Monday, Jun 17 2019 | Time 22:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • एआईएमआईएम के पार्षदों का औरंगाबाद महापौर के खिलाफ धरना
  • कपड़ा मजदूरों ने 27 जून को हड़ताल का ऐलान किया
  • जेपी नड्डा को भाजपा का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाये जाने पर सुशील ने दी बधाई
  • जल सरंक्षण के लिए श्री दरबार साहिब में सयंत्र स्थापित
  • दिल्ली पुलिस की सिख युवक से मारपीट की लोंगोवाल ने की निंदा
  • मरीज की मौत को लेकर हुआ हंगामा
  • स्कूल वैन से गिरे तीन बच्चे घायल
  • 2027 तक भारत सर्वाधिक आबादी वाला देश होगा
  • कुशीनगर से दो तस्कर गिरफ्तार,40 लाख की शराब बरामद
  • ‘वर्ल्‍ड फूड इंडिया नई दिल्‍ली में नवंबर में
  • चमकी बुखार से बच्चों की हुई मौत पर राष्ट्रीय मानवाधिकार का बिहार सरकार को नोटिस
  • उम्रकैद की सजा काट रहे पूर्व विधायक एवं दो साथियों के लाइसेंस निरस्त
  • चंदौली में शराब फैक्ट्री का पर्दाफाश,पांच गिरफ्तार
  • बिहार में लू का कहर जारी : मृतकों की संख्या 100 के पार
  • एसटीएफ ने गोरखपुर से किया इनामी अपराधी को गिरफ्तार।
राज्य


भोपाल पुलिस ने 14 हत्या कर ट्रक लूटने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया, तीन गिरफ्तार

भोपाल, 07 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश की भोपाल पुलिस ने ट्रक का माल लूटने के 12 अलग-अलग मामलों में 14 ट्रक चालकों और परिचालकों की हत्या करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरोह में शामिल एक आरोपी ने अलग से की गई ऐसी ही वारदातों में भी आठ हत्याएं की हैं, इसमें तीन हत्याओं में दूसरा आरोपी भी सहआरोपी है।भोपाल के पुलिस महानिरीक्षक (आईजी) जयदीप प्रसाद ने आज यहां बताया कि बिलखिरिया थाना क्षेत्र में 15 अगस्त को ट्रक चालक माखनलाल का शव मिला था। वह दो दिन पहले रायसेन जिले के मंडीदीप से ट्रक में माल भर कर निकला था। ट्रक में भरे लोहे के सरिए गायब थे।
मामले की जांच के लिए भोपाल दक्षिण के पुलिस अधीक्षक (एसपी) राहुल लोढा के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। इसमें अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दिनेश कौशल, नगर पुलिस अधीक्षक बिट्टू शर्मा, बिलखिरिया के नगर निरीक्षक एल एस ठाकुर और मिसरोद के नगर निरीक्षक संजीव चौकसे शामिल थे।
श्री प्रसाद ने बताया कि टीम ने हर पहलु पर जांच की और रास्ते के सीसीटीवी फुटेज भी देखे। जांच के दौरान ही थाना मिसरोद में पूना से चले एक ट्रक के गायब होने की सूचना प्राप्त हुई। यह ट्रक मिसरोद थाना क्षेत्र में मिला। इन मामलों की विभिन्न कड़ियों को जोड़ते हुए पुलिस ने चालक की हत्या कर ट्रक लूटने वाले गिरोह के आदेश खामरा, जयकरण प्रजापति और तुकाराम को गिरफ्तार किया।
आदेश मंडीदीप के खिरिया मोहल्ला का निवासी है। जयकरण छतरपुर के बारीगड़ का मूल निवासी है, वह फिलहाल भोपाल के छोला रोड में रहता है। तुकाराम महाराष्ट्र के यवतमाल जिले के कोपरा गांव का रहने वाला है।
आरोपियों ने बताया कि जयकरण ट्रक चालकों से दोस्ती कर आदेश को अपना मालिक कहकर मिलवाता था। वे पार्टी के बहाने ट्रक के चालक और परिचालक को अपने जाल में फंसाते थे और उनके खान-पान में नींद की गोलियां मिला देते थे। इसके बाद ट्रक लूटकर रास्ते में उनकी हत्या करके लाश सुनसान इलाके में फेंक देते थे। इनके काम में तुकाराम साथ देता था।
आरोपियों ने पूछताछ में अब तक 12 मामलों में 14 हत्याएं कबूलते हुए बताया है कि उन्होंने अधिकतर लाश चंदेरी के पास फेंकी थीं। उन्होंने सात लाश वहां फेंकीं। दो-दो लाश विदिशा एवं संबलपुर और एक-एक लाश बिलखिरिया एवं बरखेड़ा रेलवे ट्रेक पर फेंकी थी। थाना अशोका गार्डन से ट्रक चोरी के मामले में शव का पता अभी नहीं चला है। इनमें से संबलपुर और रेलवे ट्रेक पर मिली लाश वाली वारदात आदेश ने अकेले की थी।
श्री प्रसाद ने बताया कि आदेश इस गिरोह से पहले भी ट्रक लूटकर आठ हत्याएं कर चुका है। वह पूर्व में भी अलग-अलग जगह गिरफ्तार हो चुका है। वह वर्ष 2010 में दो, वर्ष 2012 में तीन, वर्ष 2013 में एक और वर्ष 2014 में दो हत्याएं कर चुका है। वर्ष 2013 और 2014 की वारदात में तुकाराम भी उसका सहआरोपी था।
आईजी ने बताया कि गिरोह के महाराष्ट्र और बिहार में भी संपर्क हैं। उनसे पूछताछ जारी है।
पवन सुधीर
वार्ता
image