Wednesday, Jun 26 2019 | Time 20:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पश्चिम बंगाल और सिक्किम में कहीं कहीं अति वृष्टि के आसार
  • आयुष्मान भारत योजना में गड़बड़ी के मामले में राज्य सरकार से जवाब तलब
  • आगरा सड़क हादसे में ई-रिक्शा सवार छह लोगों की मृत्यु
  • न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को दी 238 की चुनौती
  • न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को दी 238 की चुनौती
  • निजी एजेंसियाँ भी कर सकेंगी उपग्रहों का प्रक्षेपण
  • नशा के कारण अपने उदेश्य से भटक रहे हैं युवक: मक्कड़
  • पाकिस्तान समेत एशिया-प्रशांत समूह के सभी देशों ने किया भारत का समर्थन
  • शादी में शामिल होने जा रहे परिवार की कार खाई में गिरने से छह की मौत
  • हरियाणा खिलाड़ियों को देता है सर्वाधिक पुरस्कार राशि, नहीं किया कभी अपमान: विज
  • गहलोत ने दिखायी मादक पदार्थ निरोध दौड़ को हरी झंडी
  • मधुमक्‍खी पालन विकास समिति ने प्रधानमंत्री को रिपोर्ट सौंपी
  • एईएस से हो रही मौत के मुद्दे पर विधानमंडल में सरकार को घेरेगी राजद
  • झांसी पुलिस ने 13 किलो गांजे के साथ गिरफ्तार किये दो तस्कर
  • उत्तराखण्ड सड़क हादसे में सहारनपुर की महिलाओं एवं दो बच्चों की मृत्यु
राज्य


रिज़वी पर कार्रवाई करो नहीं तो होगा विरोध प्रदर्शन : कल्बे जवाद

लखनऊ, 07 सितम्बर (वार्ता) मुस्लिम धर्मगुरू मौलाना कल्बे जव्वाद ने शिया वक्फ बोर्ड़ के चेयरमैन वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुये चेतावनी दी है कि उत्तर प्रदेश सरकार इस मामले में कोताही बरतती है तो उस दशा में मुस्लिम समुदाय एकजुट होकर प्रदर्शन को बाध्य होगा।
मौलाना ने इस सिलसिले में शुक्रवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात कर अपनी मंशा का इजहार किया। इससे पहले मौलाना कल्बे जव्वाद ने एेतिहासिक आसफी मस्जिद में जुमे की नमाज के बाद खुतबे में कहा “ अगर वसीम के खिलाफ सरकार ने कार्रवाई नहीं कि तो मोहर्रम के बाद शिया और सुन्नी मिल कर ऐतिहासिक विरोध प्रदर्शन करेंगे। ”
उन्होने कहा “ हमारा राष्ट्रीय मीडिया ऐसे विवादित लोगो को प्राथमिकता दे रहा है जो मुसलमानों के खिलाफ ज़हर उगल रहे हैं। समाज में घृणा फैलाने वालों पर मीड़िया को ध्यान नहीं देना चाहिए। शिया वक्फ बोर्ड़ के चेयरमैन कभी देवा शरीफ में आने वाली श्रद्धालु महिलाओं का अपमान करते हैं तो कभी मदरसों के चरित्र को बदनाम करने की कोशिश करते हैं। मदरसे के संचालक वसीम की ऐसी हरकतों पर खामोश क्यों है ये गंभीर प्रश्न है। ”
इमाम जुमा ने कहा कि प्रमुख शिया धर्मगुरू आयतुल्लाह सैयद अली सीस्तानी का खुलेआम अपमान करने वाले की जितनी निन्दा की जाये कम है। उन्होने सरकार से अपील करते हुए कहा कि शियों का इस विवादित व्यक्ति से कोई रिश्ता नहीं है।
मुसन्ना प्रदीप
वार्ता
image