Wednesday, Jun 26 2019 | Time 19:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजयुमो ने नशा विरोधी दिवस पर जिला उपायुक्तों को सौंपा मांगपत्र
  • बिहार के पांच शहरों में छत पर बागवानी के लिए सरकार देगी अनुदान
  • आकाश विजयवर्गीय को अदालत ने जेल भेजने के आदेश दिए
  • स्टर्लिंग बॉयोटेक मामले में 9778 करोड़ की विदेशी संपत्ति जब्त
  • हरवीन सराओ ने जीता 10 मीटर एयर पिस्टल का स्वर्ण
  • हरवीन सराओ ने जीता 10 मीटर एयर पिस्टल का स्वर्ण
  • सैप्टिक टैंक की सफाई करने उतरे चार लोगों की दम घुटने से मौत
  • मथुरा में युवक का अपहरण,20 लाख फिरौती की मांग
  • त्रिपुरा के प्रमुख सचिव और शिक्षा निदेशक को न्यायालय का नोटिस
  • शिकायत निवारण नियमावली से सरकारी सेवकों को काफी फायदा होगा: नीतीश
  • बिट्टू की हत्या के पीछे गहरी साजिश : बादल
  • गर्मी-उमस के कारण पंजाब-हरियाणा में बिजली मांग में रिकार्ड तोड़ वृद्धि
  • सशक्त टीम के रुप में उभर रही है महिला फुटबॉल टीम : एंब्रोस
  • सशक्त टीम के रुप में उभर रही है महिला फुटबॉल टीम : एंब्रोस
  • व्यापारिक अड़चनों को दरकिनार कर रणनीतिक साझीदारी मजबूत करेंगे भारत और अमेरिका
राज्य


पुलिस ने रहबर ए तालिम शिक्षकों के मार्च को विफल किया

जम्मू 05 सितंबर (वार्ता) जम्मू पुलिस ने आज यहां राजभवन की तरफ मार्च करने जा रहे शिक्षकों पर हल्का लाठीचार्ज किया। ये शिक्षक अपनी मांगोें को पूरा करने के लिए प्रदर्शन कर रहे थे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों से सैकड़ों शिक्षक जम्मू प्रेस क्लब के बाहर जमा हो गए थे और दोपहर बाद सरकार विरोधी नारे लगाने लगे। इन शिक्षकों ने बाद में राजभवन की तरफ बढ़ने की कोशिश की लेकिन वहां तैनात पुलिस जवानों ने इन पर हल्का बल प्रयोग कर वहां से तितर-बितर कर दिया।
ये शिक्षक सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों को लागू किए जाने, तीन माह का बकाया वेतन और दो माह के बकाया भत्तों को दिए जाने और अपने वेतन को राज्य बजट में समाहित करने की मांग कर रहे थे।
रियासी क्षेत्र से आई एक प्रदर्शनकारी शिक्षक एकता खजूरिया ने बताया कि उनके साथी शिक्षक पिछले एक वर्ष से अपनी मांगों के लिए आवाज उठा रहे हैं लेकिन इन पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
उन्होंने इस मामले में राज्यपाल से अपील करते हुए कहा कि जिस दिन शिक्षकों को सम्मानित किया जाना चाहिए था उस दिन वे अपनी मांगों को लेकर सड़काें पर उतरने को मजबूर हैं।
उन्होंने कहा,“ किसी राष्ट्र का विकास कैसे हो सकता है जब शिक्षक समुदायों को उनके अधिकारों से वंचित किया जा रहा है।”
इस बीच प्रदर्शनकारी शिक्षकों ने कहा कि वे अपने आंदोलन को आगे भी जारी रखेंगे अौर आने वाले दिनों में अांदोलन काे तेज करेंगें।
जितेन्द्र.श्रवण
वार्ता
More News
प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए राज्य में शैक्षणिक वातावरण जरूरी -भूपेश

प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए राज्य में शैक्षणिक वातावरण जरूरी -भूपेश

26 Jun 2019 | 7:35 PM

दुर्ग 26 जून(वार्ता)छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर पर प्रतियोगी परीक्षाओं में प्रतिस्पर्धा के योग्य बनाने के लिए राज्य में शैक्षणिक वातावरण निर्माण करने की जरूरत पर जोर दिया है।

see more..
image