Thursday, Sep 19 2019 | Time 05:26 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्रीलंका में 16 नवंबर को होंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव
  • हौथी विद्रोहियों ने दुबई, अबू धाबी में दी हमले की धमकी
  • चुनाव नतीजे के कारण संयुक्त राष्ट्र महासभा में भाग नहीं लेंगे नेतन्याहू : रिपोर्ट
  • बंगलादेश ने रोहिंग्या संकट सुलझाने के लिए वैश्विक प्रयास की मांग की
  • खड्ड में गिरकर सगे भाइयों की हुई मौत
  • ट्रंप ने रोबर्ट ओ-ब्रायन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नियुक्त किया
  • समर्थ सिंह बने यूपी की विजय हजारे टीम के कप्तान
राज्य


झारखण्ड की तर्ज पर कानपुर के बिल्हौर में बनेगा खादी पार्क:पचौरी

लखनऊ,07 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के खादी एवं ग्रामोद्योग मंत्री सत्यदेव पचैरी ने कहा कि कानपुर के बिल्हौर में झारखण्ड राज्य की तर्ज पर खादी पार्क की स्थापना की जाएगी।
श्री पचौरी ने गुरूवार को यहां कहा कि उत्तर प्रदेश खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड’’ की हुई प्रथम बैठक में इस संबंध में सहमति बन गई है। उन्होंने एक समिति द्वारा झारखण्ड में स्थापित खादी-पार्क का अध्ययन कर प्रस्ताव तैयार करने के लिए उन्होेंने अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने यह भी कहा कि जहां-जहां बोर्ड की जमीन है, तत्काल उसकी चाहरदीवारी कराई जाये।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हाथ कागज केन्द्र कालपी जालौन को पीपीपी माडल के आधार पर पुनः संचालित कराया जायेगा। खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा संचालित प्रशिक्षण कार्यक्रमों को कौशल विकास योजनाओं से जोड़ा जायेगा। उन्होंने कहा कि बुंदेलखण्ड के विकास हेतु वहां एक ट्रेनिंग सेंटर स्थापित कराया जायेगा। साथ ही विभाग द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले कामगारों को 250 रुपये प्रतिदिन मानदेय दिये जाने की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जायेगी।
खादी मंत्री ने कहा कि विभाग में कार्यरत संविदा कर्मियों को बहुत कम मानदेय मिल रहा है। मंहगाई को देखते हुए इनको दिये जाने वाला मानदेय पर्याप्त नहीं है, इसलिए इसमें वृद्धि आवश्यक है। उन्होंने कहा कि कम्प्यूटर आपरेटर को 16 हजार, समूह ग के कर्मी को 15 हजार तथा समूह ‘घ’ के कर्मचारियों को 10 हजार मानदेय दिया जाना चाहिए। इसपर बोर्ड के सभी सदस्यों ने अपनी सहमति व्यक्त की।
प्रमुख सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग नवनीत सहगल ने बैठक में बोर्ड के पदाधिकारियों को विभागीय योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को रोजगार मुहैया कराने के लिए प्रमुख रूप से तीन योजनाएं संचालित है, इनमें मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम एवं पं0 दीनदायाल ग्रामोद्योग रोजगार योजना शामिल हैं। उन्होंने बताया कि खादी एवं ग्रामोद्योग नीति जारी की गई है। जिस प्रकार से बड़े उद्योग को लाभ मिला करता था, उसी प्रकार छोटे उद्योगों को सहूलित देने की व्यवस्था बनाई गई है। सोलर चर्खे से बने वस्त्र को खादी की मान्यता देने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य है।
तेज
वार्ता
More News
सेना प्रमुख बिपिन रावत ने किये केदारनाथ, बदरीनाथ के दर्शन

सेना प्रमुख बिपिन रावत ने किये केदारनाथ, बदरीनाथ के दर्शन

18 Sep 2019 | 11:57 PM

रुद्रप्रयाग 18 सितंबर (वार्ता) सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने बुधवार को केदारनाथ और बदरीनाथ मंदिर पहुंचकर अपने परिवार के सदस्यों के साथ वहां पूजा-अर्चना की।

see more..
चार करोड़ 77 लाख के नकली नोट के साथ दो लोग गिरफ्तार

चार करोड़ 77 लाख के नकली नोट के साथ दो लोग गिरफ्तार

18 Sep 2019 | 11:44 PM

जयपुर 18 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान पुलिस ने चार करोड़ 77 लाख रुपये के नकली नोट बरामद कर दो लोगों को आज गिरफ्तार किया।

see more..
image