Saturday, Jan 19 2019 | Time 13:32 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में एक सप्ताह बाद लौटे भाजपा विधायक
  • बाबुल सुप्रियो का तृणमूल कांग्रेस की विशाल रैली पर कटाक्ष
  • कमजोर लोगों पर हमला करता है डिमेंशिया
  • ठेके पर शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव नहीं हो सका पारित
  • कोलकाता में ‘पाखंड शो’: बाबुल सुप्रियो
  • श्रीनगर हवाई अड्डे पर उड़ानें बाधित
  • लद्दाख में हिमस्खलन में मरने वालों की संख्या पांच हुई
  • कुम्भ के लिये सात हजार क्यूसेक जल का अतिरिक्त प्रवाह
  • दक्षिण भारत पर हमले की साजिश नाकाम, तीन गिरफ्तार
  • अमेरिका, उत्तर कोरिया के बीच कार्यकारी स्तर की ‘सार्थक’ बैठक
  • लीबिया में सशस्त्र लड़ाकों की झड़पों में 13 मरे, 52 घायल
  • सबरीमला: अयप्पा मंदिर में 51 महिलाओं के प्रवेश का कोई सबूत नहीं
  • मेक्सिको में तेल पाइपलाइन में विस्फोट, 20 मरे, 54 घायल
  • सबरीमला : केरल पुलिस ने 67,094 लोगों पर मामला दर्ज
  • अमेरिका में पुलिसकर्मी को सात साल की सजा
राज्य Share

समाजवादी जागरूकता सप्ताह में हुआ शिक्षकों का सम्मान

लखनऊ 06 सितम्बर (वार्ता)। समाजवादी पार्टी (सपा)के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आह्वान पर जारी प्रदेश व्यापी समाजवादी छात्र जागरूकता सप्ताह के गुरूवार को तीसरे दिन आयोजित ‘छात्र नौजवान सम्मेलन” में शिक्षकों का सम्मान किया गया।
सपा के मुख्य प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने यहां बताया कि राष्ट्रीय अध्यक्ष के आदेश पर जागरूकता सप्ताह को दो दिन और बढा दिया गया है। इस कार्यक्रम का उद्देशय शिक्षकों और छात्रों में आपस में समन्वय कायम करना है। समाजवादी पार्टी पिछले कई वर्षों से प्रदेश के विभिन्न जनपदों में जागरूकता सप्ताह में शिक्षकों का सम्मान कार्यक्रम करती है।
अब जागरूकता सप्ताह 10 सितम्बर की जगह 12 सितम्बर तक चलेगा। इस दौरान सदस्यता अभियान तो चलाया ही जायेगा साथ ही एक महाविद्यालय से दूसरे तक साइकिल यात्रा और कैंपस परिचर्चा का आयोजन किया जायेगा। कैंपस परिचर्चा में लोकतंत्र में मौजूदा हालत में छात्रों की समस्याओं एवं छात्र संघ की सम-सामयिक उपयोगिता का कार्यक्रम होगा।
सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र पचौरी ने बताया कि यश भारती से सम्मानित सूबेदार राकेश कुमार यादव ने सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुलाकात की ।जकार्ता में हुए एशियाड खेलोें में वाटर स्पोर्ट स्पर्धा के कोच श्री यादव के नेतृत्व में ही भारत नौकायन में एक स्वर्ण और दो कांस्य पदक जीतने में सफल रहा। कोच यादव ने पूर्व मुख्यमंत्री को बताया कि भाजपा सरकार ने यशभारती सम्मान में अड़चन डालने का काम किया है। समाजवादी सरकार ने खिलाड़ियों, साहित्यकारों, लेखकों, विद्वानों, कलाकारों को सम्मानित करने का काम किया था।
सैनिकों को विशिष्ट क्षेत्रों में उनके योगदान के लिए यशभारती सम्मान भी दिया गया था। लेफ्टिनेंट जनरल ए.के. चैत को भी यशभारती सम्मान दिया गया था लेकिन भाजपा ने राग-द्वेष की भावना के आधार पर प्रति माह 50 हजार रूपए पेंशन को भी बंद कर दी है।
सं सोनिया
वार्ता
image