Wednesday, Jul 24 2019 | Time 08:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चीन में भूस्खलन, एक की मौत, छह लापता
  • अमरनाथ के लिए 2723 श्रद्धालुओं का जत्था रवाना
  • पूर्व सेना प्रमुख एस्पर ने ली अमेरिका के रक्षा मंत्री पद की शपथ
  • पाकिस्तान के क्वेटा में विस्फोट, दो की मौत, 25 घायल
  • कनाडा में सड़क हादसे में 69 लोग घायल
  • नाइजीरिया में सेना ने 78 सशस्त्रधारियों को मार गिराया
  • छह यूरोपीय देशों ने की फिलिस्तीनियों के घरों को तोड़े जाने की निंदा
  • सड़क हादसे में चार तीर्थ यात्रियों की मौत, दो घायल
  • कर्नाटक में भाजपा की सत्ता में वापसी
  • कर्नाटक में लोकतंत्र की हार, लालच की जीत हुई: राहुल
राज्य


बिजली संशोधन मसौदे में बिजली इंजीनियरों के सुझाव शामिल नहीं-गुप्ता

जालंधर 08 सितंबर (वार्ता) बिजली (संशोधन) बिल 2018 विद्युत अधिनियम 2003 के संशोधित संस्करण को सरकारी एजेंसियों, बिजली वितरण कंपनियों, नियामकों और उद्योगों को उनकी टिप्पणियों के लिए प्रसारित किया गया है।
ऑल इंडिया पावर इंजीनियर्स फेडरेशन (एआईपीईएफ) ने शनिवार को यहां जारी बयान में बताया कि विद्युत मंत्रालय ने दावा किया है कि इसके संशोधित संस्करण में उसने हितधारकों द्वारा दिए गए विभिन्न सुझावों को शामिल किया है और बिल सामग्री और कैरेज को अलग करना चाहता है। मंत्रालय द्वारा शुक्रवार को जारी किए गए मसौदा विधेयक के लिए 45 दिनों की अवधि के भीतर विभिन्न एजेंसियों की टिप्पणियों की मांग की है। मसौदा विधेयक को प्रसारित करने वाले पत्र ने बिजली क्षेत्र के इंजीनियरों और कर्मचारियों, सबसे बड़ी हिस्सेदारी धारकों से टिप्पणियों की मांग नहीं की है।
एआईपीईएफ के प्रवक्ता विनोद गुप्ता ने बताया कि एनसीसीओईईई के बैनर के तहत इंजीनियरों और कर्मचारियों के एक समूह ने केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल के साथ मसौदा विधेयक पर चर्चा की थी, फिर केंद्रीय ऊर्जा मंत्री, जिन्होंने अपने विभिन्न सुझावों पर सहमति व्यक्त की थी और प्रतिनिधिमंडल को आश्वासन दिया था कि इन्हें संशोधित बिल में शामिल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि एआईपीईएफ ने अब गंभीर चिंता के साथ नोट किया है कि स्पष्ट रूप से संशोधित मसौदे में कोई भी सुझाव शामिल नहीं किया गया है।
ठाकुर.श्रवण
वार्ता
More News
कर्नाटक में बसपा के एकमात्र विधायक पार्टी से निष्कासित

कर्नाटक में बसपा के एकमात्र विधायक पार्टी से निष्कासित

24 Jul 2019 | 12:02 AM

बेंगलुरु, 23 जुलाई (वार्ता) बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती ने कर्नाटक में पार्टी के एकमात्र विधायक एन महेश को विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव पर मतदान के दौरान अनुपस्थित रहने के कारण तत्काल प्रभाव से पार्टी से निष्कासित कर दिया है।

see more..
image