Monday, Nov 19 2018 | Time 15:29 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमान्य प्रमाण पत्र पर बहाल पांच शिक्षक बर्खास्त
  • करोलबाग में गारमेंट फैक्ट्री में आग से चार मरे, एक घायल
  • संसद में फिर अविश्वास प्रस्ताव लायें: सिरीसेना
  • विधायक नैना चौटाला के जाने पर भी अभय चौटाला रहेंगे विधानसभा में विपक्ष के नेता
  • कांग्रेस ने पन्द्रह एवं भाजपा ने एक मुस्लिम प्रत्याशी को दिया मौका
  • कांग्रेस ने पन्द्रह एवं भाजपा ने एक मुस्लिम प्रत्याशी को दिया मौका
  • जम्मू-कश्मीर में टक्कर मारकर फरार होने मामले में चालक गिरफ्तार
  • रुपये की संदर्भ दर
  • एजियन सागर में तुर्की तट रक्षकों ने 40 अप्रवासी बचाये
  • इमरान ने बानी गाला संपत्तियों को नियमित कराने के लिए किया आवेदन
  • माकपा ने तमिलनाडु में तूफान प्रभावितों के लिए आर्थिक सहायता मांगी
  • पतंग के मांजे से गर्दन कटी छात्र की मृत्यु
  • विंडीज़ ने इंग्लैंड को हराया सेमी में आस्ट्रेलिया से मैच
  • विंडीज़ ने इंग्लैंड को हराया सेमी में आस्ट्रेलिया से मैच
  • पंढरपुर में चार लाख लोगों के लिए होगा शौचालय
राज्य Share

बेखौफ खनन माफिया ने डिप्टी रेंजर को कुचला

मुरैना, 07 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में अाज सुबह बेखौफ रेत माफिया ने ड्यूटी पर तैनात एक डिप्टी रेंजर को कुचल दिया।
वारदात को अंजाम देने के बाद अवैध रेत से भरी ट्रेक्टर-ट्रॉली का चालक वाहन ले कर फरार हो गया। इस सनसनीखेज मामले के सामने आने के बाद से पूरे प्रशासनिक अमले में हड़कंप मच गया है। पुलिस अब नजदीकी क्षेत्रों में लगे सीसीटीवी कैमरे खंगालते हुए आरोपी की तलाश में जुट गई है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया ने बताया कि सुबह करीब साढ़े 10 बजे चंबल नदी से रेत भरकर एक ट्रेक्टर-ट्रॉली मुरैना की ओर आ रही थी। इसी दौरान सिविल लाइंस थाना क्षेत्र स्थित बन चौकी पर तैनात डिप्टी रेंजर और चौकी प्रभारी सूबेदार सिंह कुशवाह (45) ने ट्रॉली को रोकने का प्रयास किया। डिप्टी रेंजर को सामने देखने के बाद भी ट्रॉली चालक ने वाहन आगे बढ़ाया और उन्हें कुचल दिया। डिप्टी रेंजर की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।
उन्होंने बताया कि फरार चालक की तलाश के लिए चौकी पर लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज खंगाले जा रहे हैं।
चौकी पर तैनात एक अन्य कर्मचारी भगवान सिंह ने बताया कि श्री कुशवाह ने ट्रॉली के आगे आते हुए उसे रोकने का प्रयास किया, लेकिन चालक ने सीधी टक्कर मारते हुए उन पर वाहन चढ़ा दिया।
इस चौकी पर श्री कुशवाह समेत पांच लोग तैनात थे। अन्य सभी सुरक्षित हैं।
चंबल नदी से खनन रोकने के लिए अदालत के निर्देशों के बाद यहां विशेष सशस्त्र बल (एसएएफ) की तैनाती की गई है, लेकिन वहां एसएएफ का कोई जवान तैनात नहीं था।
सं गरिमा
वार्ता
image