Wednesday, Nov 14 2018 | Time 12:24 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जम्मू के माधोपुर में बंदूक की नोक पर कब्जे में ली टैक्सी
  • चुनाव ड्यूटी से लौट रहे जवानों को नक्सलियों ने बनाया निशाना
  • कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों का खोजी अभियान फिर शुरू
  • भाई-बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक सामा-चकेवा शुरू
  • ट्रक एवं कार की टक्कर में छह लोगों की मौत, चार घायल
  • पुलिस मुठभेड़ में कुख्यात अपराधी हीरो मारा गया , दो गिरफ्तार
  • प्रणव, हामिद ने नेहरू को उनके जन्मदिवस पर नमन किया
  • तेलंगाना विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला
  • सिंगापुर में आज शुरू होगी दो दिवसीय पूर्वी एशिया शिखर बैठक
  • हैदराबाद में कार पेड़ से टकराई, आठ लोग घायल
  • बाल दिवस: गूगल ने डूडल बनाकर नेहरु और बच्चों को किया समर्पित
  • बिहार में सूर्योपासना का महापर्व छठ समाप्त
  • कैलिफोर्निया में भीषण आग, मरने वालो की संख्या बढ़ कर 48 हुुई
  • गोण्डा सड़क दुर्घटना में कार सवार तीन लोगों की मृत्यु
  • मोदी ने नेहरू की जयंती पर उन्हें किया याद
राज्य Share

आरोग्य योजना में 1350 बीमारियों का पैकेज

इलाहाबाद,07 सितम्बर (वार्ता) प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में लाभार्थियों को 1350 बीमारियों के लिए पैकेज तैयार किया गया है जिसमें गरीब जनता अधिकाधिक लाभान्वित होगी।
मुख्य चिकित्साधिकारी डा़ जी एस वाजपेयी ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि 23 सितम्बर को इस योजना की प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिल्ली में विधिवत शुरूआत करने के बाद जिले के सभी मेड़िकल कालेज, जिला चिकित्सालयों, 20 ब्लाक स्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों तथा योजना के अन्तर्गत इम्पनलमेन्ट निजी चिकित्सालयों में योजना का लाभ मिलने लगेगा।
उन्होंने बताया कि इस योजना का पायलेट टेस्टिंग गुरूवार को तेज बहादुर सप्रू चिकित्सालय में शहर उत्तरी के विधायक हर्ष वर्धन वाजपेयी द्वारा किया जायेगा। पहले चरण में जिला सरकारी अस्पतालों को सम्मिलित किया गया है।
श्री वाजपेयी ने बताया कि योजना के तहत लाभार्थियों को 1350 बीमारियों के लिए पैकेज तैयार किया गया है। योजना के लाभार्थियों का चयन सामाजिक, आर्थिक एवं जातिगत आधार पर जनगणना 2011 निर्धारित पात्रता के आधार पर की गई है। इसमें परिवार के आकार, आयु, लिंग का कोई प्रतिबंध नहीं है। सरकारी डाटा बेस में सभी योग्य सदस्य इस योजना में शामिल होंगे।
उन्होंने बताया कि आईपीडी में जो मरीज रजिस्ट्रेशन के लिए आयेंगे उनकी पहचान योजना लाभार्थी सूची से मिलान कर की जायेगी। सूची में उपलब्ध लाभार्थियों को गोल्ड कार्ड उपलब्ध कराया जायेगा।
मुख्य चिकित्सधिकारी ने बताया कि लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने की स्थिति में परिवार को पैसे देने की जरूरत नहीं होगी। पहले से मौजूद सभी बीमारियों पर पॉलिसी के पहले दिन से बीमा लागू होगा। अस्पताल में भर्ती होने से पहले और छोड़ने के बाद इलाज पर होने वाला खर्च बीमा में शामिल है। देश के किसी भी स्थान में सभी सार्वजनिक या सूची में शामिल निजी अस्पतालों में कैसलेस उपचार करा सकते हैं। कैसलेस उपचार पाने के लिए सरकारी मान्यता प्राप्त पहचान पत्र अस्पताल में दिखाना होगा जहां उनकी सहायता के लिए आरोग्य मित्र तैनात रहेंगे।
दिनेश तेज
वार्ता
More News
ट्रक एवं कार की टक्कर में छह लोगों की मौत, चार घायल

ट्रक एवं कार की टक्कर में छह लोगों की मौत, चार घायल

14 Nov 2018 | 12:20 PM

बीकानेर 14 नवम्बर (वार्ता) राजस्थान में बीकानेर जिले के डूंगरगढ़ थाना क्षेत्र में आज ट्रक और कार की टक्कर से छह लोगों की मौत हो गई जबकि अन्य चार घायल हो गये।

 Sharesee more..

महोबा में शव फांसी पर झूलता मिलने से सनसनी

14 Nov 2018 | 12:20 PM

 Sharesee more..
image