Wednesday, Sep 19 2018 | Time 12:14 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ट्रंप ने परमाणु निरस्त्रीकरण समझौते का किया स्वागत
  • मुखिया पति ने सरपंच के भाई समेत तीन को मारी गोली, एक की मौत
  • बिहार में भारी मात्रा में शराब बरामद, छह गिरफ्तार
  • कोरियाई प्रायद्वीप में परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर समझौता
  • सिद्धार्थनगर: लेखपाल निलंबित
  • सड़क दुर्घटना में गर्भवती महिला सहित एक की मौत
  • रचनात्मक सोच विकसित कर राजनीतिक दल ढूंढे देश की समस्याओं का हल: हरिवंश सिंह
  • भाजपा शासन में तानाशाही बन गया पेशा : राहुल
  • इमरान सऊदी नेतृत्व के साथ द्विपक्षीय संबंधों पर करेंगे चर्चा
  • अगस्ता वेस्टलैंड: आरोपी मिशेल का भारत को किया जाएगा प्रत्यर्पण
  • ग्रामीण की पीट-पीटकर हत्या
  • बेगूसराय में 650 कार्टन शराब बरामद, चार गिरफ्तार
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • कटरीना की बहन इसाबेल करेगी बॉलीवुड में डेब्यू
  • परिणीति हैं अर्जुन के लिये परफेक्ट दुल्हन !
राज्य Share

श्री कुमार ने बिहार को देश का सभ्यता द्वार बताया और कहा कि यहां अनेक ऐतिहासिक निर्माण कार्य किये गये हैं जिनमें बिहार संग्रहालय, सम्राट अशोक कन्वेंशन केंद्र परिसर में ज्ञान भवन, बापू सभागार एवं सभ्यता द्वार के अलावा अन्य कई भवनों का निर्माण शामिल है। बोधगया में बहुत बड़ा कन्वेंशन सेंटर बनाने जा रहे हैं। वैशाली में भगवान बुद्ध का अस्थि कलश मिला है, वहां भी बहुत बड़ा केंद्र बनेगा। इस प्रकार पूरे बिहार में जो भी ऐतिहासिक स्थल है, उसे विकसित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से पटना साहिब में देश-दुनिया से सिख श्रद्धालु प्रकाश पर्व में एकत्रित हुए और सभी ने प्रेम, भाईचारा, सद्भाव, आपसी एकता के साथ उनकी सेवा की, उस भाव को मन में सदैव बनाये रखा जाना चाहिए। इससे बिहार बहुत आगे जाएगा और हम राज्य के उस वैभवशाली और गौरवशाली अतीत को प्राप्त करने में कामयाब होंगे। यही दशमेश पिता गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज के प्रति सच्ची श्रद्धा होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि 350वां प्रकाश पर्व जब मनाया जा रहा था, तब 05 जनवरी 2017 को एक विशेष समागम का आयोजन किया गया था, जिसमें बहुद्देशीय प्रकाश केंद्र एवं उद्यान योजना के निर्माण के संबंध में जानकारी दी गयी थी। उन्होंने कहा कि 350वें प्रकाश पर्व एवं उसके बाद हुए शुकराना समारोह में सभी की सक्रिय भूमिका रही। उन्हाेंने कहा कि इस दौरान पूरे देश और देश के बाहर से आये सिख श्रद्धालुओं के प्रति जो लोगों की सेवा भावना देखी गयी, वह काफी प्रशंसनीय है।
श्री कुमार ने कहा कि 350वें प्रकाश पर्व का आयोजन बिहार के लिए गौरव का विषय है और यह हमारा धर्म था कि इसका आयोजन ठीक ढंग से हो सके। उन्होंने कहा कि बिहार का इतिहास केवल किसी भू-भाग मात्र का नहीं बल्कि यह पूरे देश, पूरी मानव जाति और सभ्यता का इतिहास है। यह एक अद्भुत स्थल है, यह ज्ञान की भूमि है, यह भू-भाग शासन का केंद्र रहा है। कई धर्म-गुरुओं की उत्पत्ति इसी बिहार में हुई है। उन्होंने कहा कि दशमेश पिता सर्वंशदानी गुरु गोविन्द सिंह जी महाराज की यह जन्मभूमि है, यह कोई मामूली बात नहीं है। दुनिया भर में रहने वाले सिख समाज के लोग पटना साहिब का स्मरण करते हैं, यह हमारे लिए खुशी की बात है।
सूरज उमेश
जारी (वार्ता)
More News

19 Sep 2018 | 11:46 AM

 Sharesee more..

आग बुझाने जा रही दमकल से कुचला टोलकर्मी

19 Sep 2018 | 11:38 AM

 Sharesee more..
रचनात्मक सोच विकसित कर राजनीतिक दल ढूंढे देश की समस्याओं का हल: हरिवंश सिंह

रचनात्मक सोच विकसित कर राजनीतिक दल ढूंढे देश की समस्याओं का हल: हरिवंश सिंह

19 Sep 2018 | 11:38 AM

बलिया 19 सितम्बर (वार्ता ) । राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश सिंह ने कहा है कि देश के सभी राजनीतिक दलों को आपसी समझ से रचनात्मक सोच विकसित कर देश की बुनियादी समस्याओं का हल ढूंढ़ना होगा।

 Sharesee more..
image