Sunday, May 31 2020 | Time 13:22 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी का लोगों से पर्यावरण दिवस पर पेड़ लगाने का आग्रह
  • राजस्थान में कोरोना संक्रमितों की संख्या करीब 8700 पहुंची
  • अरुणाचल प्रदेश में कोरोना का एक नया मामला
  • अमेरिका के कई शहरों में कर्फ्यू
  • ट्रंप ने जी-7 की बैठक टाली, भारत समेत चार देशों को भी बुलाएंगे
  • कर्नाटक में चार शिकारी गिरफ्तार
  • औरंगाबाद में कोरोना के 42 नये मामले
  • अमेरिका में प्रदर्शन के दौरान 13 पुलिस अधिकारी घायल
  • कोरोना संकट काल में ‘योग’ एवं ‘आयुर्वेद’ की ओर देख रही है दुनिया : मोदी
  • बंगाल में सड़क दुर्घटना में एक प्रवासी श्रमिक की मौत
  • पाकिस्तानी सैनिकों की गोलीबारी में युवक घायल
  • कोरोना के खिलाफ लड़ाई कमजोर नहीं होने दें : मोदी
  • इस बरसात में जल संरक्षण सबकी जिम्मेदारी: मोदी
  • सरकार के फैसलों ने देश को आर्थिक संकट में धकेल दिया: दानिश
राज्य


साइंस पार्क लोगों की जिज्ञासा को शांत करेगा

अजमेर 09 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा कि साइंस पार्क विज्ञान में रूचि रखने वाले लोगों की जिज्ञासा को शांत करने के साथ ही तारामंडल को देखने वालों की इच्छाओं को साकार कर सकेगा ।
श्रीमती माहेश्वरी ने आज यहां 15 करोड 20 लाख रूपये की लागत से बनने वाले साइंस पार्क की आधार शिला रखते हुये कहा कि साइंस पार्क अजमेर के वाशिंदों के लिए एक आश्चर्यचकित करने वाली सौगात होगी।
उन्होंने कहा कि कोलकत्ता, मुंबई जैसे महानगरों में ही गिनी चुनी जगहों पर साइंस पार्क की सुविधा है लेकिन अब अजमेर में भी इसकी स्थापना से विज्ञान में रुचि रखने वालों की जिज्ञासा शांत हो सकेगी और तारामंडल को चित्रों में देखने वालों की इच्छाएं अब साकार रूप लेंगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से 27 माह में यह साइंस पार्क बनकर तैयार हो जाएगा तथा राज्य को स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
इस अवसर पर शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि 20334 वर्ग मीटर भूमि पर बनने वाले इस अत्याधुनिक साइंस पार्क का निर्माण केंद्रीय कला एवं सांस्कृतिक मंत्रालय की मंजूरी के बाद राष्ट्रीय विज्ञान परिषद संग्रहालय की देखरेख में तैयार होगा। इस पर होने वाले कुल खर्च का पचास फीसदी स्मार्ट सिटी की योजना के तहत खर्च किया जाएगा।
उन्होंने निर्माणाधीन साइंस पार्क की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए कहा कि इसके जरिए विज्ञान की दुनिया के रहस्यों से रुबरु होने का मौका मिलेगा इसके साथ ही तारामंडल-आकाशमंडल-सनशाइन गैलेरी के बारे में दृश्यात्मक जानकारी मिलेगी।
इससे पहले श्रीमती माहेश्वरी एवं श्री देवनानी ने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय परिसर में 429 लाख रुपये की लागत से बने नवनिर्मित (अमृतायन भवन) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कार्यवाहक कुलपति प्रो. कैलाश सोढानी मौजूद थे।
सं अजय संजय
वार्ता
image