Thursday, May 28 2020 | Time 18:35 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बाढ़ के खतरे से निपटने के लिए पुख्ता तैयारियां शुरू
  • देवघर से पांच साइबर अपराधी गिरफ्तार
  • मेडिकल कालेजों की फीसों में बढ़ोतरी की छात्र संघ ने की निंदा
  • सोनीपत में नर्सिंग ऑफिसर समेत कोरोना संक्रमण के पांच नए मामले
  • मऊ में आज दो और कोरोना पॉजिटिव मिले,संख्या बढ़कर हुई 22
  • गिरिडीह में पंचायत सचिव एवं मुखिया रिश्वत लेते गिरफ्तार
  • बिरला ने सावरकर की जयंती पर उन्हें किया नमन
  • प्रधानमंत्री राजधर्म का पालन करें : जाखड़
  • सुब्रह्मण्यम की जनहित याचिका पर हाईकोर्ट के सरकार को जवाब पेश करने के निर्देश
  • ऑस्ट्रियाई एयरलाइंस की उड़ानें 15 जून से होंगी बहाल
  • फिरोजाबाद सड़क हादसों में बालक सहित तीन लोगों की मृत्यु
  • पियरसन ने छात्रों के लिए मायइनसाइट्स नीट ऑनलाइन टेस्ट सीरिज लॉन्च की
  • बिहार में पिछले 25 दिन में संक्रमण के शिकार हुए लोगों में 84 प्रतिशत प्रवासी
  • बेलारुस में कोराेना के 902 नये मामले, कुल संक्रमितों की संख्या 39858 हुई
राज्य


नौकरी दिलाने का झांसा देकर ठगने वाले सात गिरफ्तार

लखनऊ 06 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स ने गुरूवार को भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) में नौकरी के नाम पर फर्जी नियुक्ति पत्र जारी करके बेरोजगार नौजवानों से ठगी करने वाले गिरोह के सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है।
एसटीएफ के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि टीम ने इनको आगरा कैण्ट रेलवे स्टेशन के पास से गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लोगोें में कन्नौज निवासी मनोज कुमार श्रीवास्तव एवं दिनेश चन्द्र और बिहार निवासी कुंजन कुमार, साकेत बिहारी, प्रिन्स कुमार तिवारी , जितेन्द्र तथा अजय कुमार शाह शामिल है। गिरोह के दो लोग फरार है।
इनके पास से कूटरचित नियुक्ति पत्र 18, आफरिंग लैटर 17, डिस्पैच लिफाफे 08, 38400 रूपये नकद,
12 लाख 82 हजार रूपये के 06 चैक, पैन कार्ड, आधार कार्ड, वोटर आई0डी,मोबाइल फोन, कूटरचित आफरिंग लैटर की प्रतिलिपियाॅ, ई.मेल आईडी जिनका उपयोग गैंग द्वारा कूटरचित आफरिंग पोस्टिंग लैटर मंगाने के लिये किया जाता था तथा आईआरसीटीसी में नियुक्ति हेतु आवेदन पत्र 11 बरामद किए गए है।
तेज
वार्ता
image