Thursday, Nov 15 2018 | Time 20:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकवादी गिरफ्तार
  • एम्बुलेंस और कार की टक्कर में एक महिला की मौत
  • महिलाओं को दुपहिया वाहन चलाने और तकनीकी प्रशिक्षण को लेकर समझौता
  • स्पेश्यलिटी केमिकल्स कंपनी लैंक्सेस का भारत में 1250 करोड़ रुपये के निवेश की योजना
  • स्पेश्यलिटी केमिकल्स कंपनी लैंक्सेस का भारत में 1250 करोड़ रुपये के निवेश की योजना
  • लालकुआं में पति ने सरेबाजार पत्नी को चाकू मारा, फरार
  • जदयू की विधायक मंजू वर्मा पार्टी से निलंबित
  • सऊदी अरब ने पत्रकार हत्या मामले में शहजादे को दी क्लीन चिट
  • अक्टूबर में निर्यात करीब 18 फीसदी बढ़ा
  • हुड्डा की मुश्किलें बढ़ीं, नेशनल हेराल्ड मामले में चलेगा मुकदमा
  • अफगानिस्तान ने पाकिस्तान को सौंपा पुलिस अधिकारी डावर का शव
  • राफेल पर फ्रांस ने नहीं दी गारंटी : राहुल
  • दक्षिण भारतीय एथलीटों का वर्चस्व कायम, जीते 23 पदक
  • बीडीओ की अनिश्चितकालीन हड़ताल 26 नवंबर से
राज्य Share

राजीव हत्या मामले के दोषियों की रिहाई पर मंत्रिमंडल की बैठक में चर्चा

चेन्नई 09 सितंबर (वार्ता) पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के मामले में दोषी ए जी पेरारीवलन की याचिका पर उच्चतम न्यायालय की ओर से तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से विचार किये जाने की अपील के तीन दिनों के बाद रविवार की शाम इस मामले के सातों दोषियों की रिहाई पर विचार करने के लिए राज्य मंत्रिमंडल की महत्वपूर्ण बैठक शुरू हुई।
यहां राज्य सचिवालय में मुख्यमंत्री ई के पलानीस्वामी की अध्यक्षता में हो रही बैठक में उपमुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम और अन्य मंत्रियों के अलावा मुख्य सचिव गिरिजा वैद्यनाथन भी मौजूद थीं।
राज्य सरकार की ओर से इस मामले पर काूननी विशेषज्ञों से विस्तार से विचार-विमर्श के बाद यह बैठक बुलायी गयी है। राज्य के कानून मंत्री सी वी शन्मुगम ने दोहराया कि राज्य सरकार सभी दोषियों को रिहा करने के लिए प्रतिबद्ध है।
सूत्रों के मुताबिक मंत्रिमंडल द्वारा एक प्रस्ताव पारित किये जाने की संभावना है जिसमें संविधान के अनुच्छेद 161 में प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित से सभी दोषियों की समयपूर्व रिहाई की अनुशंसा की जाएगी।
शीर्ष अदालत के न्यायमूर्ति रंजन गोगोई, नवीन सिन्हा और के एम जोसेफ ने दोषियों की रिहाई को लेकर राज्य सरकार के प्रस्ताव के विरुद्ध केंद्र सरकार की ओर से दायर याचिका पर सुनवाई पूरी करते हुए राज्यपाल से पेरारीवलन की दया याचिका पर विचार करने के लिए कहा था।
केंद्र सरकार ने 10 अगस्त को उच्चतम न्यायालय को बताया था कि यह दोषियों की रिहाई को लेकर सहमत नहीं है क्योंकि उनकी सजा में छूट मिलने से एक ‘खतरनाक मिसाल ’ स्थापित होगी।
संजय टंडन
वार्ता
More News

15 Nov 2018 | 8:08 PM

 Sharesee more..

हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकवादी गिरफ्तार

15 Nov 2018 | 8:08 PM

 Sharesee more..
छात्र नवाचार और नई तकनीक को दें प्राथमिकता : कोविंद

छात्र नवाचार और नई तकनीक को दें प्राथमिकता : कोविंद

15 Nov 2018 | 8:07 PM

पटना 15 नवंबर (वार्ता) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नवाचार और नई तकनीक को प्राथमिकता देने का आह्वान करते हुए छात्रों से आज कहा कि इसके जरिये उनके पास देश को नए मुकाम पर ले जाने का स्वर्णिम अवसर है।

 Sharesee more..
image