Monday, Sep 24 2018 | Time 16:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पूर्व केन्द्रीय मंत्री शांताराम का निधन
  • पटेल जयंती मनाई जाएगी राष्ट्रीय एकता के रूप में
  • मैथ्यूज की कप्तानी छिनी, चांडीमल को वनडे की भी कमान
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • राजीव हत्याकांड: दोषी की मां ने की रिहाई की अपील
  • सेंसेक्स 536 अंक टूटा, निफ्टी 168 अंक फिसला
  • सड़क दुर्घटना में सैनिक की मौत
  • उत्तर कश्मीर में अपहृत व्यक्ति की गोलीमार कर हत्या
  • हिमाचल में भारी हिमपात तथा बारिश ,पश्चिमोत्तर में जनजीवन प्रभावित
  • अमेठी में राहुल का शिव भक्तों ने किया जोरदार स्वागत
  • भाजपा नेता शंकर चक्रवर्ती अस्पताल में भर्ती कराये गये
  • रंजिश के चलते युवक की कस्सी से काट कर हत्या
  • टीम इंडिया के पास बेंच आजमाने का मौका
राज्य Share

एनएच-87 में धांधली को लेकर केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस

नैनीताल, 05 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड में नैनीताल उच्च न्यायालय ने राष्ट्रीय राजमार्ग-87 में धांधली को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए बुधवार को केन्द्र सरकार, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, राष्ट्रीय राजमार्ग-87 के परियोजना निदेशक तथा कुमाऊं के आयुक्त को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।
न्यायालय ने प्रदेश सरकार से पूछा कि क्या एनएच-74 की जांच करने वाले विशेष जांच दल ( एसआईटी) को एनएच-87 की भी जांच का काम सौंपा जा सकता है?
हल्द्वानी निवासी राजेन्द्र कुमार ने एक जनहित याचिका में दायर कर न्यायालय को बताया कि उत्तर प्रदेश के रामपुर से काठगोदाम तक राष्ट्रीय राजमार्ग-87 का विस्तारीकरण किया जा रहा है। सरकार की ओर से इस कार्य के लिये किसानों की भूमि का अधिग्रहण किया गया। अधिग्रहीत भूमि के बदले किसानों को मुआवजा का आवंटन किया गया, जिसमें बड़े पैमाने पर धांधली की गयी है। याचिकाकर्ता ने न्यायाल को बताया कि एनएच-74 की तर्ज पर एनएच- 87 के लिए अधिग्रहीत भूमि का लैंड यूज बदल दिया गया है। एक जमीन के लिये अलग: अलग मुआवजा का आवंटन किया गया है। याचिकाकर्ता की ओर से अदालत से इस मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की गयी है।
मामले की सुनवाई करने के बाद कार्यवाहक मुख्य न्यान्याधीश राजीव शर्मा तथा न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की युगल पीठ ने केन्द्र सरकार, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, परियोजना निदेशक तथा कुमाऊं आयुक्त को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया और प्रदेश सरकार से पूछा कि क्या इस मामले की जांच भी राष्ट्रीय राजमार्ग-74 की जांच करने वाली एसआईटी को सौंपी जा सकती है?
सं. संतोष
‌वार्ता
More News
पर्रिकर मंत्रिमंडल से दो मंत्री हटाकर दो भाजपा विधायक बनेंगे मंत्री

पर्रिकर मंत्रिमंडल से दो मंत्री हटाकर दो भाजपा विधायक बनेंगे मंत्री

24 Sep 2018 | 4:37 PM

पणजी 24 सितंबर (वार्ता) गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के बीमार होने से राज्य में पिछले करीब एक पखवाड़े से उनकी सरकार को लेकर चल रही राजनीतिक गहमागहमी के बीच मंत्रिमंडल से दो मंत्रियों को हटाकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दो विधायकों को मंत्री बनाया जायेगा।

 Sharesee more..

पूर्व केन्द्रीय मंत्री शांताराम का निधन

24 Sep 2018 | 4:35 PM

 Sharesee more..
image