Friday, Jul 19 2019 | Time 17:48 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इंग्लैंड के स्टोक्स चुने गये ‘न्यूजीलैंडर ऑफ द ईयर’
  • डॉबर का मुनाफा 10 फीसदी बढ़ा
  • पर्ल एकेडमी का शत प्रतिशत प्लेसमेंट का वादा
  • सेंसेक्स 560 अंक लुढ़ककर दो महीने के निचले स्तर पर
  • कार-टैंकर भिडंत में चार मरे, आठ घायल
  • रुपया 17 पैसे चढ़ा
  • कर्नाटक संकट फिर पहुंचा शीर्ष अदालत की चौखट पर
  • भाजपा सरकार अपराध रोकने में नाकाम : प्रियंका
  • विदेशी मुद्रा भंडार 1 11 अरब डॉलर घटा
  • दिव्यांग अधिनियम 2016 को पूरे मनोयोग से लागू करने के निर्देश
  • बठिंडा बाढ़ ‘नेता निर्मित आपदा‘ : खेहरा
  • इंडिगो को 1,203 करोड़ रुपये का मुनाफा
  • भोपाल जेल में डॉक्टरों की कमी का मुद्दा लोकसभा में गूंजा
  • प्रियंका को रोके जाने की घटना अलोकतांत्रिक - कमलनाथ
  • कृषि उपकरणों पर जीएसटी हटाने की मांग उठी राज्यसभा में
राज्य


गोबिंद रबड़ लिमिटेड के मालिक की गिरफ्तारी की मांग

लुधियाना, 07 सितंबर (वार्ता) पंजाब के लुधियाना में गोबिंद रबड़ लिमिटेड (जीआरएल) के मजदूरों के एक प्रतिनिधि
मंडल ने आज पुलिस आयुक्त व जिला उपायुक्त कार्यालय में सहायक उपायुक्त से मिलकर कंपनी के मालिक को गिरफ्तार करने की मांग की।
कारखाना मजदूर यूनियन के अध्यक्ष लखविंदर के आज यहां जारी बयान के अनुसार पुलिस व प्रशासन को बताया गया है कि कंपनी ने करीब 1500 मजदूरों के चार-चार महीने के वेतन, ओवरटाइम का पैसा, अक्टूबर 2017 से कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) का पैसा, कर्मचारी राज्य बीमा (ईएसआई), बोनस, छुट्टियाें आदि का करोड़ों रुपए बिना दिए लुधियाना के जोगियाना में स्थित इसके तीन यूनिट बंद कर दिए हैं।
उन्होंने आरोप लगाया कि कंपनी के मालिक विनोद पोद्दार ने बार-बार वेतन आदि बकाया देने का वादा किया गया था लेकिन दिया नहीं गया। 24 अप्रैल को नोटिस जारी किया गया था कि कच्चे माल की कमी के कारण एक सप्ताह के लिए बंद किए जा रहे हैं लेकिन दुबारा कारखाने चलाए ही नहीं गए बल्कि स्थायी तौर पर बंद कर दिए गए।
उन्होंने आरोप लगाया कि यह मामला मजदूरों के साथ धोखाधड़ी करके करोड़ों रूपए के घोटाले का है और इसमें कार्रवाई होनी चाहिए।
मजदूरों ने इंसाफ न मिलने की सूरत में संघर्ष तेज करने की चेतावनी दी है।
महेश विक्रम
वार्ता
image