Sunday, Jul 21 2019 | Time 09:44 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जापान में ऊपरी सदन के लिए मतदान शुरू
  • भाजपा नेता मांगे राम गर्ग का निधन
  • न्यूजीलैंड में भूकंप के तेज झटके
  • शाहजहांपुर सड़क दुर्घटना में 17 कांवडिये घायल
  • सम्भल में दो कांस्टेबलों की हत्या करने वाला इनामी बदमाश कमल मुठभेड़ में ढेर
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 22 जुलाई)
  • ईरान की संपत्ति जब्त कर सकता है ब्रिटेन
  • हवाई हमले में तीन आईएस आतंकवादियों की मौत
  • ब्रिटिश एयरवेज ने काहिरा के लिए सात दिनों तक सेवा निलंबित की
  • पापुआ न्यू ग्यूनिया में 5 6 तीव्रता के भूंकप के झटके
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • हिमा का विजय अभियान जारी, जीता पांचवां स्वर्ण
  • शिकागो में गोलीबारी, दो की मौत, 19 घायल
  • नेतन्याहू ने बनाया इजरायल के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने का रिकॉर्ड
  • बहरीन ने ब्रिटेन का टैंकर कब्जे में लेने पर ईरान की आलोचना की
राज्य


लोकरूचि दुकान संदेश दो अंतिम खरगोन

पवन ने बताया कि सरकार की अपनी मजबूरियां हो सकती हैं कि वह बिहार और गुजरात की तरह मध्य प्रदेश में शराबबंदी फिलहाल लागू नहीं कर पाई है। पवन ने कहा कि वह कोई समाज सुधारक या सामाजिक कार्यकर्ता नहीं है किंतु उसकी छोटी सी दुकान में संचालित अपने व्यवसाय में ऐसा कदम उठाकर समाज के प्रति योगदान देना उनकी सीमा में था।
कसरावद में टाइल्स का व्यवसाय करने वाले रवि दसेरा ने बताया कि वह 5 किलोमीटर दूर भीलगांव में पवन के पास दाढ़ी कटिंग बनवाने आते हैं। उन्होंने बताया कि उसकी दुकान में कम से कम यह ग्यारंटी रहती है कि शराब का सेवन किए हुए व्यक्ति नहीं मिलेंगे। पवन का इस तरह का बायकॉट करना भी एक तरह का शराब सेवन का विरोध है, और समाज सुधार का अनूठा तरीका है।
भील गांव से 3 किलोमीटर दूर अरिहंत नगर में रहने वाले सतपाल बज्जड एक फैक्ट्री में सुपरवाइजर के रूप में कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि वह भी पवन के पास दाढ़ी और कटिंग बनवाने आते हैं और पवन का कदम अनुकरणीय है। अरिहंत नगर के एक ठेकेदार राजू पाटीदार भी पवन के ग्राहक हैं और वह भी नशा बहुल क्षेत्र में उसके इस साहसिक कदम से खुश हैं।
भील गांव के पूर्व उप सरपंच कन्हैया पाटीदार ने कहा कि पवन का यह छोटा कदम बड़ा संदेश दे रहा है। उन्होंने बताया कि वे भी उस तख्ती के कारण ही पवन की दुकान पर आ रहे हैं। उसने अपने हुनर के चलते एक स्थान पर बैठे हुए सैकड़ों लोगों को इस सामाजिक बुराई से दूर रहने का संदेश दे दिया।
सं बघेल
वार्ता
More News
बंटवारे के समय पाकिस्तान नहीं जाने की मुस्लिमों को मिल रही है सजा : आजम

बंटवारे के समय पाकिस्तान नहीं जाने की मुस्लिमों को मिल रही है सजा : आजम

21 Jul 2019 | 12:03 AM

लखनऊ 20 जुलाई (वार्ता) विवादित बयानों के लिये चर्चित समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद मोहम्मद आजम खां ने शनिवार को कथित रूप से कहा कि 1947 में बंटवारे के समय पाकिस्तान नही जाने की सजा देश के मुस्लिम समुदाय को दी जा रही है।

see more..
image