Tuesday, Nov 20 2018 | Time 05:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • स्टालिन ने पलानीस्वामी की तुलना नीरो से की
  • पाकिस्तान की कृष्णा कोहली प्रभावशाली महिलाओं की सूची में शामिल
  • चीन में 28 ट्रक आपस में टकराये, तीन की मौत
  • कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत को शीर्ष 50 में पहुंचाने का लक्ष्य: मोदी
  • सऊदी सुल्तान की ईरान के परमाणु कार्यक्रमों के खिलाफ कार्रवाई की अपील
राज्य Share

तेज बारिश से खेत में भरा पानी, फसलों का नुकसान

अशोकनगर, 03 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के अशोकनगर जिले में तेज बारिश से भारी नुकसान होने का मामला सामाने आया है।
जिले में दो दिनों से हो रही तेज बारिश के चलते हजारों बीघा की फसल पानी के बहाव में उखड़कर चौपट हो गई है, तो कई खेतों में अभी भी फसलें पानी में डूबी हुई हैं। सैंकड़ों मकान ढ़ह गए हैं। कई घरों में पानी भरा होने से चंदेरी साड़ी के लूम डूबे रहे, इससे साडिय़ां भीग गईं और लूम में लगा साडिय़ों का धागा भी पूरी तरह से खराब हो चुका है। तेज बारिश की हुई तबाही से करोड़ों रुपए का नुकसान बता रहे हैं, हालांकि फसल एवं अन्य नुकसान के आकंड़ों अब तक आधिकारिक खुलासा नहीं किया गया है।
जिले के बरखेड़ाछज्जू तालाब फुल भरने से सुमेर और आसपास के गांवों में पानी भरने की आशंका को देखते हुए जलसंसाधन विभाग को तालाब से पानी निकालना पड़ा। वहीं तालाब के डूब क्षेत्र में बने मकानों में भी पानी भरने की आशंका थी। पानी में किसानों की सोयाबीन की फसल डूब गई, तो वहीं चंदेरी के निदानपुर, खैरा, हसारी और गोधन गांव की फसल नदी के तेज बहाव से उखड़ गई। इसके अलावा जिले भर में सैंकड़ों मकान भी ढ़ह गए हैं और लोगों को रहने के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
चंदेरी के वार्ड क्रमांक 13 और 16 के कुछ क्षेत्र में दूसरे दिन भी घरों में पानी भरा रहा, इससे करीब पांच से छह लूम दूसरे दिन भी पानी में डूबे रहे। बुनकर रवि कोली पुत्र नारायण कोली, मुन्नीबाई कोली और भागवती कोली ने बताया कि बारिश से जहां करीब 25 घरों में चंदेरी साड़ी के लूम डूबे रहे। इससे बुनकर को काफी नुकसान हुआ है।
जिले में जलसंसाधन विभाग के 33 तालाब हैं, दो दिन पहले तक इनमें से मात्र 9 तालाब ही पूरे भर चुके थे और शेष खाली थे। वहीं ज्यादातर में पानी डेड लेवल तक ही था। लेकिन इस तेज बारिश की वजह से 26 तालाब फुल हो चुके हैं। पानी भरने की वजह से आरोन रोड का पुराना रास्ता तो डूब ही चुका है, वहीं बनाए गए नए रास्ते पर भी कटाव होने लगा है।
बारिश से हुए नुकसान के बाद राहत जारी किए जाने के संबंध में एसडीएम नीलेश शर्मा का कहना है कि सभी बाढ़ पीडि़त परिवारों के लिए आर्थिक सहायता के प्रकरण तैयार कर लिए गए हैं, एक या दो दिन में उन्हें आर्थिक सहायता उपलब्ध करा दी जाएगी। उनके ठहरने और भोजन की व्यवस्था प्रशासन कर रहा है और स्कूल खुलने के बाद पीडि़त लोगों के ठहरने की व्यवस्था की जाएगी।
सं नाग
वार्ता
More News
राफेल विवाद से वायु सेना की छवि पर असर नहीं पड़ेगा: नांबियार

राफेल विवाद से वायु सेना की छवि पर असर नहीं पड़ेगा: नांबियार

19 Nov 2018 | 11:00 PM

गुवाहाटी 19 नवंबर (वार्ता) वायु सेना के उप प्रमुख एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने सोमवार को कहा कि लड़ाकू विमान राफेल सौदे को लेकर विवाद का असर वायु सेना की छवि पर नहीं पड़ेगा।

 Sharesee more..
image