Monday, Nov 19 2018 | Time 08:51 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एटा में भागवत कथा के दौरान फायरिंग में किशोर की मृत्यु
  • फ्रांस में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के बावजूद पेट्रोल, डीजल की बढ़ी कीमतें रहेंगी बरकरार
  • ट्रंप नहीं सुनेंगे खशोगी की हत्या का ऑडियो टेप
  • तालिबान के साथ शांति समझौता चाहते हैं खलिलजाद
  • इजरायल में जल्द चुनाव संभव नहीं : नेतन्याहू
  • सबरीमला : श्रद्धालु गिरफ्तार, विजयन के निवास के बाहर प्रदर्शन
  • विजयन के निवास के बाहर श्रद्धालुओं ने किया प्रदर्शन
  • सबरीमला में तनाव बरकरार, भक्ति गीत गाने पर श्रद्धालु गिरफ्तार
  • एचएएल बनायेगा स्वदेशी तेजस लड़ाकू विमान: भामरे
  • सबरीमला मेें मानवाधिकारों का गंभीर उल्लंघन: केरल मानवाधिकार आयोग
  • कांग्रेस ने राजस्थान के लिए सभी उम्मीदवार किये घोषित
राज्य Share

इलाहाबाद में धीरे धीरे घट रहा है गंगा और यमुना का जलस्तर

इलाहाबाद में धीरे धीरे घट रहा है गंगा और यमुना का जलस्तर

इलाहाबाद,07 सितम्बर (वार्ता) । तीर्थराज प्रयाग में गंगा और यमुना के जलस्तर रफ्ता रफ्ता कम हो रहा है लेकिन अभी बाढ़ का खतरा कम नहीं हुआ है। बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण अचानक नदियों का जलस्तर एक बार फिर बढ़ने की आशंका अभी बनी हुई है।

सिंचाई विभाग बाढ़ खण्ड के अधिशाषी अभियंता मनोज सिंह ने बताया कि उत्तराखंड में बरसात हो रही है और टिहरी तथा नरौरा बांधों से पानी छोड़े जाने के कारण एक बार फिर नदियों का जलस्तर बढ़ सकता है।

बाढ़ नियंत्रण कक्ष द्वारा प्राप्त आंकड़ों के अनुसार गंगा और यमुना के जलस्तर में पिछले 24 घंटे के दौरान 22 :31 :31 सेंटीमीटर कमी दर्ज की गयी हैं। रफ्तार धीरे धीरे कम हो रही है।

गुरुवार सुबह आठ बजे फाफामऊ में गंगा का जलस्तर क्रमश: 81.52 मीटर, छतनाग 80.26 मीटर और नैनी (यमुना) 80.91 मीटर दर्ज किया गया है जबकि शुक्रवार को इसी समय फाफामऊ में 81.30 मीटर, छतनाग में 79.95 मीटर और नैनी (यमुना) 80.60 दर्ज किया गया है।

बाढ़ का पानी कम होने से दोनों नदियों के निचले इलाके में रह रहे लोगों को थोड़ी राहत मिली है, लेकिन दिक्कत कम नहीं हुई। आने वाले दिनों में जलस्तर बढ़ने का खतरा बना है। स्थानीय लोगों का कहना है कि यदि दो मीटर पानी और बढ़ा तो निचले इलाकों दारागंज, करैलाबाग, ककहरा घाट, सलोरी, बेली गांव, चांदपुर सलोरी, राजापुर, गंगापुर, महेवा गांव में रहने वाले लोगों की परेशानी बढ़ सकती है।

दिनेश सोनिया

वार्ता

image