Saturday, Jan 19 2019 | Time 13:45 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में एक सप्ताह बाद लौटे भाजपा विधायक
  • बाबुल सुप्रियो का तृणमूल कांग्रेस की विशाल रैली पर कटाक्ष
  • कमजोर लोगों पर हमला करता है डिमेंशिया
  • ठेके पर शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव नहीं हो सका पारित
  • कोलकाता में ‘पाखंड शो’: बाबुल सुप्रियो
  • श्रीनगर हवाई अड्डे पर उड़ानें बाधित
  • लद्दाख में हिमस्खलन में मरने वालों की संख्या पांच हुई
  • कुम्भ के लिये सात हजार क्यूसेक जल का अतिरिक्त प्रवाह
  • दक्षिण भारत पर हमले की साजिश नाकाम, तीन गिरफ्तार
  • अमेरिका, उत्तर कोरिया के बीच कार्यकारी स्तर की ‘सार्थक’ बैठक
  • लीबिया में सशस्त्र लड़ाकों की झड़पों में 13 मरे, 52 घायल
  • सबरीमला: अयप्पा मंदिर में 51 महिलाओं के प्रवेश का कोई सबूत नहीं
  • मेक्सिको में तेल पाइपलाइन में विस्फोट, 20 मरे, 54 घायल
  • सबरीमला : केरल पुलिस ने 67,094 लोगों पर मामला दर्ज
  • अमेरिका में पुलिसकर्मी को सात साल की सजा
राज्य Share

त्रिवेंद्र ने शिक्षकों को दी शुभकामनाएं

देहरादून 04 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शिक्षक दिवस के अवसर पर प्रदेश के सभी शिक्षकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी।
सिंगापुर दौरे पर गये श्री रावत की ओर से यहां जारी संदेश में कहा गया है कि शिक्षकों का हमारे जीवन में बहुत बड़ा योगदान है। शिक्षक विद्यार्थी के जीवन में ज्ञान का संचार करने के साथ ही देश के मजबूत भविष्य की बुनियाद भी रखते हैं। समाज में नवजागरण के साथ ही उसे नई दिशा देने में भी शिक्षकों का महत्वपूर्ण योगदान होता है।
उन्होंने कहा कि हमारे जीवन में माता-पिता के पश्चात सबसे महत्वपूर्ण स्थान शिक्षकों का ही होता है। देश के पूर्व राष्ट्रपति, शिक्षाविद् एवं दार्शनिक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन को शिक्षक दिवस के रूप में मनाना हम सभी के लिये गर्व की बात है। यह दिन उस महान व्यक्तित्व को नमन करने का भी दिन है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार शिक्षा के उन्नयन और सम्पूर्ण शिक्षित समाज की परिकल्पना को साकार करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने शिक्षकों से राज्य में शिक्षा के स्तर को ऊंचाई पर ले जाने के लिए हर सम्भव सहयोग करने की अपील भी की। उन्होंने इस अवसर पर शिक्षकों को देश के भविष्य का निर्माता बताते हुए युवा पीढ़ी का आह्वान किया कि वे शिक्षकों को समुचित मान-सम्मान दें।
सं. उप्रेती
वार्ता
image