Tuesday, Feb 19 2019 | Time 15:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सिख युवकों की हत्या के जिम्मेवार पुलिस अधिकारियों पर मामला दर्ज किया जाये: बलदेव सिंह
  • झाविमो को सम्मान नहीं मिला तो गठबंधन की होगी हार : बाबूलाल
  • रोजगार को प्राथमिकता देने वाले निवेश को देंगे प्रोत्साहन : कमलनाथ
  • राष्ट्र ध्वज के प्रति प्रतिज्ञा न लेने वाला छात्र गिरफ्तार
  • ए320 विमान पर सफल रहा टैक्सीबोट का परीक्षण
  • चार साल में बदली रेलवे की सूरत और सीरत : मोदी
  • कंफर्मटिकट ऐप अब गूगल प्ले स्टोर इंस्टेंट ऐप के रूप में
  • केरल टूरिज्म की नयी कैंपेन फिल्म ‘ह्यूमैन बाई नेचर’ रिलीज
  • खराब स्वास्थ्य की वजह से ईडी के समक्ष नहीं पेश हो सके वाड्रा
  • मंदसौर गोलीकांड में किसी को भी क्लीन चिट नहीं : गृह मंत्री
  • रेलयात्री ने शुरू की स्मार्ट बस सेवा
  • एससी/एसटी अत्याचार निवारण कानून मामले में 26 मार्च को सुनवाई
  • माघी पूर्णिमा पर लोगों ने लगायी आस्था की डुबकी
  • स्टार्टअप को मिलेगी आयकर में छूट
राज्य Share

पेट्रोल-डीजल में चार प्रतिशत वेट कम

रावतसर/जयपुर, 09 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने प्रदेश की जनता को राहत प्रदान करने के लिए पेट्रोल-डीजल पर चार प्रतिशत वेट कम करने की घोषणा की है।
श्रीमती राजे ने आज हनुमानगढ़ जिले के रावतसर में विधायक अभिषेक मटोरिया के पिता रामचन्द्र मटोरिया की मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में पेट्रोल-डीजल पर वेट कम करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि पेट्रोल पर जो वेट 30 प्रतिशत था उसे घटाकर अब 26 प्रतिशत तथा डीजल पर जो वेट 22 प्रतिशत था उसे घटाकर अब 18 प्रतिशत कर दिया है। इससे पेट्रोल-डीजल के दामों में करीब ढाई रूपये प्रति लीटर की कमी होगी। मुख्यमंत्री की यह घोषणा आज रात 12 बजे से लागू होगी।
उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों को कम करने से पड़ने वाले करीब दो हजार करोड़ के वित्तीय भार को जनहित में राज्य सरकार वहन करेगी। उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर राजस्थान गौरव यात्रा के दौरान प्रदेश के लोगों ने उनसे मांग की थी कि इनके दाम कम होने चाहिए।
उन्होंने कहा कि उनकी सरकार जनता की सरकार है और जनता की आवाज ईश्वर की आवाज होती है इसलिए हमने जनता की आवाज पर पेट्रोल-डीजल के दामों में यह कमी की है। इससे आम व्यक्ति, किसान, व्यापारी, विद्यार्थी, नौकरीपेशा करने वाले व्यक्ति, महिला और सभी वर्गों को राहत मिलेगी।
जोरा
वार्ता
image