Sunday, Sep 23 2018 | Time 10:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ईरान में हो सकती है क्रांति: गुलियानी
  • चीन ने अमेरिका के साथ सैन्य वार्ता रद्द की
  • सीरियाई विद्रोही इदलिब में तुर्की से करेंगे सहयोग
  • नाइजीरिया में नौका से चालक दल के 12 सदस्यों का अपहरण
  • उ कोरिया को ईंधन देने वालों पर प्रतिबंध लगाया जाएगा : अमेरिका
  • साेमालिया में दो कार बम विस्फोट, दो घायल
  • तंजानिया नौका हादसे में मृतकों की संख्या 218 हुई
  • नन से दुष्कर्म के आरोपी बिशप की जमानत याचिका खारिज
  • सैन्य परेड पर हमले में अमेरिकी सहयोगियों का हाथ : खोमैनी
  • अमेरिकी सेना का 18 आतंकवादियों को मारने का दावा
राज्य » उत्तर प्रदेश Share

शिक्षित व्यक्ति ही समाज को अच्छा नेतृत्व दे सकता है:योगी

शिक्षित व्यक्ति ही समाज को अच्छा नेतृत्व दे सकता है:योगी

लखनऊ 04 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि शिक्षक समाज का एक महत्वपूर्ण अंग है और शिक्षित व्यक्ति ही समाज को अच्छा नेतृत्व दे सकता है।

श्री योगी ने कहा कि एक शिक्षक लोगों को अपने कर्तव्यों के प्रति जागरूक करता है। शिक्षक को जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में प्रतिभा दिखानी चाहिए। शिक्षक शिक्षा के माध्यम से गांवों के विकास को गति देने में सहायक होता है। जब हमारे गांव सम्पन्न होंगे, तो हमारा देश व प्रदेश भी खुशहाल होगा।

मुख्यमंत्री ने यह विचार मंगलवार को यहां डाॅ0 राम मनोहर लोहिया विधि विश्वविद्यालय में आयोजित परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों के नवनियुक्त शिक्षकों को नियुक्ति-पत्र वितरण समारोह के दौरान व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि आज का दिन आपके (शिक्षकों) जीवन के लिए अविस्मरणीय है, क्योंकि यह नियुक्ति-पत्र आपको शिक्षक दिवस की पूर्व संध्या पर वितरित किया जा रहा है। शिक्षक के रूप में आपको जीवन में सर्वश्रेष्ठ करने का अवसर प्राप्त होगा।

इस अवसर पर 16 जिलाें गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, लखनऊ, गोण्डा, बलरामपुर, बहराइच, श्रावस्ती, रायबरेली, उन्नाव, लखीमपुर खीरी, हरदोई, सीतापुर, कानपुर नगर, कानपुर देहात व फतेहपुर के लगभग 3,000 नवनियुक्त सहायक अध्यापकों को नियुक्ति-पत्र प्रदान किए गये। मुख्यमंत्री ने 32 नवनियुक्त शिक्षकों को स्वयं नियुक्ति-पत्र प्रदान किये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक शिक्षक समाज के लिए कितना उपयोगी हो सकता है, यह सर्वविदित है। शिक्षक अपने विद्यार्थियों के साथ मानवीय संवेदना स्थापित करते हुए कार्य करें, तो इसके बेहतर परिणाम भी देखने को मिलेंगे। राज्य सरकार ने ‘स्कूल चलो अभियान’ चलाया, जिससे विद्यार्थियों में आशातीत वृद्धि हुई और इस समय एक करोड़ 77 लाख विद्यार्थी प्राथमिक विद्यालयाें में पंजीकृत हैं। उन्होंने शिक्षकों से आह्वान किया कि वे शिक्षा देने तक सीमित न रहकर अपने विद्यार्थियों के परिवार से भी जुड़ने का कार्य करें, जिससे वे शासन की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकें।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने कायाकल्प योजना भी शुरू की है, जिसके माध्यम से विद्यालयों में बुनियादी आवश्यकताओं को मुहैया कराया जा रहा है। इसमें जनप्रतिनिधिगण, प्रशासनिक अधिकारी, पुलिस अधिकारी और अन्य सहभागी बन रहे हैं।

त्यागी तेज

जारी वार्ता

image