Saturday, Jan 19 2019 | Time 13:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में एक सप्ताह बाद लौटे भाजपा विधायक
  • बाबुल सुप्रियो का तृणमूल कांग्रेस की विशाल रैली पर कटाक्ष
  • कमजोर लोगों पर हमला करता है डिमेंशिया
  • ठेके पर शिक्षकों की नियुक्ति का प्रस्ताव नहीं हो सका पारित
  • कोलकाता में ‘पाखंड शो’: बाबुल सुप्रियो
  • श्रीनगर हवाई अड्डे पर उड़ानें बाधित
  • लद्दाख में हिमस्खलन में मरने वालों की संख्या पांच हुई
  • कुम्भ के लिये सात हजार क्यूसेक जल का अतिरिक्त प्रवाह
  • दक्षिण भारत पर हमले की साजिश नाकाम, तीन गिरफ्तार
  • अमेरिका, उत्तर कोरिया के बीच कार्यकारी स्तर की ‘सार्थक’ बैठक
  • लीबिया में सशस्त्र लड़ाकों की झड़पों में 13 मरे, 52 घायल
  • सबरीमला: अयप्पा मंदिर में 51 महिलाओं के प्रवेश का कोई सबूत नहीं
  • मेक्सिको में तेल पाइपलाइन में विस्फोट, 20 मरे, 54 घायल
  • सबरीमला : केरल पुलिस ने 67,094 लोगों पर मामला दर्ज
  • अमेरिका में पुलिसकर्मी को सात साल की सजा
राज्य Share

लगातार बारिश से चौपट हुई धान की फसल

गरियाबंद 09 अगस्त (वार्ता) छत्तीसगढ़ के गरियाबंंद जिले में तेज बारिश के चलते खेत में पानी भरने से कई एकड़ में लगी धान की फसल चौपट होने की कगार पर है।
सूत्रों के अनुसार जिले में कई दिनों से हो रही तेज बारिश होने के चलते देवभोग ब्लॉक में स्थित खेतों में पानी लबालब होने से करीब 400 एकड़ में लगी फसले पूरी तरह से बर्बाद हो गयी है। इससे किसानों की चिंता बढ़ गई। पिछले साल की तुलना में इस साल ज्यादा बारिश रिकार्ड किया गया। ढोरर्रा जलाशय का पानी खेतों में पहुंचने के कारण यह स्थिति सामाने आयी है।
दूसरी ओर किसानों का कहना है कि यदि जलाशय के गेट को समय से पहले ही खोल दिये जाते तो धान की फसले चौपट होने से बच जाती।
वहीं एसडीएम निर्भय साहू ने बताया कि सर्वें करवाया गया है। सर्वें में यह बात सामने आई है कि अतिवृष्टि से फसल खराब हुई है। प्रकरण तैयार कर प्रभावितों को मुआवजा दिया जाएगा।
सं नाग
वार्ता
image