Thursday, Feb 21 2019 | Time 23:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बिहार में अलग-अलग हादसों में दस की मौत, आठ घयल
  • उमर, महबूबा ने संयुक्त बयान का किया स्वागत
  • विद्युत निगम कर्मचारियों का काम का अनिश्चितकालीन बहिष्कार
  • ट्रैक्टर की चपेट में आने से बच्ची की मौत
  • जीप पलटने से एक छात्रा की मौत, दो घायल
  • सुपरटेक पर कार्रवाई, चार गिरफ्तार, 50 हजार जुर्माना
  • तीन तलाक पर रोक सहित चार अध्यादेश जारी
  • थरूर ने कोर्ट से विदेश यात्रा की मांगी इजाजत
  • तेदेपा ने पांच उम्मीदवारों के नाम घोषित किए
  • सिंधी नेताओं का उनके सामाजिक एवं राजनीतिक जीवन में महत्वपूर्ण स्थान रहा है:नाईक
  • इमरान ने सईद नीत जेयूडी पर फिर से पाबंदी लगायी
  • कांग्रेस के निलंबित विधायक 14 दिन की न्यायिक हिरासत में
  • राहुल गांधी का झारखंड दौरा 02 मार्च को
  • सऊदी अरब ने कश्मीर को द्विपक्षीय मसले के रूप में मान्यता दी
राज्य Share

तिलमिलाये अखिलेश ने योगी से पूछा क्या यही है राजधर्म

तिलमिलाये अखिलेश ने योगी से पूछा क्या यही है राजधर्म

लखनऊ 08 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच वाकयुद्ध थमने का नाम नहीं ले रहा है।

मुगल शासक औरगंजेब से तुलना किये संबंधी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बयान से आहत श्री यादव ने ट्वीट कर उन्हे राजधर्म की याद दिलायी। अखिलेश ने ट्वीट किया “ मुख्यमंत्री के लिए हर पिता ‘पितातुल्य’ होना चाहिए, उन्नाव की बलात्कार-पीड़िता का वो बेबस पिता भी जिसको उनकी पुलिस ने मार-मार कर मार डाला. इसी प्रकार हर पुत्री ‘पुत्रीतुल्य’ होनी चाहिए, वो पुत्री भी जिसे काला झंडा दिखाने पर जेल की काल कोठरी में डाला गया. यही सच्चा राजधर्म है। ”

गौरतलब है कि श्री योगी ने शुक्रवार को यहां पिछडा वर्ग प्रतिनिधि सभा के एक कार्यक्रम में कहा था “ जो अपने बाप-चाचा का नहीं हुआ, वो आपको अपने साथ जोड़ने की बात करता है। इतिहास में एक पात्र आते हैं, कैसे उन्होंने अपने बाप को कैद करके रखा था। इसलिए कोई मुसलमान अपने बेटे का नाम औरंगजेब नहीं रखता। कुछ ऐसा ही समाजवादी पार्टी के साथ जोड़ा गया है। ”

पिछली 31 अगस्त को पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के चाचा एवं सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव ने समाजवादी सेक्युलर मोर्चा का गठन का एलान किया था। उन्होने कहा कि सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव से अनुमति लेने के बाद उन्होने यह कदम उठाया।

image