भी तलाश जारी
  • छत्तीसगढ़ में तीसरे मोर्चे की होगी बड़ी भूमिका: रमन
  • मध्यप्रदेश में विकास ने लोगों का नजरिया बदला: जेटली
खेल Share

क्रोएशिया की ग्रुप चरण में अर्जेंटीना पर निर्धारित समय में 3-0 की जीत टूर्नामेंट में उसका सबसे प्रभावशाली प्रदर्शन रहा है। क्रोएशिया के बारे में यह तथ्य भी अहम है कि उसने नॉकआउट में तीनों मैच पिछड़ने के बाद जीते हैं जबकि टूर्नामेंट के अपने सभी छह मैचों में फ्रांस ने शुरूआत से बढ़त कायम रखी।
इंग्लैंड पर जीत के बाद उसके कोच ज्लाटको डालिस ने कहा,“ हम वह देश हैं जो कभी हार नहीं मानते हैं, हमें अपने स्वभाव पर गर्व है और हम लगातार इसे दोहराते रहेंगे।” क्रोएशिया ने भले ही छोटा देश होकर भी फाइनल में पहुंचने पर हैरान किया है, लेकिन टीम के बड़े खिलाड़ी एलीट क्लबों से खेलते हैं और काफी अनुभवी हैं, इनमें लूका मोडरिच फाइनल में अपना 112वां अंतरराष्ट्रीय मैच पूरा कर लेंगे।
टीम के स्टार मिडफील्डर मोडरिच को उनके नियंत्रित खेल के साथ बेहतरीन पास के लिये जाना जाता है। फ्रांस के लिये मोडरिच को रोकना बड़ी चुनौती होगा और एन गोलो कांते इस काम के लिये उपयुक्त माने जाते हैं। कांते बेल्जियम के खिलाफ सेमीफाइनल में फ्रांस के लिये बहुत उपयोगी रहे थे जिन्होंने टीम के डिफेंस को संभलने में मदद की।
अपनी कप्तानी में 1998 में टीम को विश्वकप दिला चुके कोच डिडियर डीशैंप्स अपनी राष्ट्रीय टीम को दोबारा चैंपियन बनाने के लिये सही रणनीति और सही संयोजन को पहचानते हैं। टीम के 19 साल के युवा स्टार काइलन एमबापे पर भी फाइनल में फिर से जादू की उम्मीद की जा रही है। उनके साथ ओलिवियर गिराउड पर भी फारवर्डों लाइन में अच्छे प्रदर्शन और टीम के लिये गोल करने की बड़ी जिम्मेदारी है।
पेरिस में हुये यूरो 2016 फाइनल में फ्रांस को पुर्तगाल पर जीत का दावेदार माना गया था लेकिन घरेलू टीम 0-1 से हार गयी। डीशैंप्स का कहना है कि वह आज भी उस दर्द को भूला नहीं सके हैं और खिलाड़ी भी क्रोएशिया के खिलाफ ऐसे किसी उलटफेर से बचने का प्रयास करेंगे।
प्रीति
वार्ता
More News
अंजुम मुद्गिल लगातार दूसरे वर्ष राष्ट्रीय चैंपियन बनी

अंजुम मुद्गिल लगातार दूसरे वर्ष राष्ट्रीय चैंपियन बनी

18 Nov 2018 | 10:42 PM

नयी दिल्ली, 18 नवम्बर (वार्ता) भारत की नंबर एक महिला 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन निशानेबाज अंजुम मुद्गिल ने केरल के त्रिवेंद्रम में चल रही 62वीं राष्ट्रीय निशानेबाजी प्रतियोगिता में रविवार को अपना राष्ट्रीय खिताब बरकरार रखा।

 Sharesee more..
फैसले से खुश नहीं हूं: सरिता

फैसले से खुश नहीं हूं: सरिता

18 Nov 2018 | 10:19 PM

नयी दिल्ली, 18 नवम्बर (वार्ता) आईबा महिला विश्व मुक्केबाजी प्रतियोगिता के राउंड 16 में उलटफेर का शिकार होकर बाहर हो जाने वाली अनुभवी मुक्केबाज एल सरिता देवी (57-60) अपने मुकाबले में जजों के फैसले से खुश नहीं हैं लेकिन वह इसके खिलाफ विरोध दर्ज नहीं कराएंगी।

 Sharesee more..
कार्तिक ने यूरो जेके और राघुल ने एलजीबी-4 का खिताब जीता

कार्तिक ने यूरो जेके और राघुल ने एलजीबी-4 का खिताब जीता

18 Nov 2018 | 9:53 PM

ग्रेटर नोयडा, 18 नवंबर (वार्ता) चेन्नई की जोड़ी कार्तिक थरानी और राघुल रंगासामी ने फार्मूला वन बुद्ध इंटरनेशनल सर्किट में रविवार को 21वीं जेके टायर एफएमएससीआई नेशनल रेसिंग चैम्पियनशिप में रोमांचक उतार-चढ़ाव से गुजरने के बाद क्रमशः यूरो जेके 2018 और एलजीबी फॉर्मूला 4 का खिताब अपने नाम कर लिया।

 Sharesee more..
विराट को सीओए के मेमो का बीसीसीआई ने किया खंडन

विराट को सीओए के मेमो का बीसीसीआई ने किया खंडन

18 Nov 2018 | 8:30 PM

मुंबई, 18 नवम्बर (वार्ता) भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने कप्तान विराट कोहली को विनम्र रहने के लिए प्रशासकों की समिति (सीओए) द्वारा मेमो भेजे जाने का सिरे से खंडन किया है।

 Sharesee more..
मैरीकॉम जीतीं, सरिता बाहर, मनीषा क्वार्टरफाइनल में

मैरीकॉम जीतीं, सरिता बाहर, मनीषा क्वार्टरफाइनल में

18 Nov 2018 | 8:09 PM

नयी दिल्ली, 18 नवंबर (वार्ता) भारत की मनीषा मौन ने धमाकेदार प्रदर्शन करते हुए विश्व चैंपियन कजाकिस्तान की डिनो झालामैन को आईबा महिला विश्व मुक्केबाजी प्रतियोगिता में रविवार को 5-0 से पीटकर बेंटमवेट 54 किग्रा वर्ग के क्वार्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया जबकि पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम (48), लवलीना बोर्गोहेन (69) और भाग्यवती काचारी (81) ने भी अपने-अपने मुकाबले जीत लिए लेकिन एल सरिता देवी (57-60) उलटफेर का शिकार होकर बाहर हो गयीं।

 Sharesee more..
image