Friday, Jul 19 2019 | Time 22:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पीडीपी नेता के पीएसओ की गोली मारकर हत्या
  • एटा में पूर्व विधायक के आवास पर फायरिंग, मामला दर्ज
  • भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब
  • भारतीय पुरुष और महिला टीमों ने जीते राष्ट्रमंडल टेटे खिताब
  • विश्वास मत पर आज भी नहीं हुआ मतदान, कार्यवाही सोमवार तक स्थगित
  • एसटीएफ ने दो लाख 42 हजार के जाली नोट पकड़े, पांच गिरफ्तार
  • बिहार में विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक वातावरण में हो रहा सुधार : लालजी
  • नवादा में वज्रपात की घटना में आठ बच्चे समेत नौ की मौत, आठ घायल
  • मवेशी चोरी के आरोप में तीन लोगों के हत्या मामले में सात गिरफ्तार
  • डॉल्फिन मारने वाला गिरफ्तार
  • वज्रपात से आठ बच्चों की मौत से लालजी टंडन मर्माहत
  • अरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके
  • छात्रों और शिक्षकों पर लाठियां बरसाने से बेहतर नहीं होगी शिक्षा : उपेंद्र
  • नीतीश ने वज्रपात से आठ बच्चों की मौत पर जताया शोक, मुआवजे की घोषणा
  • प्रियंका को सोनभद्र जाने से रोकने के खिलाफ वाराणसी में कांग्रेस का प्रदर्शन
राज्य


डूंगरपुर में खुला देश का पहला रोटी बैंक

डूंगरपुर (राजस्थान) 05 सितंबर (वार्ता) दक्षिणी राजस्थान के छोटे शहर डूंगरपुर में देश का पहला रोटी बैंक खोला गया है जहां कोई भी व्यक्ति नि:शुल्क दोपहर का भोजन कर सकता है।
शहर में अपनी तरह की यह अनोखी पहल नगर परिषद के अस्पताल में की गयी है। इसके लिए डूंगरपुर नगर परिषद ने स्थान उपलब्थ कराया है जबकि दिन-प्रतिदिन की व्यवस्था का जिम्मा शहर के समाजसेवियों ने उठाया है। नगर परिषद के सभापति एवं स्वच्छ राजस्थान के ब्रांड एम्बेसडर के.के.गुप्ता की पहल पर यह रोटी बैंक खोलने का निर्णय लिया है। पिछले सप्ताह इस बैंक खोलने की घोषणा की गयी थी।
श्री गुप्ता ने बताया कि शहर में इस जिले का एकमात्र अस्पताल है। मरीजों को तो भोजन अस्पताल उपलब्ध करा देता है लेकिन उनके तिमारदारों को भोजन के लिए परेशान होना पड़ता है। शहर में पर्याप्त होटल या धर्मशाला भी उपलब्ध नहीं है। आस-पास के क्षेत्रों में इस शहर का प्रमुख स्थान है। यहां सरकारी नौकरियों के लिए परीक्षाएं आयोजित की जाती हैं। परीक्षार्थियों को रहने और खाने की भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। इसी को ध्यान में रखकर रोटी बैंक की शुरूआत की गयी है।
उन्होंने बताया कि इस बैंक से कोई भी व्यक्ति नि:शुल्क रोटी प्राप्त कर सकता है। कोई व्यक्ति चाहे तो धन या श्रम का दान भी कर सकता है।
उन्होंने कहा कि रोटी बैंक के संचालन के लिये एक ट्रस्ट की स्थापना की गयी है। कोई भी व्यक्ति एक लाख रुपए दान करके इसका ट्रस्टी बन सकता है। इसके अलावा कोई भी व्यक्ति विशेष अवसरों जैसे जन्मदिवस, जयंती या पुण्यतिथि तथा त्योहारों पर भोजन की व्यवस्था का जिम्मा ले सकता है।
श्री गुप्ता ने बताया कि इसमें बच्चों को जोड़ने के लिये एक विशेष व्यवस्था शुरू की गयी है। स्कूल में पढ़ने वाले प्रत्येक बच्चे से घर से एक अतिरक्त रोटी लाने के लिए कहा जाएगा। इन रोटियाें काे लंच के समय जरुरतमंद व्यक्तियों तक पहुंचा दिया जायेगा।
सत्या आशा
वार्ता
More News
शिक्षा की गुणवत्ता छोड़ राजनीतिकरण पर उतरी सरकार - देवनानी

शिक्षा की गुणवत्ता छोड़ राजनीतिकरण पर उतरी सरकार - देवनानी

19 Jul 2019 | 10:32 PM

जयपुर, 19 जुलाई (वार्ता) राजस्थान के पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने आज राजस्थान विधानसभा में कहा कि राज्य सरकार शिक्षा की गुणवत्ता को छोड़कर इसका राजनीतिकरण कर रही है।

see more..
image