Thursday, Nov 15 2018 | Time 05:05 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • टीआरएस ने 10 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की
  • कोविंद, मोदी ने जीसैट-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी
  • पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी हमलों का स्राेत : मोदी
  • सीटें नहीं मिली तो निर्दलीय के रूप में चुनाव लडेंगे: खान
राज्य Share

अटल के अनछुए पहलुओं से परिचित होंगे छात्र

पटना 07 सितम्बर (वार्ता) अब बिहार में निबंध और कविता के माध्यम से छात्र पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के जीवन से जुड़े अनछुए पहलुओं से परिचित होंगे।
पूर्णिया के पूर्व सांसद उदय सिंह उर्फ पप्पू सिंह की अध्यक्षता में ‘पूर्णिया लोकसभा विकास परिषद्’ के तत्वाधान में होने वाली यह प्रतियोगिता स्कूल और कॉलेज स्तर पर आयोजित होगी। दो स्तरीय प्रतियोगिता सीनियर और जूनियर समूह में होगी। सीनियर समूह में निबंध लेखन 2500 शब्दों का होगा, जबकि जूनियर समूह में 1500 शब्दों में अटलजी पर निबंध लिखना होगा। यह प्रतियोगिता ..अटलप्रतियोगिता एट दी रेट जीमेल डॉट कॉम.. पर आयोजित की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रतियोगिता का मुख्य उद्देश्य युवाओं को श्री वाजपेयी के जीवन, उनके विचार और नीतियों से अवगत कराना है।
श्री सिंह ने कहा, “श्री वाजपेयी राजनीति में पिछले कुछ सालों से सक्रिय नहीं थे, लेकिन उनका होना एक बहुत बड़ी बात थी। अब ऐसे नेता बहुत कुछ कम बचे हैं, जिनकी श्री अटल बिहारी वाजपेयी से तुलना की जा सके। अटल जी हमेशा हम लोगों के बीच प्रेरणा के रूप में रहेंगे। वे भारतीय राजनीति में विराट व्यक्तित्व थे। एक सर्वप्रिय और अच्छे प्रधानमंत्री का इससे बेहतर उदाहरण नहीं हो सकता।”
पूर्व सांसद ने बताया कि निबंध लेखन प्रतियोगिता हिंदी, मैथिली, संस्कृत, उर्दू और अंग्रेजी में आयोजित की जाएगी। प्रतियोगिता पूर्णिया के साथ-साथ सीमांचल के अन्य जिलों अररिया, कटिहार और किशनगंज में भी होगी। एक प्रतिभागी से एक ही भाषा में एक ही निबंध ऑनलाइन स्वीकार किया जायेगा। निबंध लेखन के साथ ही प्रतिभागी अपनी योग्यता और पूरा पता मोबाइल नंबर समेत रंगीन फोटो के साथ ऑनलाइन भेजेंगे। उन्होंने कहा कि निबंध लेखन के विषय और अन्य विस्तृत विवरण शीघ्र विज्ञापन एवं अन्य माध्यमों से प्रकाशित किया जाएगा।
श्री सिंह ने कहा कि निबंध की जांच यूनिवर्सिटी, विशेषज्ञ प्राध्यापकों की जूरी के कराई जाएगी। दोनों वर्ग के प्रतिभागियों में से एक-एक को ‘‘सर्वश्रेष्ठ अटल पुरस्कार’’ दिया जाएगा, बाकी के दोनों वर्ग में चुने गए तीन-तीन श्रेष्ठ प्रतिभागियों को क्रमशः पहला, दूसरा और तीसरा पुरस्कार दिया जाएगा। निबंध लेखन का विज्ञापन 09 सितम्बर को जारी होगा और इसकी अवधि विज्ञापन की तिथि से 30 दिनों तक होगी।
सतीश सूरज
वार्ता
More News
कोलकाता में ‘रसगुल्ला दिवस’ पर मनाया जा रहा है जश्न

कोलकाता में ‘रसगुल्ला दिवस’ पर मनाया जा रहा है जश्न

14 Nov 2018 | 11:44 PM

कोलकाता, 14 नवंबर (वार्ता) मिष्ठान प्रेमी बंगाल वासियों के लिए 14 नवंबर का दिन विशेष महत्व का है क्योंकि अपनी विशिष्ट विरासत को समेटे बंगाल के रसगुल्ला को पिछले वर्ष इसी दिन भौगोलिक पहचान (जीआई) का तमगा हासिल हुआ था।

 Sharesee more..
राज्यपाल अभिवादन स्वरूप महामहिम नहीं माननीय का प्रयोग किया जाए : मौर्य

राज्यपाल अभिवादन स्वरूप महामहिम नहीं माननीय का प्रयोग किया जाए : मौर्य

14 Nov 2018 | 11:37 PM

देहरादून, 14 नवम्बर (वार्ता) उत्तराखंड की राज्यपाल बेबी रानी मौर्य ने निर्देश दिया है कि भविष्य में एक रिवाज के प्रयोजन हेतु अभिवादन स्वरूप जहाँ महामहिम राज्यपाल शब्द प्रयोग किया जाता है उसके स्थान पर राज्यपाल महोदय या ‘‘माननीय राज्यपाल’’ का प्रयोग किया जाए।

 Sharesee more..
संजय कुमार के मीटू के आरोप में फंसने के मसले पर बोले त्रिवेन्द्र

संजय कुमार के मीटू के आरोप में फंसने के मसले पर बोले त्रिवेन्द्र

14 Nov 2018 | 11:16 PM

नैनीताल 14 नवम्बर (वार्ता) उत्तराखंड के मुख्यमत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के निवर्तमान प्रदेश महासचिव संजय कुमार के मी टू के आरोप में फंसने पर बुधवार को तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि गलती करने वाले को सजा मिलनी चाहिए।

 Sharesee more..
image