Tuesday, Apr 23 2019 | Time 17:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • विशेष दस्ते ने किया एक क्विंटल फल और सब्जियां को नष्ट
  • मोदी सरकार की उद्योग, कृषि विकास की कोई नीति नहीं: पवार
  • हरियाणा पुलिस का छह बदमाशों पर एक-एक लाख रुपये का ईनाम घोषित
  • मोदी सरकार ने राजनीतिक परिभाषा बदलने का काम किया - बृजेंद्र सिंह
  • मध्य फिलीपींस में छह सैनिक मरे
  • वियतनाम में सैन्य विमान दुर्घटनाग्रस्त, सैनिक घायल
  • बैंकिंग, ऑटो में बिकवाली से तीसरे दिन टूटा बाजार
  • कांग्रेस प्रत्याशी औजला ने दाखिल किया नामांकन
  • उम्मीदवारों को चुनावी नैया पार लगाने के लिये डेरों का सहारा
  • पीयरलेस से 1514 करोड़ रुपए की वसूली
  • कांग्रेस की न्याय योजना करेगी गरीबी का खात्मा : कुलदीप बिश्नोई
  • कांग्रेस ने शिवराज सहित भाजपा के चार नेताओं के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत
  • आईएस ने श्रीलंका हमले की ली जिम्मेदारी
  • शारदा चिट फंड घोटाले का मुख्य आरोपी अस्पताल में भर्ती
  • मराठवाडा में अपराह्न तीन बजे तक 47़ 5 फीसदी मतदान
राज्य


सीबीएसई के मेधावी विद्यार्थी को प्रोत्साहन योजना

खंडवा, 06 सितम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने घोषणा की कि मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना का लाभ अब उन विद्यार्थियों को भी मिलेगा, जिन्होंने सीबीएसई सिलेबस के तहत बारहवीं में 80 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं।
श्री चौहान ने आज यहां कहा कि पूर्व में 85 प्रतिशत की सीमा को घटाकर 80 प्रतिशत कर दिया जाएगा। उन्होंने यहां 500 बिस्तर के अत्याधुनिक अस्पताल खोलने की भी घोषणा की। यहां 200 करोड़ रुपए लागत के मेडिकल कॉलेज भवन का लोकार्पण करते हुए कॉलेज में बीएससी नर्सिंग कॉलेज खोलने की घोषणा की।
उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में वर्ष 1964 के बाद से कोई मेडिकल कॉलेज नहीं खोला गया था। सरकार ने आधारभूत संरचना उपलब्ध करवाते हुए नवीन मेडिकल कॉलेज खोले। इससे प्रदेश में डॉक्टरों की कमी दूर होगी। यह मेडिकल कालेज इस सत्र से प्रारंभ हो गया है।
मुख्यमंत्री ने छात्र सौरभ पटेल और छात्रा प्रीति मिश्रा को मेधावी विद्यार्थी प्रोत्साहन योजना से लाभांवित किया।
वर्ष 2009 में सागर में छठवाँ मेडिकल कॉलेज खुला और अब वर्ष 2018 में एक वर्ष में ही 4 नये मेडिकल कॉलेज खण्डवा, विदिशा, दतिया और रतलाम में खोले जा रहे हैं। मेडिकल कॉलेज वर्ष 2019 में सिवनी, छतरपुर तथ सतना में खोलने की स्वीकृति प्रदान की गई हैं। वर्ष 1946 से 1963 तक एमबीबीएस की मात्र 600 सीटें होती थीं, जो विगत 10 वर्ष में ही बढ़कर 4 गुना से भी अधिक अर्थात् 2500 सीटें हो जायेगी। यही नहीं, इस वर्ष 2018 में एक ही कैलेण्डर वर्ष में 4 नये मेडिकल कॉलेज एक साथ खुलना मध्यप्रदेश के इतिहास में एक स्वर्णिय अध्याय हैं। अब प्रदेश में प्रतिवर्ष 2500 डाक्टर तैयार होंगे।
नाग
वार्ता
More News
श्रीनगर में ऐतिहासिक जामिया मस्जिद को बंद किया

श्रीनगर में ऐतिहासिक जामिया मस्जिद को बंद किया

23 Apr 2019 | 5:27 PM

श्रीनगर 23 अप्रैल (वार्ता) जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में मंगलवार को किसी प्रकार के प्रदर्शन को देखते हुए एहतियात के तौर पर ऐतिहासिक जामिया मस्जिद को श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिया गया।

see more..
हुडा खुद को मारें चांटे, सुरजेवाला ने किया कांग्रेसी धुरंधरों का काम तमाम: विज

हुडा खुद को मारें चांटे, सुरजेवाला ने किया कांग्रेसी धुरंधरों का काम तमाम: विज

23 Apr 2019 | 5:24 PM

चंडीगढ़, 23 अप्रैल(वार्ता) हरियाणा के कैबिनेट मंत्री और भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) नेता अनिल विज एक फिर अपने विवादित बयान को लेकर चर्चा में हैं।

see more..
image