Sunday, Jul 21 2019 | Time 11:03 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गुमला में चार लोगों की पीट-पीटकर हत्या
  • लखनऊ पुलिस मुठभेड़ में तीन शातिर बदमाश गिरफ्तार
  • खास है सुगंधित अप्पेमिडी आम का अचार
  • खास है सुगंधित अप्पेमिडी आम का अचार
  • निजी जिंदगी में बेहद संवेदनशील इंसान थे मुकेश
  • निजी जिंदगी में बेहद संवेदनशील इंसान थे मुकेश
  • निजी जिंदगी में बेहद संवेदनशील इंसान थे मुकेश
  • रणबीर के साथ फिर जोड़ी जमायेंगी दीपिका!
  • रणबीर के साथ फिर जोड़ी जमायेंगी दीपिका!
  • रणबीर के साथ फिर जोड़ी जमायेंगी दीपिका!
  • ‘जजमेंटल है क्या’ जैसे किरदार से न्याय कर सकती हैं कंगना
  • ‘जजमेंटल है क्या’ जैसे किरदार से न्याय कर सकती हैं कंगना
  • ‘जजमेंटल है क्या’ जैसे किरदार से न्याय कर सकती हैं कंगना
  • पाकिस्तान को अपनी नीतियों में बदलाव करना होगा : अमेरिका
  • टैंकर जब्ती मामले में रूस की भागीदारी की जांच कर रहा है ब्रिटेन
राज्य


साइंस पार्क लोगों की जिज्ञासा को शांत करेगा

अजमेर 09 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की उच्च शिक्षा मंत्री किरण माहेश्वरी ने कहा कि साइंस पार्क विज्ञान में रूचि रखने वाले लोगों की जिज्ञासा को शांत करने के साथ ही तारामंडल को देखने वालों की इच्छाओं को साकार कर सकेगा ।
श्रीमती माहेश्वरी ने आज यहां 15 करोड 20 लाख रूपये की लागत से बनने वाले साइंस पार्क की आधार शिला रखते हुये कहा कि साइंस पार्क अजमेर के वाशिंदों के लिए एक आश्चर्यचकित करने वाली सौगात होगी।
उन्होंने कहा कि कोलकत्ता, मुंबई जैसे महानगरों में ही गिनी चुनी जगहों पर साइंस पार्क की सुविधा है लेकिन अब अजमेर में भी इसकी स्थापना से विज्ञान में रुचि रखने वालों की जिज्ञासा शांत हो सकेगी और तारामंडल को चित्रों में देखने वालों की इच्छाएं अब साकार रूप लेंगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से 27 माह में यह साइंस पार्क बनकर तैयार हो जाएगा तथा राज्य को स्थानांतरित कर दिया जाएगा।
इस अवसर पर शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने कहा कि 20334 वर्ग मीटर भूमि पर बनने वाले इस अत्याधुनिक साइंस पार्क का निर्माण केंद्रीय कला एवं सांस्कृतिक मंत्रालय की मंजूरी के बाद राष्ट्रीय विज्ञान परिषद संग्रहालय की देखरेख में तैयार होगा। इस पर होने वाले कुल खर्च का पचास फीसदी स्मार्ट सिटी की योजना के तहत खर्च किया जाएगा।
उन्होंने निर्माणाधीन साइंस पार्क की विशेषताओं का उल्लेख करते हुए कहा कि इसके जरिए विज्ञान की दुनिया के रहस्यों से रुबरु होने का मौका मिलेगा इसके साथ ही तारामंडल-आकाशमंडल-सनशाइन गैलेरी के बारे में दृश्यात्मक जानकारी मिलेगी।
इससे पहले श्रीमती माहेश्वरी एवं श्री देवनानी ने महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय परिसर में 429 लाख रुपये की लागत से बने नवनिर्मित (अमृतायन भवन) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर कार्यवाहक कुलपति प्रो. कैलाश सोढानी मौजूद थे।
सं अजय संजय
वार्ता
image