Friday, Nov 16 2018 | Time 14:50 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कांग्रेस का नहीं जोगी का गढ़ है मरवाही
  • हत्या के आरोपी ने की पुलिस उप निरीक्षक की गोली मार कर हत्या
  • सुरेन्द्रनगर में किसान ने की खुदकुशी
  • सोशल मीडिया पर ट्रेंड हुआ कांग्रेस का चुनाव अभियान ‘बढ़ते चलो अंबिकापुर’
  • आस्ट्रेलियाई द्वीपों में भूकंप के झटके
  • सोना 235 रुपये लुढ़का ;चांदी में टिकाव
  • एंडरसन को हरा 15वीं बार एटीपी सेमीफाइनल में फेडरर
  • एंडरसन को हरा 15वीं बार एटीपी सेमीफाइनल में फेडरर
  • रुपये की संदर्भ दर
  • प्रमुख मुद्राओं में गिरावट
  • सोशल मीडिया पर धूम मचा रहा है छत्तीसगढ का अम्बिकापुर विधानसभा क्षेत्र
  • सबरीमला विवाद: तृप्ति देसाई के खिलाफ कोचीन हवाई अड्डे पर भक्तों का प्रदर्शन
  • टिकट नहीं मिलने से कांग्रेस में बगावत
  • तमिलनाडुु में ‘गाजा ’तूफान से 23 लोगों की मौत
  • निर्दोष को नहीं मिलनी चाहिये सजा, विवेचना के बाद हो गिरफ्तारी : राजा भैया
राज्य Share

--

सदन में शोर शराबे के दौरान दोनों पक्षों द्वारा तेज आवाज में अपनी बात कहते रहे। इस बीच सार्वजनिक निर्माण मंत्री युनूस खां कुछ कागज लहराते दिखे जिस पर गोविंद डोटासरा ने कहा कि यह संबंधित प्रश्न नहीं है।
सरकारी सचेतक मदन राठौड ने प्रतिपक्ष के शोर शराबे के बीच कहा कि विपक्ष स्वयं प्रश्नों के प्रति गंभीर नहीं है और दोहरी रणनीति अपना कर सदन का समय जाया करना चाहते है। उन्होंने कहा कि विपक्ष के इस रवैये की भर्त्सना की जानी चाहिये। सरकारी मुख्य सचेतक कालूलाल गुर्जर ने भी प्रतिपक्ष के नेता रामेश्वर डूडी से अपने विधायकों को शांत रहने और अनुशासन में रहने का आग्रह किया। शोर शराबे के बीच ही सत्ता पक्ष की ओर से कहा गया कि विपक्ष के इस रवैये की भर्त्सना करनी चाहिये।
शोर शराबे के बीच ही विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेधवाल ने नेता प्रतिपक्ष नेता रामेश्वर डूडी से भी पूछा कि विपक्ष प्रश्नकाल चलाना चाहता है या नही। इस पर श्री डूडी यह कहते नजर आये कि विपक्ष अपने सवालों का जवाब चाहता है और सरकार को इसे गंभीरता से लेना चाहिये।
सदन में चल रहे हंगामे के बीच श्री मेघवाल ने कहा कि सदन में अध्यक्षीय व्यवस्था पर कोई चर्चा नही की जा सकती है। उन्होंने कहा कि विपक्ष प्रश्नकाल के प्रति गंभीर नही है। लगभग बीस मिनट तक हुये हंगामे के बाद श्री मेघवाल ने प्रश्नकाल को स्थगित करने की घोषणा करते हुये कहा कि उन्हें कार्यवाही स्थगित करने का कडा अफसोस है और विपक्ष के हंगामे के कारण उन्हें यह कदम उठाना पड़ रहा है।
अजय रमेश
वार्ता
More News

16 Nov 2018 | 2:49 PM

 Sharesee more..

16 Nov 2018 | 2:48 PM

 Sharesee more..

कांग्रेस का नहीं जोगी का गढ़ है मरवाही

16 Nov 2018 | 2:47 PM

 Sharesee more..
आबकारी निरीक्षकों का तबादला रद्द

आबकारी निरीक्षकों का तबादला रद्द

16 Nov 2018 | 2:46 PM

प्रयागराज, 16 नवम्बर (वार्ता) इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने कानपुर नगर एवं देहात के नौ आबकारी निरीक्षकों के तबादले को अवैध करार देते हुए रद्द कर दिया है।

 Sharesee more..

किसान ने जहरीली दवा पीकर की आत्महत्या

16 Nov 2018 | 2:46 PM

 Sharesee more..
image