Sunday, May 31 2020 | Time 11:30 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोरोना का संकट अब भी उतना ही गंभीर, लापरवाही नहीं चल सकती, सब उतनी ही सावधानी बरतेें : मोदी
  • पर्यावरण दिवस पर पेड़ लगायें, पक्षियों के लिए पानी का इंतजाम करें : मोदी
  • जल संचयन हमारी जिम्मेदारी, वर्षा का पानी बूंद बूंद बचाना है : मोदी
  • टिड्डी दल का हमला बड़ा संकट, किसानों को बचा लेंगे : मोदी
  • दिल्ली में बारिश से तापमान में गिरावट
  • अम्फान से पूर्वी भारत में भारी नुकसान, संकट की घड़ी में देश उनके साथ खड़ा है : मोदी
  • अजमेर में एक कांस्टेबल ने आत्महत्य का किया प्रयास
  • आयुष्मान भारत योजना के एक करोड़ लाभार्थियों में 80 प्रतिशत गांवों के हैं, 50 प्रतिशत महिलाएंं : मोदी
  • आयुष्मान भारत योजना ने गरीबों के 14 हजार करोड़ रुपये बचाये : मोदी
  • लोग आयुष मंत्रालय की ‘माई लाइफ माई योग’ प्रतियोगिता में अवश्य भाग लें : मोदी
  • विश्व के नेताओं की दिलचस्पी योग एवं आयुर्वेद में है : मोदी
  • देश में कोरोना के 67 प्रतिशत मामले महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात और दिल्ली के
  • पूर्वी भारत में विकास की विशाल संभावनाएं खुलीं हैं : मोदी
  • रेलवे कर्मचारी भी कोरोना वारियर्स हैं : मोदी
  • ट्रंप ने जी-7 की बैठक टाली, भारत समेत चार देशों से बात करेंगे
राज्य


.

द्रमुक अध्यक्ष एम के स्टालिन ने शीर्ष न्यायालय के फैसले पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि राज्य सरकार को पूर्व प्रधानमंत्री की हत्या के दोषियों काे तुरंत रिहा करने की दिशा में कदम उठाना चाहिए।
श्री स्टालिन ने कहा कि राज्य सरकार को तत्काल मंत्रिमंडल की बैठक बुलाकर दोषियों को रिहा किये जाने के संबंध में एक प्रस्ताव पारित करके राज्यपान से उनकी दया याचिका पर विचार करने की अनुशंसा करनी चाहिए। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री एवं अपने पिता एम के करुणानिधि द्वारा उठाये गये इस तरह के कदमों का उल्लेख भी किया।
उच्चतम न्यायालय ने तमिलनाडु के राज्यपाल को राजीव हत्याकांड के दोषी ए जी पेरारिवलन की दया याचिका पर विचार करने को कहा है।
न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा और न्यायमूर्ति के एम जोसेफ की पीठ ने मामले का निपटारा करते हुए तमिलनाडु के राज्यपाल को आदेश दिया कि वह इस हत्याकांड के दोषियों की दया याचिकाआें पर विचार करे।
हत्याकांड के सभी सात दोषी वी श्रीहरण उर्फ मुरुगन, ए जी पेरारिवलन, टी सुधेन्द्रराजा उर्फ संथम, जयकुमार, रॉबर्ट पायस, पी रविचंद्रन एवं नलिनी, पिछले 25 साल से जेल में हैं।
पेरारिवलन ने उच्चतम न्यायालय में याचिका दायर करके कहा था कि केंद्रीय जांच ब्यूरो के नेतृत्व में गठित मल्टी-डिसिप्लिनरी मॉनिटरिंग एजेंसी (एमडीएमए) की जांच पूरी होने तक उसकी जेल की सजा निलंबित की जाये।
एमडीएमए की स्थापना 1998 में राजीव गांधी हत्याकांड की साजिश की जांच के लिए की गयी थी।
आशा.श्रवण
वार्ता
More News
शिवराज ने महारानी अहिल्याबाई होलकर की जयंती पर नमन किया

शिवराज ने महारानी अहिल्याबाई होलकर की जयंती पर नमन किया

31 May 2020 | 10:44 AM

भोपाल, 31 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने महारानी अहिल्याबाई होलकर की जयंती पर उन्हें नमन करते हुए उनके चरणों पर श्रद्धासुमन अर्पित किए हैं।

see more..
इंदौर में ‘कोविड 19 के 3486 संक्रमित, 132 मौत, 1951 संक्रमित स्वस्थ

इंदौर में ‘कोविड 19 के 3486 संक्रमित, 132 मौत, 1951 संक्रमित स्वस्थ

31 May 2020 | 10:27 AM

इंदौर, 31 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के इंदौर जिले में कोविड 19 के 55 नये मामले आने के बाद यहां संक्रमितों की संख्या 3431 से बढ़कर 3486 तक जा पहुंची है, जबकि 3 मौत दर्ज होने के बाद मृतकों की संख्या 129 से बढ़कर 132 हो गयी।

see more..
image