Wednesday, Feb 20 2019 | Time 00:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
राज्य Share

अजमेर में पानी की कटौती के विरोध में कांग्रेसियों का प्रदर्शन

अजमेर, 06 सितम्बर(वार्ता) राजस्थान में अजमेर शहर में तीन से चार दिन के अन्तराल से हो रही जलापूर्ति के बावजूद जलदाय विभाग द्वारा शहर में आगामी एक अक्टूबर से पचास प्रतिशत पानी की कटौती के विरोध में आज अजमेर शहर कांग्रेस कमेटी की ओर से प्रदर्शन किया गया।
कांग्रेसियों ने जयपुर को दिए जाने वाले पानी में कटौती की मांग करते हुए अजमेर में नियमित आपूर्ति की मांग की । शहर अध्यक्ष विजय जैन की अगुवाई में बड़ी संख्या में कांग्रेसी टोडरमल मार्ग स्थित जलभवन पर पहुंचे और बीसलपुर बांध से पानी की कटौती के विरोध में जमकर नारेबाजी की और भाजपा सरकार को कोसा। श्री जैन ने कहा कि बीसलपुर बांध के पानी पर अजमेर जिले की जनता का हक है। यह योजना केवल अजमेर के लिए बनाई गई थी और आज बीसलपुर बांध में 309 एम.एल. टी. पानी मौजूद हैं। इसके बावजूद जलदाय विभाग अजमेर शहर से सौतेला व्यवहार करते हुए पहले ही नियमित पानी सप्लाई नहीं कर रहा और अब पचास प्रतिशत कटौती की और घोषणा कर दी गई है।
प्रदेश सचिव महेंद्र सिंह रलावता ने कहा कि अजमेर जिले को भाजपा सरकार में प्रयाप्त प्रतिनिधित्व होने के बावजूद वे उपेक्षा का शिकार हैं। शहर के दोनों मंत्री वासुदेव देवनानी एवं अनिता भदेल के रहते शहर के पानी का हक छिनना उनका निकम्मापन है। श्री रलावता ने दोनों मंत्रियों को निकम्मा करार दिया। पूर्व सूचना के बावजूद जलभवन पर ज्ञापन लेने उच्च अभियंताओं के अनुपस्थित रहने के कारण कांग्रेसियों ने ज्ञापन को मीडिया के समक्ष अभियंता कार्यालय के बाहर चस्पा कर दिया।
गौरतलब है कि बीसलपुर बांध परियोजना प्रारंभ में अजमेर के लिए ही बनाई गई थी बाद में जयपुर और अन्य स्थानों को भी इससे पानी दिया जाने लगा।
सं सैनी
वार्ता
More News
पाकिस्तान  ने 26/11 आतंकी हमले में कोई कार्रवाई नहीं की : सीतारमण

पाकिस्तान ने 26/11 आतंकी हमले में कोई कार्रवाई नहीं की : सीतारमण

19 Feb 2019 | 11:28 PM

बेंगलुरू, 19 फरवरी(वार्ता) रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के बयान कि पुलवामा हमले में बिना किसी सबूत के भारत ने पाकिस्तान को दोषी ठहराया है ,पर प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि मुंबई हमले केे बाद भारत सरकार ने अनेक बार डोजियर दिए लेकिन वहां की सरकारों ने षड़यंत्रकारियोेें के खिलाफ काेई कार्रवाई नहीं की है।

 Sharesee more..
image