Wednesday, Sep 19 2018 | Time 08:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दोनों कोरियाई देश संयुक्त वक्तव्य पर करेंगे हस्ताक्षर
  • चीन-पाकिस्तान के सैन्य संबंध दोनों देशों के रिश्तों की ‘रीढ़’: चीन
  • मैटिस ने अपने इस्तीफे की खबरों को किया खारिज
  • यमन के लाल सागर में 17 मछुआरों की हत्या
  • अमेरिका और पोलैंड करेंगे सैन्य और खुफिया संबंधों को सुदृढ़
  • आईसीसी ने शुरू की म्यांमार से रोहिंग्याओं के पलायन की जांच
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • गाजा में प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी, दो की मौत 46 घायल
  • प्रधानमंत्री से सिक्किम दौरा स्थगित करने की मांग
खेल Share

बोपन्ना-दिविज की शीर्ष वरीय जोड़ी ने मैच में तीन में से दो ब्रेक अंक भुनाये और पहले सर्व पर 87 फीसदी अंक बटोरे। उन्होंने कुल 30 विनर्स लगाये। कजाख जोड़ी ने दूसरी ओर चार डबल फाल्ट किये और 11 बेजां भूलें की। उनके पास भारतीय जोड़ी की चार बार सर्विस ब्रेक करने का मौका आया लेकिन वह एक भी ब्रेक अंक नहीं भुना सके।
भारतीय खिलाड़ियों के लिये मैच लगभग एकतरफा रहा और उन्होंने विपक्षी खिलाड़ियों की सर्विस ब्रेक कर 4-1 की बढ़त बना ली और फिर स्कोर 5-3 किया जबकि बोपन्ना ने जबरदस्त सर्व करते हुये पहला सेट जीत भारत को 1-0 की बढ़त दिला दी। कजाख खिलाड़ी लगातार बेजां भूलें करते रहे।
बोपन्ना-दिविज ने अपने अनुभव का फायदा उठाते हुये कहीं बेहतर रणनीति के साथ खेला। बोपन्ना बेसलाइन पर मोर्च संभाल रहे थे तो शरण ने कोर्ट पर अच्छा नियंत्रण दिखाया। दूसरे सेट में कजाख जोड़ी ने वापसी का प्रयास करते हुये स्कोर 3-3 पर बराबर किया लेकिन शीर्ष वरीय भारतीय जोड़ी ने उनकी सर्विस ब्रेक करते हुये 5-3 से बढ़त बना ली।
मैच में 40-0 पर फिर बोपन्ना ने बेहतरीन सर्विस की लेकिन कजाख जोड़ी रिटर्न पर गलती कर बैठी और उनका शॉट नेट में फंस गया जिसके साथ ही भारत ने दूसरा सेट जीतने के साथ स्वर्ण पर कब्जा कर लिया। मैच समाप्ति के बाद बोपन्ना ने कहा,“ एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतना बहुत अच्छा अहसास है। हमें खुशी है कि हमने चार वर्ष बाद फिर से अपना खिताब हासिल कर लिया है। हमने एक टीम के तौर पर अच्छा प्रदर्शन किया और इसी से हमें सफलता मिली।”
उन्होंने कहा,“ कजाखिस्तान की टीम ने अच्छा खेल दिखाया और हमें चुनौती दी। लेकिन हमें पता था कि हम विपक्षी टीम को नियंत्रित कर सकते हैं। हमने योजना से खेला और खिताब वापिस जीता।”
पुरूष एकल में अब निगाहें प्रजनेश गुणेश्वरन पर लगी हैं जो सेमीफाइनल मैच में उज्बेकिस्तान के अनुभवी डेनिस इस्तोमिन के खिलाफ उतरेंगे।
प्रीति
वार्ता
More News

19 Sep 2018 | 1:12 AM

 Sharesee more..

हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे

19 Sep 2018 | 1:06 AM

 Sharesee more..

साजन को रजत, विजय को कांस्य

18 Sep 2018 | 11:51 PM

 Sharesee more..
शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285

शिखर के विस्फोटक शतक से भारत के 285

18 Sep 2018 | 9:13 PM

दुबई, 18 सितम्बर (वार्ता) इंग्लैंड में टेस्ट सीरीज में रनों के लिए तरस रहे बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन ने हांगकांग के गेंदबाजों की बेरहमी से धुनाई करते हुए मात्र 120 गेंदों में 127 रन ठोके जिसकी बदौलत भारत ने हांगकांग के खिलाफ एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के ग्रुप ए मुकाबले में मंगलवार को 50 ओवर में सात विकेट पर 285 रन बना लिए।

 Sharesee more..

18 Sep 2018 | 9:11 PM

 Sharesee more..
image