Tuesday, Feb 19 2019 | Time 12:21 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जातीय अत्याचार और भ्रष्टाचार देश की तरक्की का दुश्मन : मोदी
  • कर्नाटक में सड़क हादसे में दो लोगों की मौत, चार घायल
  • दिल्ली के नरेला में जूता फैक्ट्री में आग लगी
  • मोदी और सऊदी शाहजादे की बैठक बुधवार को
  • मोदी ने रविदास मंदिर में टेका मत्था, किया पर्यटन योजना का शिलान्यास
  • अब एक ही इमरजेंसी नंबर ‘112’
  • ट्रक और सवारी गाड़ी की टक्कर में चार मजदूरों की मौत ,नौ घायल
  • सेना ने घाटी में बंदूक उठाने वालों को दी चेतावनी
  • मोदी ने छत्रपति शिवाजी की जयंती पर दी श्रद्धांजलि
  • सलमान की फैमिली ने हमेशा सपोर्ट किया: कैटरीना
  • बॉलीवुड में कमबैक करेंगी पूनम ढिल्लों
  • नयी फिल्म के पहले दाढ़ी और बाल बढ़ाते हैं आमिर
  • मोदी ने देश के प्रथम परिवर्तित विद्युत रेल इंजन का किया लोकार्पण
  • राव की नियुक्ति को चुनौती देने वाली याचिका निरस्त
  • सैफ के फुट मसाज की आदत से चिढ़ती हैं करीना
राज्य Share

सरकार पीएसपीसीएल को सब्सिडी का भुगतान नहीं कर रही

जालंधर 06 सितंबर (वार्ता) पंजाब सरकार आर्थिक तंगी के कारण पंजाब राज्य विद्युत निगम लिमिटेड (पीएसपीसीएल) को बिजली सब्सिडी का भुगतान नहीं कर पा रही है।
पीएसपीसीएल के प्रवक्ता विनोद कुमार गुप्ता ने गुरुवार को यहां जारी बयान में बताया कि सरकार को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है जिसके कारण हर महीने सब्सिडी का बकाया बढ़ता जा रहा है। कर्मचारियों का नया वेतनमान तथा मंहगाई भत्ताें की किश्तें भी लंबित पड़ी हैं।
श्री गुप्ता ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष के पहले पांच महीनों के लिए राज्य सरकार ने 5716.20 करोड़ रुपये की सब्सिडी चुकानी थी जिसमें से केवल 2352.01 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है जो कुल सब्सिडी का 40 फीसदी से कम हिस्सा है। उन्होंने बताया कि पंजाब राज्य विद्युत विनियामक आयोग (पीएसईआरसी) ने चालू वित्त वर्ष के लिए 13,712 करोड़ रुपये की सब्सिडी तय की थी और इसमें पिछले वर्ष का भी बकाया शामिल है। मासिक देय सब्सिडी 1143 करोड़ रुपये है लेकिन सरकार ने अगस्त माह में केवल 300 करोड़ रुपये की ही सब्सिडी जारी की है।
उन्होंने कहा कि पीएसपीसीएल प्रबंधन ने इस मसले को सरकार के समक्ष उठाया था। उन्होंने कहा कि पीएसपीसीएल अपने व्यय को पूरा करने में सक्षम रहा है क्योंकि धान के मौसम के दौरान अल्पावधि बिजली खरीद नहीं की गई है और अब धान के मौसम के बाद अधिशेष बिजली को बेचने की योजना बनाई गई है ताकि कम से कम ताप संयंत्रों से निश्चित शुल्क वसूल किए जा सकें।
मुख्य अभियंता (सेवानिवृत्त) पदमजीत सिंह ने कहा कि सरकार लगातार विद्युत अधिनियम 2003 की धारा 65 का उल्लंघन करती रही है।
ठाकुर, उप्रेती
वार्ता
More News

dir="ltr">पत्नी से झगड़ा कर फांसी लगायी

19 Feb 2019 | 12:13 PM

 Sharesee more..
ट्रक और सवारी गाड़ी की टक्कर में चार मजदूरों की मौत ,नौ घायल

ट्रक और सवारी गाड़ी की टक्कर में चार मजदूरों की मौत ,नौ घायल

19 Feb 2019 | 12:12 PM

मुंगेर 19 फरवरी (वार्ता) बिहार में मुंगेर जिले के गंगटा थाना क्षेत्र के सवा लाख बाबा स्थान के निकट कल देर रात ट्रक और सवारी गाड़ी के बीच हुयी टक्कर में चार मजदूरों की मौत हो गयी तथा नौ अन्य घायल हो गये।

 Sharesee more..
image