Wednesday, Sep 19 2018 | Time 10:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बेगूसराय में 650 कार्टन शराब बरामद, चार गिरफ्तार
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन !
  • परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन !
  • हाउसफुल 4 में डबल धमाल मचायेंगे अक्षय !
  • हाउसफुल 4 में डबल धमाल मचायेंगे अक्षय !
  • जौनपुर :आग में झुलसकर महिला की मौत
  • साजन को रजत, विजय को कांस्य
  • हांगकांग को हराने में भारत के पसीने छूटे
  • उ कोरिया परमाणु मिसाइल केंद्रों को स्थायी रूप से नष्ट्र करने को राजी
  • अमेरिका-द कोरिया व्यापार समझौता संयुक्त राष्ट्र में संभव : ट्रंप
  • 80 कार्टन विदेशी शराब बरामद
  • दोनों कोरियाई देश संयुक्त वक्तव्य पर करेंगे हस्ताक्षर
  • चीन-पाकिस्तान के सैन्य संबंध दोनों देशों के रिश्तों की ‘रीढ़’: चीन
राज्य Share

सरकार की नीयत में खोट की वजह से पेट्रोलियम पदार्थ मंहगे - डा़ शर्मा

अजमेर,8 सितम्बर(वार्ता)राजस्थान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और अजमेर जिले के सांसद डा़ रघु शर्मा ने कहा कि
केन्द्र की भाजपा सरकार की नीयत में खोट है और यही वजह है कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के मूल्य में बढ़ोतरी नहीं होने के बावजूद देश में पेट्रोल, डीजल की कीमतें आसमान चढ़ रही है।
डॉ. रघु शर्मा ने आज यहां पत्रकार वार्ता में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को आढ़े हाथों लेते हुए कहा कि सरकार में ईमानदारी है तो सरकार को पेट्रोल, डीजल एवं रसोई गैस की कीमतें निर्धारित करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव से पहले वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वित्त मंत्री अरुण जेटली, गृहमंत्री राजनाथ सिंह एवं मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार पर पेट्रोलिम पदार्थो की मूल्य वृद्धि के लिए गंभीर आरोप लगाये थे और तत्कालीन सरकार को दोषी ठहराया था।
उन्होंने कहा कि लेकिन आज पेट्रोल, डीजल रसोई गैस की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि के बावजूद वे सब चुप्पी साधे है। उन्होंने संसद से प्राप्त अधिकृत आंकड़ों के आधार पर कहा कि इसे कोई भी देख सकता है। डा़ शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण तीनों चीजें के दाम लगातार बढ़ रहे है और आम जनता की पंहुच से बाहर हाेते जा रहे है। उन्होंने सवाल किया कि कांग्रेस की मांग के बावजूद भाजपा सरकार इन पेट्रोलियम पदार्थों को जीएसटी के दायरे में क्यों नहीं ला रही है। उन्होंने मांग की कि सरकार बताए कि देश में तेल की कीमतें कब कम होगी।
एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कांग्रेस आम जनता की आवाज बनकर चुनाव में उतरने जा रही है और विश्वास दिलाया की यदि कांग्रेस शासन में आती है तो इन पेट्रोलियम पदार्थो को जीएसटी के दायरे में लाया जाएगा। इस अवसर पर विधायक डॉ. श्रीगोपाल बाहेती, देहात अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह राठौड़ और शहर अध्यक्ष विजय जैन सहित अनेक कांग्रेस के पदोधिकारी मौजूद थे।
सं सैनी
वार्ता
image