Tuesday, Apr 23 2019 | Time 07:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तीसरे चरण में 116 लोकसभा सीटों के लिए मतदान शुरू
  • नाइजीरिया में भीड़ के बीच घुसी गाड़ी, 11 की मौत 30 घायल
  • यमन के विद्रोहियों ने सउदी के दो जासूसी ड्रोन को मार गिराने का दावा किया
  • ईरान के रक्षा मंत्री सुरक्षा सम्मेलन में भाग लेने मॉस्को जाएंगे
  • वियतनाम के पूर्व राष्ट्रपति ली डुक अनह का निधन
  • श्रीलंका पुलिस ने हमले के मामले में पांच और संदिग्ध को किया गिरफ्तार
  • फिलीपींस में भूकंप से छह लोगों की मौत
राज्य


शून्य फीस नियम बहाल करने की मांग को लेकर डीएएसएफआई ने किया प्रदर्शन

हिसार, 04 सितंबर (वार्ता) डॉ अंबेडकर स्टूडेंट्स फ्रंट ऑफ इंडिया (डीएएसएफआई) ने उच्चतर शिक्षा विभाग की ओर से अनुसूचित जाति, जनजाति छात्रों के दाखिले में शून्य फीस नियम बहाल करने की मांग को लेकर आज हिसार में लघु सचिवालय पर प्रदर्शन किया।
प्रदर्शनकारियों ने उपायुक्त कार्यालय को ज्ञापन सौंपते हुए नियम को रद्द करने का फरमान तुरंत प्रभाव से वापस लेने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर विभाग ने अपना फैसला नहीं बदला तो छात्रों का यह आंदोलन प्रदेश स्तर पर शुरू कर दिया जाएगा। इससे पूर्व छात्रों को संबोधित करते हुए छात्र नेता रवि धानिया ने कहा कि उच्चतर शिक्षा विभाग ने शून्य फीस नियम को रद्द करे गरीब व वंचित छात्रों के हितों पर कुठाराघात किया है। उन्होंने कहा कि छात्र संगठन पिछले एक सप्ताह से इस मुद्दे पर विभिन्न माध्यमों से मुख्यमंत्री व विभाग के उच्चाधिकारियों के नाम ज्ञापन सौंप चुके हैं लेकिन अभी तक विभाग की वेबसाइट पर इस बारे में कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया।
डीएएसएफआई के प्रदेश महासचिव रोहिता रंगा ने कहा कि विभाग के फरमान के बाद कॉलेज प्रशासन भी संबंधित विद्यार्थियों पर फीस जमा कराने का दबाव बना रहे हैं और फीस जमा न कराने की सूरत में विद्यार्थियों को नाम काटने की धमकी दी जा रही है।
सं महेश विक्रम
वार्ता
image