Friday, Sep 21 2018 | Time 20:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • छत्तीसगढ़ में पूर्व पुलिस महानिदेशक समेत 17 अधिकारी भाजपा में शामिल
  • ओलांद के बयान की सच्चाई का पता लगा रही है सरकार
  • मोदी सरकार का कौशल विकास बन गया घोटाला : कांग्रेस
  • भारत ने जीते 3 स्वर्ण सहित 7 पदक
  • सर्जिकल स्ट्राइक दिवस पर उठा विवाद,सरकार ने किया बचाव
  • एससी एसटी एक्ट के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे सवर्णों पर लाठीचार्ज
  • जम्मू कश्मीर में हाल की घटनाओं ने राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फिर तूल पकड़ा
  • यूनान में हवाई अड्डा बनायेगी जीएमआर
  • फोटो कैप्शन-दूसरा सेट
  • भारत ने राफेल सौदे के लिए दिया था केवल रिलायंस का नाम: ओलांद
  • थर्ड जेनेरेशन ईवीएम मशीन में गड़बड़ी ना के बराबर: रावत
  • प्रधानमंत्री मोदी कल छत्तीसगढ़ के एक दिवसीय दौरे पर
  • भारत अंडर-16 लड़कियों को मंगोलिया से मिली हार
  • चीफ खालसा दीवान के प्रधान संतोख सिंह को पांच साल की कैद
  • भारत-पाकिस्तान विदेश मंत्रियों की बैठक रद्द
राज्य Share

राजनीति. कांग्रेस मोदी दो अंतिम पटना

श्री गोहिल ने कहा कि कांग्रेस नीत संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार में 126 लड़ाकू विमान खरीदने के लिए 526.10 करोड़ रुपये के राफेल सौदे पर हस्ताक्षर किया गया था। इस समझौते के तहत 18 लड़ाकू विमानों का विनिर्माण फ्रांस में होना था जबकि शेष को तकनीक का हस्तांतरण होने के बाद हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) की इकाई में बनाया जाना था। लेकिन, जब केंद्र में श्री नरेंद्र मोदी की सरकार बनी तो फ्रांस के साथ हुये समझौते के तहत केवल 36 लड़ाकू विमानों की कीमत 60145 करोड़ पर पहुंच गयी। सभी विमान को अब फ्रांस में ही तैयार होंगे।
कांग्रेस नेता ने मोदी सरकार से प्रत्येक विमान की कीमत का खुलासा करने की मांग करते हुये कहा कि सरकार देश की सुरक्षा का हवाला देकर इस बारे में जवाब देने से इनकार नहीं कर सकती। उन्हाेंने तंज कसते हुये कहा कि यदि राफेल सौदे का खुलासा करने से राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में पड़ जाएगी तो भारतीय जनता पार्टी को बोफोर्स सौदा मामले के खिलाफ बोलने से पहले इस पर सोचना चाहिए था। उन्होंने कहा कि आधा सच बोलने की श्री मोदी की आदत रही है और जब कोई तथ्यों का खुलासा करने का प्रयास करता है तो उसे परेशान किया जाता है।
श्री गोहिल ने आरोप लगाते हुये कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी के 10 अप्रैल 2015 को फ्रांस में 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदने की घोषणा करने से महज दस दिन पहले ही रिलायंस डिफेंस नाम की कंपनी बनाई गई थी।
सूरज सतीश
वार्ता
More News

अजमेर में मोहर्रम पर खेला बड़ा हाईदौस

21 Sep 2018 | 8:14 PM

 Sharesee more..
कड़ी सुरक्षा के बीच निकले यौमे आशूरा के जुलूस, हादसों में छह झुलसे

कड़ी सुरक्षा के बीच निकले यौमे आशूरा के जुलूस, हादसों में छह झुलसे

21 Sep 2018 | 8:06 PM

लखनऊ, 21 सितम्बर (वार्ता) हजरत इमाम हुसैन की शहादत की याद में राजधानी लखनऊ समेत समूचे उत्तर प्रदेश में कड़े सुरक्षा इंतजामों के बीच 10वीं मोहर्रम 'यौमे-आशूरा' का जुलूस निकाला गया। ताजिया जुलूस के दौरान हुये अलग अलग हादसों में कम से कम छह लोग झुलस गये।

 Sharesee more..
image