Thursday, May 28 2020 | Time 23:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में राजकीय समारोह के रूप मे मनाई जाएगी पूर्व केंद्रीय मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस की जयंती
  • केरल में कोरोना के 84 नए मामले, 526 मरीजों का इलाज जारी : मुख्यमंत्री
  • महाराष्ट्र सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी: मलिक
  • विश्व में कोरोना से 57 31 संक्रमित,3 56 लाख की मौत
  • बासुकीनाथ में पूजा शुरू करने को लेकर पूर्व में जारी निर्देश ही प्रभावी: उपायुक्त
  • डीयू के नए सत्र के लिए आठ से 30 जून तक होंगे रजिस्ट्रेशन
  • बिहार में 149 को कोरोना ने किया बीमार, 3185 पॉजिटिव
  • कोरोना: अमित शाह ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से की बात
  • झारखंड में रांची समेत पांच जिले में मिले 12 पॉजिटिव, संक्रमित की संख्या 470
  • राजस्थान में कोरोना संक्रमित संख्या आठ हजार पार, सात की मौत
  • मेरठ में दो नये कोरोना पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या पहुंची 400
  • मणिपुर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 55 हुई
  • उत्तर प्रदेश-लीड कोरोना आजमगढ़
  • सुपौल में पिकअप वैन से कुचलकर किशोर की मौत
  • बिहार में दो प्रवासी मजदूर की मौत
राज्य


करोड़ों के गबन मामले में नाजिर को दस वर्ष की सजा

पटना 04 सितंबर (वार्ता) बिहार की राजधानी पटना स्थित एक विशेष अदालत ने करीब एक करोड़ 15 लाख रुपये की सरकारी राशि की धोखाधड़ी, जालसाजी एवं आपराधिक षड्यंत्र के तहत पद का भ्रष्ट दुरुपयोग करते हुये गबन के मामले में बक्सर समाहरणालय के एक तत्कालीन सहायक नाजिर को आज दस वर्ष सश्रम कारावास के साथ दो लाख 75 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई।
निगरानी (प्रथम) अदालत के विशेष न्यायाधीश मधुकर कुमार ने मामले में सुनवाई के बाद बक्सर जिला समाहरणालय के तत्कालीन लिपिक सह सहायक नाजिर पंकज कुमार सिंह को भारतीय दंड विधान एवं भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम की अलग-अलग धाराओं में दोषी करार देने के बाद यह सजा सुनाई है। जुर्माने की राशि अदा नहीं करने पर दोषी को दो वर्ष नौ माह कारावास की सजा अलग से भुगतनी होगी।
मामले की प्राथमिकी बक्सर नगर थाने में 05 मई 2016 को दर्ज की गई थी। आरोप के अनुसार, उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के मूल निवासी सहायक नाजिर पंकज कुमार सिंह ने अपने सरकारी पद का भ्रष्ट दुरुपयोग करते हुये बक्सर जिला नजारत शाखा से मुख्यमंत्री सेतु निर्माण योजना मद से सक्षम पदाधिकारियों का जाली हस्ताक्षर करके फर्जी चेक के माध्यम से एक करोड़ 15 लाख 74 हजार 576 रुपये का गबन किया था।
सं सूरज सतीश
वार्ता
image