Wednesday, Jun 19 2019 | Time 18:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोर्गन की पिटाई को भुला नहीं पाएंदे राशिद
  • हरियाणाा में तीन एचसीएस अधिकारियों को अतिरिक्त प्रभार
  • भेल की एक हजार एकड़ जमीन काे वापस लिया जाएगा - गोविंद
  • बालिका के अपहरण और हत्या के मामले में दो लड़के गिरफ्तार
  • ‘एक देश एक चुनाव’ पर संसद में चर्चा कराए सरकार : कांग्रेस
  • बंगलादेश, दक्षिण कोरिया के चैनल भारत में दिखेंगे
  • बंगलादेशी श्रमिकों के साथ झड़प में एक चीनी श्रमिक की मौत
  • बंगलादेश के खिलाफ वापसी कर सकते हैं स्टोयनिस
  • बंगलादेश के खिलाफ वापसी कर सकते हैं स्टोयनिस
  • कैप्टन सरकार नशे को काबू करने में बुरी तरह विफल : चीमा
  • वाई वी सुब्बा रेड्डी तिरुपति देवस्थानम के नये अध्यक्ष
  • मध्य नाइजीरिया में बंदूकधारी ने चार लोगों की हत्या की
  • ढाणी दादूपुर बना हरियाणा का पहला पशुधन जोखिम मुक्त गांव
  • कुशीनगर में तस्कर गिरफ्तार, 350 पेटी शराब बरामद
राज्य


व्यवसायी का अपहरण कर 40 लाख फिरौती मांगने वाले पांच गिरफ्तार

लखनऊ, 08 सितम्बर (वार्ता) उत्तर प्रदेश स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) टीम ने व्यवसायी का अपहरण कर 40 लाख रूपये की फरौती मांगने वाले पांच आरोपियों को बिहार पुलिस की मदद से शनिवार को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से व्यवसायी को सकुशल मुक्त करा लिया है।
पुलिस के आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस कार्य में मध्य प्रदेश पुलिस का भी सहयोग लिया गया। आरोपियों के पास से फरौती के 40 लाख रूपये भी बरामद कर लिए गए है। आरोपियों ने 23 जुलाई को रीवा मध्यप्रदेश से संतबहादुर सिंह का अपहरण कर फरौती मांगी थी और व्यवसायी को मुक्त कराने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस से मदद मांगी गई थी। सूत्रोें ने बताया कि बिहार के रोहताश जिले से बलिन्दर कुमार सिंह उर्फ राजेश सिंह निवासी औरंगाबाद एवं नारायण लाेहार निवासी इन्दौर को गिरफ्तार किया गया जबकि अंकित कुमार एवं अजीत कुमार सिंह निवासी नालन्दा, सैलम रजा निवासी मुजफ्फरपुर को मुजफ्फरपुर से पकड़ा गया है। इन तीनों के कब्जे से 55 दिनों से अपहरण किए गए व्यवसायी को सकुशल आजाद कराया गया।
सूत्रों ने बताया कि इनके पास से एक देशी लोडेड पिस्टल मय लोडेड मैगजीन एवं 07 जिंदा कारतूस, 40 लाख नगद, दो मोबाईल एवं 03 सिम कार्ड, एक मोटरर्साइकिल एवं एक मध्य प्रदेश की पुलिस वर्दी बरामद की गई है। आरोपियों के खिलाफ बिहार, मध्यप्रदेश महाराष्ट्र सहित अनेक थानों पर लूट, अपहरण काफी मामले दर्ज है।
तेज
वार्ता
image