Thursday, Nov 15 2018 | Time 17:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • माफी नहीं मांगने पर सूचना मंत्री फवाद चौधरी के संसद सत्र में भाग लेने पर रोक
  • 1984 दंगे: दो दोषियों की सजा पर फैसला 20 नवम्बर को
  • देश के विकास में झारखंड की महत्वपूर्ण भूमिका : द्रौपदी
  • सुभाष देखमुख ने किया मार्कफेड के आउटलेट का दौरा
  • पंजाब की चीनी मिलों में लगाए जाएंगे इथनोल और बिजली सयंत्र: रंधावा
  • विंडीज़ महिलाएं 31 रन से जीतीं
  • बेंगलुरू उड़ान के साथ प्रयागराज छह शहरों से सीधा जुडा:नंदी
  • द्रौपदी और रघुवर ने धरती आबा भगवान बिरसा को दी श्रद्धांजलि
  • कुपवाड़ा में नियंत्रण रेखा के पास सुरक्षा बलों का तलाश अभियान
  • सिंगापुर में हुई मोदी-पुतिन की संक्षिप्त वार्ता
  • 218 रन की जीत के साथ बंगलादेश ने ड्रॉ कराई सीरीज़
  • ब्रेक्सिट मसौदा समझौते को लेकर ब्रिटेन के मंत्री का इस्तीफा
  • गांधीजी, पटेल, सावरकर, आंबेडकर को इरादतन भुलाने के प्रयास नहीं होंगे सफल - मुख्यमंत्री
  • डूसू अध्यक्ष अंकिव बसोया एबीवीपी से निष्कासित, अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने की हिदायत
  • दिल्ली को मिले 3 अंक, हिमाचल को 1 अंक
राज्य Share

कुल्हाड़ी से दुधमुंही बच्ची की हत्या

जशपुर, 06 सितंबर (वार्ता) छत्तीसगढ के जशपुर जिले में आज एक युवक ने कुल्हाड़ी से वार करके पांच महीने की एक दुधमुंही बच्ची की हत्या कर दी।
बीच बचाव करने आई बच्ची की दादी फीरोबाई बंजारा को गंभीर रूप से घायल होने के चलते जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जशपुर थाना प्रभारी जोगेंद्र यादव ने बताया कि बिजली टोली में रहने वाले बंजारा परिवार की पांच महीने की बच्ची जमीन पर खेल रही थी। इस दौरान पास ही रहने वाला विजय यादव नामक युवक वहां पहुंचा और उसने कुल्हाड़ी से बच्ची पर वार किया। बच्ची की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। अपनी मासूम बच्ची को पड़ोसी के हाथ से बचाने की कोशिश करने के दौरान उसकी दादी भी गम्भीर रूप से घायल हो गई।
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।
सं गरिमा
वार्ता
More News
शहरों का नाम बदलने से गरीबी और बेरोजगारी नही होगी दूर : हार्दिक

शहरों का नाम बदलने से गरीबी और बेरोजगारी नही होगी दूर : हार्दिक

15 Nov 2018 | 5:27 PM

संभल 15 नवम्बर (वार्ता)गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर तंज कसते हुये कहा कि शहरों का नाम बदलने से देश में गरीबी और बेरोजगारी दूर नही होगी।

 Sharesee more..
image