Wednesday, Jan 23 2019 | Time 18:46 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • श्री हजूर साहब के प्रबंधन में दख़लअंदाजी बर्दाश्त नहीं: लोंगोवाल
  • विराट को आखिरी दो वनडे और ट्वंटी-20 सीरीज से विश्राम
  • दृष्टि/नेत्रहीनों को भारतीय मुद्रा की पहचान हेतु आईआईटी राेपड़ ने लाँच की एंड्रायड ऐप ‘रोशनी‘
  • फिल्म निर्माण को बढ़ावा देकर रोजगार सृजन प्राथमिकता : रघुवर
  • प्रियंका को लाकर कांग्रेस ने राहुल की नाकामी स्वीकारी : भाजपा
  • वनवासियों का अभियान चलाकर राजस्व रिकार्डों में दर्ज हो नाम- भूपेश
  • ‘करतारपुर कॉरिडोर मसले पर भारत ने पाकिस्तान को भेजा निमंत्रण’
  • करतारपुर गलियारा परियोजना धीमी प्रगति के लिए कैप्टन सरकार जिम्मेदार: छीना
  • बारामूला मुठभेड़: तीन आंतकवादी ढेर, अभियान जारी
  • कुश्ती लीग की 50 यादगार कुश्तियों पर किताब रिलीज़
  • एनडीआरएफ को पहला नेताजी सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार
  • राष्ट्रीय बालिका दिवस समारोह का उद्घाटन करेंगी मेनका
  • रोपोसो पर बनाये नई स्टाइल में गणतंत्र दिवस पर वीडियो
  • म्यूचुअल फंड निवेश की निगरानी अब पेटीएम मनी ऐप से भी
राज्य Share

रिश्वत लेने पर चार साल की कैद

शहडोल, 08 सितम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के शहडोल जिले में भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम न्यायालय के विशेष न्यायाधीश अविनाश चंद्र तिवारी ने रिश्वत लेने के आरोपी एक प्रधान आरक्षक को चार साल की कैद की सजा सुनाई।
अदालत ने पांच साल पुराने इस मामले में कल शाम सुनवाई पूरी करते हुए जयसिंहनगर थाने में पदस्थ सिपाही अशोक कुमार मिश्रा को ये सजा सुनाई।
लोकायुक्त पुलिस रीवा ने आरोपी सिपाही को 17 जून 2013 को कुबरा गांव निवासी कोमल साहू से अपराध दर्ज नहीं करने के एेवज में ढाई हजार रुपये रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। अदालत ने मामले को प्रमाणित पाया।
सं गरिमा
वार्ता
image