Saturday, Jul 20 2019 | Time 23:11 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पुलिस थानों को गृह मंत्रालय से जोड़ा जायेगा: रेड्डी
  • डीजीपी का निर्देश- एलसीबी में एसपी के नाकाबिल चहेते न हो भर्ती, मीडिया में छाने की प्रवृत्ति वालों को रखो दूर
  • खट्टर और अभिमन्यु का शीला दीक्षित के निधन पर शोक
  • ढाई लाख से अधिक श्रद्धालु पवित्र शिवलिंग का कर चुके दर्शन
  • हरियाणा खट्टर-घोषणाएं दो अंतिम चंडीगढ़
  • नगर कार्यपालक पदाधिकारी रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • कर्मचारियों को 7वें वेतनायोग की तर्ज पर किराया भत्ता, मृतकों के आश्रितों हेतु अनुग्रह राशि योजना
  • मौसम विभाग ने एक और दिन के लिए बढ़ायी भारी वर्षा की चेतावनी, कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बरसात
  • रेव पार्टी: एक महिला डांसर समेत पांच लोग गिरफ्तार
  • शीला दीक्षित के निधन पर एसोचैम ने जताया शोक
  • मोदी, प्रणब, सोनिया समेत कई नेताओं ने दी शीला को श्रद्धांजलि
  • सुशील के वज़न वर्ग में होगा घमासान
  • सुशील के वज़न वर्ग में होगा घमासान
  • पुन: जारी राजनीति नर्मदा गुजरात मुख्यमंत्री दो अंतिम गांधीनगर
  • दुष्कर्म के मामले में दोषी युवक को 10 साल की सजा
खेल


सेना में नायब सूबेदार के पद पर कार्यरत अमित के लिये फाइनल मुकाबला बहुत ही चुनौतीपूर्ण माना जा रहा था जहां उनके सामने ओलंपिक चैंपियन हसनब्वॉय थे लेकिन भारतीय खिलाड़ी ने शुरूआत से ही अपनी रक्षात्मक शैली से उलट आक्रामकता के साथ खेला जबकि उज्बेक पहलवान पहले राउंड में केवल रक्षात्मक खेलते रहे।
अमित ने दूसरे राउंड में लगातार तीन पंच लगाकर अंक बटोरे। उन्होंने 25 वर्षीय विपक्षी मुक्केबाज़ के सिर के पीछे भी पंच जड़े, हालांकि इससे उन्हें अंक नहीं मिले लेकिन हसनब्वॉय इससे कमजोर जरूर पड़े। उज्बेक मुक्केबाज़ ने भी वापसी करते हुये अच्छे पंच जड़े, हालांकि भारतीय खिलाड़ी का पलड़ा दो राउंड के बाद भारी ही रहा।
तीसरा राउंड और भी रोमांचक रहा जिसमें अमित ने आक्रामकता दिखाने के साथ काफी बचाव भी किया और बायीं एवं दायीं ओर से हुक्स लगाये। उन्होंने हसनब्वॉय के सामने अपनी लंबी कदकाठी का भी फायदा उठाया और आखिरी 15 सेकंड में उज्बेक मुक्केबाज़ के चेहरे पर लगातार पंच जड़े। अमित ने तीसरे राउंड के निर्णायक पलों में किलर पंच लगाकर जो अंक बटोरा वह उन्हें जीत दिलाने के लिये निर्णायक साबित हुआ।
रोहतक में जन्मे अमित ने 2008 में मुक्केबाजी शुरू की थी। उन्होंने इस साल गोल्डकोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक हासिल किया था जबकि इसी साल बुल्गारिया के सोफिया में हुए स्ट्रैंडजा मैमोरियल टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक जीता था। भारतीय सेना ने 2017 में अमित को महार रेजीमेंट में नियुक्त किया था।
वर्ष 2016 में सीनियर मुक्केबाजी में प्रवेश करने वाले अमित ने 2017 एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य जीता था जबकि हसनब्वॉय विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता और 2015 तथा 2017 एशियाई चैंपियनशिप के विजेता रहे थे।
राज प्रीति
वार्ता
More News
टोक्यो में दोहरी पदक संख्या का लक्ष्य: बत्रा

टोक्यो में दोहरी पदक संख्या का लक्ष्य: बत्रा

20 Jul 2019 | 9:05 PM

आगरा, 20 जुलाई (वार्ता) भारतीय ओलम्पिक संघ के अध्यक्ष डॉ नरेंद्र ध्रुव बत्रा ने कहा है कि उनकी नजरें अगले साल के टोक्यो ओलम्पिक में दोहरी संख्या में पदक जीतने पर टिकी हुई हैं।

see more..
खालसा हाॅकी अकादमी की 7 खिलाड़ियों को वजीफा

खालसा हाॅकी अकादमी की 7 खिलाड़ियों को वजीफा

20 Jul 2019 | 7:47 PM

अमृतसर, 20 जुलाई (वार्ता) पंजाब में अमृतसर के खालसा कालेज चेरिटेबल सोसायटी के अधीन चल रही खालसा हाॅकी अकादमी (लड़कियों) की सात खिलाड़ियों को खेलों में शानदार गतिविधियों के कारण भारत की सर्वोत्तम तेल कंपनी इंडियन आयल कारपोरेशन, नई दिल्ली की ओर से वजीफा देकर सम्मानित किया गया है।

see more..
शिवा थापा ने प्रेसीडेंट कप में जीता स्वर्ण

शिवा थापा ने प्रेसीडेंट कप में जीता स्वर्ण

20 Jul 2019 | 7:39 PM

नयी दिल्ली, 20 जुलाई (वार्ता) चार बार के एशियाई चैंपियनशिप के पदक विजेता शिवा थापा ने कजाखस्तान में नूर सुलतान में आयोजित प्रेसीडेंट कप मुक्केबाजी टूर्नामेंट में 63 किग्रा वर्ग में स्वर्ण पदक जीत लिया जबकि महिला मुक्केबाज परवीन के हिस्से में 60 किग्रा वर्ग में रजत पदक आया।

see more..
शीला दीक्षित दिल्ली के खिलाड़ियों की सबसे बड़ी हमदर्द थीं : सतपाल

शीला दीक्षित दिल्ली के खिलाड़ियों की सबसे बड़ी हमदर्द थीं : सतपाल

20 Jul 2019 | 7:10 PM

नयी दिल्ली, 20 जुलाई (वार्ता) द्रोणाचार्य अवार्डी महाबली सतपाल ने दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के निधन पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा है कि वह दिल्ली के खिलाडियों की सबसे बड़ी हमदर्द थीं।

see more..
सुशील के वज़न वर्ग में होगा घमासान

सुशील के वज़न वर्ग में होगा घमासान

20 Jul 2019 | 6:56 PM

नयी दिल्ली, 20 जुलाई (वार्ता) भारतीय कुश्ती महासंघ टोक्यो ओलंपिक के लिये पहली क्वालिफाइंग प्रतियोगिता विश्व चैंपियनशिप के लिये चयन ट्रायल आयोजित करेगा और इसमें दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार के 74 किग्रा वर्ग में जगह बनाने के लिये घमासान होगा।

see more..
image