Thursday, Nov 22 2018 | Time 15:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एसीआरओएसएस की नौ उप योजनाओं को जारी रखने की मंजूरी
  • इमरान विदेश में राजनीतिक विरोधियों की आलोचना बंद कर देश का प्रतिनिधित्व करें: बिलावल
  • हवाई यात्रियों की संख्या अक्टूबर में 1 18 करोड़ के पार
  • सोना 90 रुपये चमका;चांदी 200 रुपये उछली
  • महिला ने प्रेमी का मांस मजदूरों को खिलाया
  • 17500 नये वार्डों के हर घर में उपलब्ध होगा नल का जल : मंत्री
  • उमर ने राम माधव को दी चुनौती, आरोप सिद्ध करें या माफी मांगे
  • खाद्यान्नों की पैकेजिंग सिर्फ जूट की बोरियों में, मानकों की अवधि भी बढ़ी
  • चीन में कार की चपेट में आकर पांच छात्रों की मौत
  • प्रमुख मुद्राओं की तुलना में रुपये की संदर्भ दर
  • पानीपत में निरंकारी संत समागम के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े प्रबंध
  • गुरु नानक की 550 वीं जयन्ती देश- विदेश में धूम धाम से मनायी जायेगी
  • जम्मू -कश्मीर विधानसभा भंग किया जाना अलोतांत्रिक :अखिलेश
  • विमान में तकनीकी खराबी के कारण एक घंटे तक बंद रहा अहमदाबाद हवाई अड्डे का रनवे, 10 उड़ाने प्रभावित
  • एमसीजी में सीरीज़ बचाने उतरेगा भारत
राज्य Share

अजमेर में पानी की कटौती के विरोध में कांग्रेसियों का प्रदर्शन

अजमेर, 06 सितम्बर(वार्ता) राजस्थान में अजमेर शहर में तीन से चार दिन के अन्तराल से हो रही जलापूर्ति के बावजूद जलदाय विभाग द्वारा शहर में आगामी एक अक्टूबर से पचास प्रतिशत पानी की कटौती के विरोध में आज अजमेर शहर कांग्रेस कमेटी की ओर से प्रदर्शन किया गया।
कांग्रेसियों ने जयपुर को दिए जाने वाले पानी में कटौती की मांग करते हुए अजमेर में नियमित आपूर्ति की मांग की । शहर अध्यक्ष विजय जैन की अगुवाई में बड़ी संख्या में कांग्रेसी टोडरमल मार्ग स्थित जलभवन पर पहुंचे और बीसलपुर बांध से पानी की कटौती के विरोध में जमकर नारेबाजी की और भाजपा सरकार को कोसा। श्री जैन ने कहा कि बीसलपुर बांध के पानी पर अजमेर जिले की जनता का हक है। यह योजना केवल अजमेर के लिए बनाई गई थी और आज बीसलपुर बांध में 309 एम.एल. टी. पानी मौजूद हैं। इसके बावजूद जलदाय विभाग अजमेर शहर से सौतेला व्यवहार करते हुए पहले ही नियमित पानी सप्लाई नहीं कर रहा और अब पचास प्रतिशत कटौती की और घोषणा कर दी गई है।
प्रदेश सचिव महेंद्र सिंह रलावता ने कहा कि अजमेर जिले को भाजपा सरकार में प्रयाप्त प्रतिनिधित्व होने के बावजूद वे उपेक्षा का शिकार हैं। शहर के दोनों मंत्री वासुदेव देवनानी एवं अनिता भदेल के रहते शहर के पानी का हक छिनना उनका निकम्मापन है। श्री रलावता ने दोनों मंत्रियों को निकम्मा करार दिया। पूर्व सूचना के बावजूद जलभवन पर ज्ञापन लेने उच्च अभियंताओं के अनुपस्थित रहने के कारण कांग्रेसियों ने ज्ञापन को मीडिया के समक्ष अभियंता कार्यालय के बाहर चस्पा कर दिया।
गौरतलब है कि बीसलपुर बांध परियोजना प्रारंभ में अजमेर के लिए ही बनाई गई थी बाद में जयपुर और अन्य स्थानों को भी इससे पानी दिया जाने लगा।
सं सैनी
वार्ता
More News

बादाम पोष्टिक आहार बनाने का प्रदर्शन

22 Nov 2018 | 3:42 PM

 Sharesee more..

22 Nov 2018 | 3:38 PM

 Sharesee more..
उमर ने राम माधव को दी चुनौती, आरोप सिद्ध करें या माफी मांगे

उमर ने राम माधव को दी चुनौती, आरोप सिद्ध करें या माफी मांगे

22 Nov 2018 | 3:31 PM

श्रीनगर 22 नवंबर (वार्ता) नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने अपने विरुद्ध भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के महासचिव राम माधव के लगाये गये आरोपाें को साबित करने की उन्हें चुनौती दी है।

 Sharesee more..
image