Thursday, Feb 21 2019 | Time 12:54 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कश्मीरियों के खिलाफ हमले पर रोक संबंधी याचिका की सुनवाई शुक्रवार को
  • लश्कर ए तैयबा का स्लीपर सेल का सदस्य था पाकिस्तानी कैदी
  • राष्ट्रीय राजधानी में हल्की बारिश के बाद धूप खिली
  • कश्मीर राजमार्ग बंद होने से सैकड़ों वाहन फंसे
  • अभ्रक खदान में चाल धंसने से मजदूर की मौत
  • पारिवारिक फिल्मों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया सूरज बड़जात्या ने
  • ऋतिक के अलावा किसी से कंपटीशन नहीं: टाइगर
  • दीपिका के साथ काम करना हमेशा खास रहा : रणवीर
  • हॉरर फिल्म में काम करना चाहती हैं कैटरीना
  • बॉक्सर का किरदार निभायेंगे शाहिद कपूर
  • 83 के प्रॉफिट में हिस्सा लेंगे रणवीर सिंह!
  • पारिवारिक फिल्मों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया सूरज बड़जात्या ने
  • ऋतिक के अलावा किसी से कंपटीशन नहीं: टाइगर
  • दीपिका के साथ काम करना हमेशा खास रहा : रणवीर
  • अल अजीजिया मामले में नवाज की सजा पर फैसला सुरक्षित
राज्य Share

पालकों ने दी नौनिहालों को स्कूल न भेजने की चेतावनी

गरियाबंद 09 सितंबर (वार्ता) छत्तीसगढ़ के गरियाबंद जिले में एक शासकीय स्कूल में पढ़ रहे बच्चों के अभिभावकों ने स्कूल भवन की जर्जर हालत को लेकर बच्चों को स्कूल न भेजने के लिए चेतावनी दी है।
जिले के देवभोग ब्लॉक के ग्राम अमाड स्थित प्राथमिक शाला के छत से बरसात के पानी टपकने के कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो गई है। बीस साल पुरानी स्कूल भवन की हालत जर्जर हो गई है। इस अव्यवस्था को देख पालकों ने स्कूल बहिष्कार की चेतावनी दी है।
पालकों ने स्कूल भवन की जर्जर स्थिति और इसकी मरम्मत करने की मांग को लेकर कई बार शासन प्रशासन से गुहार की है, लेकिन अभी तक कोई सुध लिया गया। लोक सुराज में भी कई बार आवेदन देने के बाद भी कोई हल नही निकला। पालकों ने एकमत से निर्णय लिया है कि जल्द मरम्मत नहीं किया गया तो बच्चों को स्कूल नहीं भेजेंगे। पालकों को चिंता है कि कहीं छत न गिर जाए।
इस संबंध में ब्लॉक शिक्षा अधिकारी प्रदीप शर्मा ने बताया कि स्कूल छत मरम्मत के लिए 25000 हजार रूपये की स्वीकृति दी गई है जल्द कार्य शुरू होगा।
सं नाग
वार्ता
image