Thursday, Feb 21 2019 | Time 12:56 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कश्मीरियों के खिलाफ हमले पर रोक संबंधी याचिका की सुनवाई शुक्रवार को
  • लश्कर ए तैयबा का स्लीपर सेल का सदस्य था पाकिस्तानी कैदी
  • राष्ट्रीय राजधानी में हल्की बारिश के बाद धूप खिली
  • कश्मीर राजमार्ग बंद होने से सैकड़ों वाहन फंसे
  • अभ्रक खदान में चाल धंसने से मजदूर की मौत
  • पारिवारिक फिल्मों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया सूरज बड़जात्या ने
  • ऋतिक के अलावा किसी से कंपटीशन नहीं: टाइगर
  • दीपिका के साथ काम करना हमेशा खास रहा : रणवीर
  • हॉरर फिल्म में काम करना चाहती हैं कैटरीना
  • बॉक्सर का किरदार निभायेंगे शाहिद कपूर
  • 83 के प्रॉफिट में हिस्सा लेंगे रणवीर सिंह!
  • पारिवारिक फिल्मों से दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया सूरज बड़जात्या ने
  • ऋतिक के अलावा किसी से कंपटीशन नहीं: टाइगर
  • दीपिका के साथ काम करना हमेशा खास रहा : रणवीर
  • अल अजीजिया मामले में नवाज की सजा पर फैसला सुरक्षित
राज्य Share

भारत बंद : कांग्रेस को मिला सपा का साथ

भारत बंद : कांग्रेस को मिला सपा का साथ

लखनऊ, 09 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस के भारत बंद के आयोजन पर सीधे तौर पर शिरकत ना करते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) ने पेट्रोलियम पदार्थो की कीमतों में बढोत्तरी के विरोध में सोमवार को राज्य व्यापी धरना प्रदर्शन का फैसला किया है।

सपा महासचिव राजेन्द्र चौधरी ने रविवार को बताया कि किसानों की परेशानियों, पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते दाम एवं मंहगाई, कानून व्यवस्था की बदहाली, बढ़ते भ्रष्टाचार, छात्रों-नौजवानों के दमन को लेकर पार्टी कार्यकर्ता कल हर जिले के तहसील मुख्यालय में धरना-प्रदर्शन करेंगे। धरना कार्यक्रम के चलते जिला एवं महानगर अध्यक्षों तथा महासचिवों की पार्टी मुख्यालय में आयोजित बैठक निरस्त कर दी गई है।

श्री चौधरी ने कहा कि भाजपा की केन्द्र और राज्य सरकारों ने जनहित में एक भी योजना लागू नहीं की है। इनके निर्णयों से जनता की परेशानियां बढ़ी है। नोटबंदी और जीएसटी ने अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया है। मंहगाई से जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। डीजल, पेट्रोल और घरेलू गैस के दाम आसमान छू रहे हैं। नौजवान निराश हैं और बेकारी से उनका भविष्य अंधेरे में है। कानून व्यवस्था ध्वस्त है। महिलाओं और बच्चियों के साथ बलात्कार की घटनाएं थम नहीं रही है।

उन्होने कहा कि इससे दुनिया भर में भारत की बदनामी हो रही है। कर्ज से दबा किसान असहाय अवस्था में फांसी के फंदे पर झूल रहा है। उसको फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिला है। इससे जनता में भारी आक्रोश है। पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर पार्टी कार्यकर्ता जनता की समस्याओं को लेकर धरना देंगे।

image