Wednesday, Jan 23 2019 | Time 17:03 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राजनीति में उतरी प्रियंका, गरमायेगा उत्तर प्रदेश
  • कश्मीर में आतंकवादी और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़
  • जयंती के मौके पर याद किये गये नेताजी
  • ईवीएम विवाद : नीतीश ने कहा, ईवीएम ने मताधिकार को मजबूत किया
  • अस्थाना के तबादले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गयी
  • लगातार दूसरे दिन शेयर बाजार में हावी रही बिकवाली
  • राजीव दीक्षित की मौत की पीएमओ के निर्देश पर
  • घरेलू कामगारों पर भारत ने किया कुवैत के साथ समझौता
  • जोकोविच सेमीफाइनल में, सेरेना का सपना टूटा
  • पात्रता निर्धारित होने पर बीपीएल परिवारों को एक रुपए किलो गेंहू-मीणा
  • गुजरात के स्कूलों में ऑनलाइन गेम पबजी पर लगा प्रतिबंध
  • मारुति ने उतारी नयी वैगन आर; कीमत 4 19 से 5 69 लाख रुपये तक
  • आईटीसी के मुनाफे में चार फीसदी की बढ़त
राज्य Share

आरोग्य योजना में 1350 बीमारियों का पैकेज

इलाहाबाद,07 सितम्बर (वार्ता) प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में लाभार्थियों को 1350 बीमारियों के लिए पैकेज तैयार किया गया है जिसमें गरीब जनता अधिकाधिक लाभान्वित होगी।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा़ जी एस वाजपेयी ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि 23 सितम्बर को इस योजना की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिल्ली में विधिवत शुरूआत करने के बाद जिले के सभी मेड़िकल कालेज, जिला चिकित्सालयों, 20 ब्लाक स्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा योजना के अन्तर्गत इम्पनलमेन्ट निजी चिकित्सालयों में योजना का लाभ मिलने लगेगा।
उन्होंने बताया कि इस योजना का पायलेट टेस्टिंग गुरूवार को तेज बहादुर सप्रू चिकित्सालय में शहर उत्तरी के विधायक हर्ष वर्धन वाजपेयी द्वारा किया जायेगा। पहले चरण में जिला सरकारी अस्पतालों को सम्मिलित किया गया है।
श्री वाजपेयी ने बताया कि योजना के तहत लाभार्थियों को 1350 बीमारियों के लिए पैकेज तैयार किया गया है। योजना के लाभार्थियों का चयन सामाजिक, आर्थिक एवं जातिगत आधार पर जनगणना 2011 निर्धारित पात्रता के आधार पर की गई है। इसमें परिवार के आकार, आयु, लिंग का कोई प्रतिबंध नहीं है। सरकारी डाटा बेस में सभी योग्य सदस्य इस योजना में शामिल होंगे।
उन्होंने बताया कि आईपीडी में जो मरीज रजिस्ट्रेशन के लिए आयेंगे उनकी पहचान योजना लाभार्थी सूची से मिलान कर की जायेगी। सूची में उपलब्ध लाभार्थियों को गोल्ड कार्ड उपलब्ध कराया जायेगा।
मुख्य चिकित्सधिकारी ने बताया कि लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में परिवार को पैसे देने की जरूरत नहीं होगी। पहले से मौजूद सभी बीमारियों पर पॉलिसी के पहले दिन से बीमा लागू होगा। अस्पताल में भर्ती होने से पहले और छोड़ने के बाद इलाज पर होने वाला खर्च बीमा में शामिल है। देश के किसी भी स्थान में सभी सार्वजनिक या सूची में शामिल निजी अस्पतालों में कैसलेस उपचार करा सकते हैं। कैसलेस उपचार पाने के लिए सरकारी मान्यता प्राप्त पहचान पत्र अस्पताल में दिखाना होगा जहां उनकी सहायता के लिए आरोग्य मित्र तैनात रहेंगे।
दिनेश तेज
वार्ता
More News
ईवीएम विवाद : नीतीश ने कहा, ईवीएम ने मताधिकार को मजबूत किया

ईवीएम विवाद : नीतीश ने कहा, ईवीएम ने मताधिकार को मजबूत किया

23 Jan 2019 | 4:57 PM

पटना, 23 जनवरी (वार्ता) देश में इलेक्ट्राॅनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) को लेकर जारी ताजा विवाद के बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज ईवीएम से मतदान का समर्थन करते हुए कहा कि इसने लोगों के मत देने के अधिकार को और मजबूत किया है।

 Sharesee more..

कुशीनगर में सड़क हादसे में मासूम की मृत्यु

23 Jan 2019 | 4:55 PM

 Sharesee more..
image