Sunday, Sep 23 2018 | Time 21:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • छोटा उदेपुर में नदी में डूबने से दो युवकों की मौत
  • जम्मू कश्मीर में 90:10 के अनुपात से होगा बीमा योजना के तहत भुगतान
  • कांग्रेस सभी वर्गों को लेकर चलती है साथ- पायलट
  • मुजफ्फरपुर के पूर्व महापौर और उनके चालक की हत्या
  • कायेस और महमूदुल्लाह के अर्धशतकों से बंगलादेश के 249
  • संंप्र्रग सरकार द्वारा शुरू की गई योजनाओं का श्रेय ले रहे हैं प्रधानमंत्री: जेना
  • आदिवासियों के नाम पर हुई वोट बैंक की राजनीति : रघुवर
  • पाकिस्तान ने भारत को दी 238 की चुनौती
  • आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा
  • करंट लगने से मजदूर की मौत, छह घायल
  • अपराधियों ने चाकू मारकर की युवक की हत्या
  • फोटो कैप्शन-तीसरा सेट
  • खराब मौसम के कारण कैलास यात्रा से लौटे श्रद्धालु उत्तराखंड में फंसे
  • राहुल और ओलांद के बयानों में तारतम्य की कोई वजह जरूर है: जेटली
  • शेखावाटी की धरती पर पहुंचाया हिमालय का पानी-वसुंधरा
राज्य Share

सूखे की स्थिति से निपटने के लिए उठाये जा रहे हैं कदम: चन्द्रबाबू नायडू

अमरावती 07 सितंबर (वार्ता) आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन चन्द्रबाबू नायडू ने शुक्रवार को कहा कि राज्य सरकार रायलसीमा क्षेत्र में सूखे की स्थिति से निपटने के लिए कई कदम उठायेगी और किसानों के हितों की रक्षा करने के लिए प्रतिबद्ध है।
श्री नायडू ने कहा कि रायलसीमा क्षेत्र में बारिश की कमी के बावजूद किसानों को सिंचाई के लिए पानी की आपूर्ति के उपायों को शुरू किया जा रहा है।
मुख्यमंत्री ने विधानसभा में राज्य में सूखे की स्थिति पर नियम 344 के तहत एक प्रश्न के उत्तर में कहा कि राज्य सरकार ने प्रौद्योगिकी को उपयोग करते हुए फसलों को बचाने के लिए तत्काल कदम उठाने की शुरुआत की है। उन्होंने कहा कि किसानों को उर्वरकों के उपयोग को कम करके पैदावार की लागत में कटौती करने के लिए सूक्ष्म पोषक तत्वों की आपूर्ति की जा रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार पांच लाख एकड़ भूमि में खेति के लिए जीरो बजट शुरू कर रही है। संयुक्त राष्ट्र ने जीरो बजट खेती पर एक प्रस्तुति के लिए राज्य सरकार को भी आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा सूखा प्रभावित जिलों में 11781.25 रुपये के व्यय के साथ 18 हजार 125 हेक्टेयर भूमि में सूक्षम सिंचाई की शुरू की है। इसे एक लाख 68
हजार हेक्टेयर में प्रोत्साहित करने का प्रस्ताव है।
श्री नायडू ने बताया कि जेबा प्रौद्योगिकी को उपयोग किया जा रहा है। छह सूखाग्रस्त जिलों में 11735 हेक्टेयर भूमि में आर्द्रता के लिए 157.27 टन जेबा वितरित की गयी है जिसका उपयोग पानी की कमी के दौरान किया जाता है। उन्होेंने कहा कि सरकार रायलसीमा क्षेत्र में कृष्णा के पानी की आपूर्ति करके वर्तमान सूखे की स्थिति से निपटने का समाना कर सकती है। उन्होंने कहा कि कृष्णा डेल्टा आयुक्त को पट्टीसेमा से सिंचाई योजना के माध्यम से गोदावरी पानी की आपूर्ति करके स्थिर किया गया था।
इससे पहले उपमुख्यमंत्री एन चिनारप्पा, मंत्री कलावा श्रीनिवासुलु, विधायक जी सूर्यानारायण, वाई संबासिवा राव, डीबीवी स्वामी, बी जयनागेश्वरा रेड्डी ने अपने विधानसभा क्षेत्रों के बारे में सूखे की स्थिति से अवगत कराया।
उप्रेती.श्रवण
वार्ता
More News
आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा

आयुष्मान भारत : स्वास्थ्य के क्षेत्र में लंबी छलांग - नड्डा

23 Sep 2018 | 9:18 PM

रांची 23 सितंबर (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री जे. पी. नड्डा ने आज कहा कि केंद्र की महत्वाकांक्षी आयुष्मान भारत के तहत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना स्वास्थ्य के क्षेत्र में देश की लंबी छलांग है।

 Sharesee more..
बारिश से मकान की छत ढहने से मां-बेटी की मौत,4 अन्य घायल

बारिश से मकान की छत ढहने से मां-बेटी की मौत,4 अन्य घायल

23 Sep 2018 | 9:05 PM

सिरसा, 23 सितंबर(वार्ता) हरियाणा में सिरसा में डबवाली उपमंडल के गांव नीलांवाली में लगातार हो रही बारिश के कारण आज एक मकान की छत ढहने से माँ-बेटी की मौत हो गई, जबकि पति गंभीर घायल हो गया।

 Sharesee more..
image