Friday, Nov 16 2018 | Time 16:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हिमालया का खुश रहो- खुशहाल रहो अभियान हुआ लॉन्च
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • 1984 दंगों के एक मामले में गवाह ने सज्जन कुमार को पहचाना
  • ममता ने ‘राष्ट्रीय प्रेस दिवस’ के मौके पर पत्रकारों को दी बधाई
  • किम जोंग उन ने नये हथियारों का किया निरीक्षण
  • वसुंधरा शनिवार दाखिल करेगी अपना नामांकन पत्र
  • ग्रुप में शीर्ष स्थान की जंग लड़ेंगे भारत-आस्ट्रेलिया
  • ग्रुप में शीर्ष स्थान की जंग लड़ेंगे भारत-आस्ट्रेलिया
  • सेंसेक्स 196 अंक उछला;निफ्टी 65 अंक चढ़ा
  • प्यार की बात करने का दावा करने वाली कांग्रेस को मध्यप्रदेश में आता है सिर्फ गुस्सा : मोदी
  • फुटपाथ विक्रेताओं को व्यवस्थित करना प्राथमिकता : रघुवर
  • श्रीकांत क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर
  • श्रीकांत क्वार्टरफाइनल में हारकर बाहर
  • जशपुर जिले में कल शाह और राहुल की सभा
  • चेन्नई तिलहन के भाव
राज्य Share

एनएच-87 में धांधली को लेकर केंद्र और राज्य सरकार को नोटिस

नैनीताल, 05 सितम्बर (वार्ता) उत्तराखंड में नैनीताल उच्च न्यायालय ने राष्ट्रीय राजमार्ग-87 में धांधली को लेकर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए बुधवार को केन्द्र सरकार, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, राष्ट्रीय राजमार्ग-87 के परियोजना निदेशक तथा कुमाऊं के आयुक्त को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया।
न्यायालय ने प्रदेश सरकार से पूछा कि क्या एनएच-74 की जांच करने वाले विशेष जांच दल ( एसआईटी) को एनएच-87 की भी जांच का काम सौंपा जा सकता है?
हल्द्वानी निवासी राजेन्द्र कुमार ने एक जनहित याचिका में दायर कर न्यायालय को बताया कि उत्तर प्रदेश के रामपुर से काठगोदाम तक राष्ट्रीय राजमार्ग-87 का विस्तारीकरण किया जा रहा है। सरकार की ओर से इस कार्य के लिये किसानों की भूमि का अधिग्रहण किया गया। अधिग्रहीत भूमि के बदले किसानों को मुआवजा का आवंटन किया गया, जिसमें बड़े पैमाने पर धांधली की गयी है। याचिकाकर्ता ने न्यायाल को बताया कि एनएच-74 की तर्ज पर एनएच- 87 के लिए अधिग्रहीत भूमि का लैंड यूज बदल दिया गया है। एक जमीन के लिये अलग: अलग मुआवजा का आवंटन किया गया है। याचिकाकर्ता की ओर से अदालत से इस मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने की मांग की गयी है।
मामले की सुनवाई करने के बाद कार्यवाहक मुख्य न्यान्याधीश राजीव शर्मा तथा न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की युगल पीठ ने केन्द्र सरकार, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, परियोजना निदेशक तथा कुमाऊं आयुक्त को नोटिस जारी कर जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया और प्रदेश सरकार से पूछा कि क्या इस मामले की जांच भी राष्ट्रीय राजमार्ग-74 की जांच करने वाली एसआईटी को सौंपी जा सकती है?
सं. संतोष
‌वार्ता
More News

16 Nov 2018 | 4:55 PM

 Sharesee more..
भाजपा ने सुनिश्चित की देश की सुरक्षा : शाह

भाजपा ने सुनिश्चित की देश की सुरक्षा : शाह

16 Nov 2018 | 4:56 PM

सागर, टीकमगढ़, 16 नवंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने आज मध्यप्रदेश के बुंदेलखंड के सागर और टीकमगढ़ जिले में चुनाव प्रचार करते हुए कहा कि पार्टी ने देश की सुरक्षा सुनिश्चित की है।

 Sharesee more..

सनसनीखेज रहा पार्षद राखी को टिकट मिलना

16 Nov 2018 | 4:56 PM

 Sharesee more..
image