Tuesday, Sep 25 2018 | Time 15:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अभिमन्यु ने दिये बारिश से फसलों को हुये नुकसान के आंकलन के आदेश
  • दो विदेशी समेत छह लड़कियां दलालों से मुक्त करायी गयीं
  • हरियाणा के कर्मचारियों को दो प्रतिशत मंहगाई भत्ता
  • वायु सेना ने बचाया बर्फबारी में फंसे जर्मन दंपति को
  • class="x_MsoNormal" style="text-align: justify; line-height: normal; margin: 0in 0in 8pt; font-family: Chanakya, serif, "EmojiFont";">हरियाणा के कर्मचारियों को दो प्रतिशत मंहगाई भत्ता
  • पाकिस्तान की आड़ में छिपने की बजाय राफेल पर जवाब दे सरकार : कांग्रेस
  • नवीकरणीय ऊर्जा में जारी रहेगी रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया
  • सुप्रीम कोर्ट से अनुमति लें भाजपा के नामित सदस्य: वैथीलिंगम
  • इमरान भारत के साथ बातचीत कैसे कर सकते हैं: विपक्षी दल
  • सुप्रीम कोर्ट ने जरदारी की संपत्तियों का ब्यौरा मंगाया
  • भागलपुर से कुख्यात गिरफ्तार
  • भारत की मदद से अफगानिस्तान से ईरान तक रेललाइन बिछाने का इच्छुक उज़्बेकिस्‍तान
  • नवीकरणीय ऊर्जा में जारी रहेगी रिवर्स बिडिंग प्रक्रिया
  • सोना 175 रुपये मजबूत;चांदी 190 रुपये महंगी
  • सारण में लूटपाट करने वाले उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार
राज्य Share

साइंस पार्क लोगों की जिज्ञासा को शांत करेगा

अजमेर 09 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा कि साइंस पार्क विज्ञान में रूचि रखने वाले लोगों की जिज्ञासा को शांत करने के साथ ही तारामंडल को देखने वालों की इच्छाओं को साकार कर सकेगा ।
श्रीमती माहेश्वरी ने आज यहां 15 करोड 20 लाख रूपये की लागत से बनने वाले साइंस पार्क की आधार शिला रखते हुये कहा कि साइंस पार्क अजमेर के वाशिंदों के लिए एक आश्चर्यचकित करने वाली सौगात होगी।
उन्होंने कहा कि कोलकत्ता, मुंबई जैसे महानगरों में ही गिनी चुनी जगहों पर साइंस पार्क की सुविधा है लेकिन अब अजमेर में भी इसकी स्थापना से विज्ञान में रुचि रखने वालों की जिज्ञासा शांत हो सकेगी और तारामंडल को चित्रों में देखने वालों की इच्छाएं अब साकार रूप लेंगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से 27 माह में यह साइंस पार्क बनकर तैयार हो जाएगा तथा राज्य को स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
इस अवसर पर शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि 20334 वर्ग मीटर भूमि पर बनने वाले इस अत्याधुनिक साइंस पार्क का निर्माण केंद्रीय कला एवं सांस्कृतिक मंत्रालय की मंजूरी के बाद राष्ट्रीय विज्ञान परिषद संग्रहालय की देखरेख में तैयार होगा। इस पर होने वाले कुल खर्च का पचास फीसदी स्मार्ट सिटी की योजना के तहत खर्च किया जाएगा।
उन्होंने निर्माणाधीन साइंस पार्क की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए कहा कि इसके जरिए विज्ञान की दुनिया के रहस्यों से रुबरु होने का मौका मिलेगा इसके साथ ही तारामंडल-आकाशमंडल-सनशाइन गैलेरी के बारे में दृश्यात्मक जानकारी मिलेगी।
इससे पहले श्रीमती माहेश्वरी एवं श्री देवनानी ने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय परिसर में 429 लाख रुपये की लागत से बने नवनिर्मित (अमृतायन भवन) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कार्यवाहक कुलपति प्रो. कैलाश सोढानी मौजूद थे।
सं अजय संजय
वार्ता
More News
राज्य में अराजक स्थिति होने का आरोप लगाया शशि कर्णावत ने

राज्य में अराजक स्थिति होने का आरोप लगाया शशि कर्णावत ने

25 Sep 2018 | 3:02 PM

विदिशा, 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) की पूर्व अधिकारी एवं कांग्रेस नेता डॉ शशि कर्णावत ने आरोप लगाते हुए कहा है कि राज्य में अराजक माहौल है

 Sharesee more..
image