Wednesday, Nov 14 2018 | Time 12:01 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कुपवाड़ा में सुरक्षा बलों का खोजी अभियान फिर शुरू
  • भाई-बहन के अटूट प्रेम का प्रतीक सामा-चकेवा शुरू
  • ट्रक एवं कार की टक्कर में छह लोगों की मौत, चार घायल
  • पुलिस मुठभेड़ में कुख्यात अपराधी हीरो मारा गया , दो गिरफ्तार
  • प्रणव, हामिद ने नेहरू को उनके जन्मदिवस पर नमन किया
  • तेलंगाना विधानसभा चुनाव में त्रिकोणीय मुकाबला
  • सिंगापुर में आज शुरू होगी दो दिवसीय पूर्वी एशिया शिखर बैठक
  • हैदराबाद में कार पेड़ से टकराई, आठ लोग घायल
  • बाल दिवस: गूगल ने डूडल बनाकर नेहरु और बच्चों को किया समर्पित
  • बिहार में सूर्योपासना का महापर्व छठ समाप्त
  • कैलिफोर्निया में भीषण आग, मरने वालो की संख्या बढ़ कर 48 हुुई
  • गोण्डा सड़क दुर्घटना में कार सवार तीन लोगों की मृत्यु
  • मोदी ने नेहरू की जयंती पर उन्हें किया याद
  • अमेरिकी रक्षा मंत्री और कतर के उप प्रधानमंत्री ने अफगानिस्तान केे मसले पर बातचीत की
  • कोविंद ने नेहरु को किया नमन
राज्य Share

मध्यप्रदेश में फिर झमाझम, हिमालय से आ रही हवाओं से सितंबर हुअा सर्द

भोपाल, 08 सितंबर (वार्ता) कुछ दिनों की राहत के बाद मध्यप्रदेश का बड़ा हिस्सा एक बार फिर तरबतर हो गया है।
राजधानी भोपाल समेत कई जिलों में कल से रूक-रूक कर बारिश हो रही है। हिमालय की ओर से आ रही तेज ठंडी हवाओं ने माहौल में सर्दी का अहसास और घोल दिया है। इसके चलते अाज सुबह स्कूल जाने वाले बच्चे और मॉर्निंग वॉक करने वाले लोग गर्म कपड़ों में लिपटे दिखाई दिए।
स्थानीय मौसम विभाग के मुताबिक पूर्वी मध्यप्रदेश अौर आसपास के क्षेत्र से दक्षिणी उत्तरप्रदेश, हरियाणा और पंजाब तक स्पष्ट चिन्हित कम दवाब का क्षेत्र बना हुआ है, जिसके चलते एक बार फिर समूचे प्रदेश में झमाझम बारिश का दौर शुरू हो गया है। वहीं हिमालय पर्वत श्रंखला से शक्तिशाली पूर्वी हवाएं डेढ़ से लेकर साढ़े तीन किलोमीटर प्रति घंटा की गति से दक्षिण-पूर्वी हवाओं के रुप में उत्तरी तथा दक्षिण-पूर्वी मध्यप्रदेश में आ रही हैं। इसके कारण प्रदेश में ठंड महसूस हो रही है।
प्रदेश के शिवपुरी में पिछले करीब सात दिन से लगातार जारी बारिश से कई क्षेत्र पानी से घिर गए हैं। स्थानीय नदियों के उफान पर आने से कई गांवों में बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है। जिला मुख्यालय पर भी कई घरों में पानी भरने की शिकायतें मिल रही हैं।
वहीं नजदीकी श्योपुर में भी कल रात मूसलाधार बरसात से जनजीवन पूरी तरह अस्तव्यस्त हो गया। एक घंटे में करीब तीन इंच बारिश से शहर के बाजार और मोहल्ले तालाब बन गए। कई जगह शादियां भी भारी बारिश से प्रभावित हुईं।
प्रदेश के बघेलखंड क्षेत्र के रीवा, सतना और सीधी में भी भारी बारिश और जगह-जगह जलभराव की खबरें हैं।
टीम गरिमा
वार्ता
image