Thursday, Feb 21 2019 | Time 08:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बंगलादेश: ढाका में इमारत में आग, 45 की मौत
  • किम जोंग के साथ और मुलाकातों की उम्मीद : ट्रम्प
  • इराक में घुसपैठ करने वाले आईएस के 24 आतंकवादी हिरासत में
  • तुर्की में सैन्य प्रशिक्षण के दौरान विस्फोट, पांच सैनिक घायल
  • पाकिस्तान ने राजौरी में संघर्ष विराम उल्लंघन कर की गोलीबारी
  • पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद से कश्मीर में शांति बाधित : डीजीपी
राज्य Share

उदयपुर में नृत्य समारोह में लोग हुए मंत्रमुग्ध

उदयपुर 09 सितम्बर (वार्ता) राजस्थान के उदयपुर में शास्त्रीय संगीत और नृत्य समारोह में मधुर गायन एवं कत्थक नृत्य ने आज लोगों को मंत्र मुग्ध कर दिया।
पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र की ओर से आयोजित इस समारोह “मल्हार” में पुणे की गायिका सावनी शेंडे साठ्ये ने अपने मधुर गायन से मल्हार के सुरों की वर्षा की एवं दिल्ली की डॉ. कविता ठाकुर के नेतृत्व में प्रस्तुत कत्थक के तत्वों के साथ मल्हार का वैविध्य निखर उठा।
शिल्पग्राम के दर्पण सभागार में आयोजित मल्हार में आज दिल्ली की जानी मानी कत्थक नृत्यांगना एवं गुरू डॉ कविता ठाकुर ने कत्थक के क्लासिक पक्ष को बखूबी दर्शाते हुए कुछ रचनाएं सुंदर अंदाज में प्रस्तुत की। कत्थक की शुरूआत सांई भजन से हुई इसके बाद मल्हार पर आधारित दो बंदिशों में मानो मल्हार फुहार बन कर बसर पड़ा। इस प्रस्तुति में पहले सुर मल्हार और बाद में मेघ मल्हार में मेघों के साथ वर्षा ऋतु का वर्णन कलात्मक बन सका।
इससे पहले सावनी ने अपने गायन की शुरूआत राग मियां मल्हार पर आधारित तीन बंदशों में अपने सुरों का जादू बिखेरा। उन्होंने पहले साव की रूत आई सजनिया सुनाया, इसके बाद विलम्बित एक ताल में निबद्ध ख्याल “सहेली सांझ भई सावन की” में अपने गायन से लोगों को बांधे रखा।
संगीत नाटक अकादमी के उस्ताद बिस्मिल्लाह खान युवा पुरस्कार से सम्मानि सावनी ने मीरा का भजन “सुनो सुनो दयाले म्हारी अरजी” सुना कर मीरा का स्मरण भी किया। सावनी के साथ हारमोनियम पर राहुल गोले, तबले पर अरूण गवई, तानपुरा पर डिम्पी सुरालका एवं निधी शर्मा ने संगत की।
रामसिंह जोरा
वार्ता
More News
18 अलगावववादी नेताओं की सुरक्षा वापस

18 अलगावववादी नेताओं की सुरक्षा वापस

20 Feb 2019 | 11:39 PM

नयी दिल्ली/ जम्मू 20 फरवरी (वार्ता) जम्मू-कश्मीर सरकार ने 14 फरवरी को पुलवामा में हुए भीषण आतंकवादी हमले के बाद बड़ा कदम उठाते हुए यासीन मलिक, सैयद अली शाह गिलानी, सलीम गिलानी, मौलबी अब्बास अंसारी समेत 18 अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा बुधवार को वापस ले ली।

 Sharesee more..

ईसागढ़ छात्रावास अधीक्षक निलंबित

20 Feb 2019 | 11:27 PM

 Sharesee more..

मालगाड़ी के छह डिब्बे पटरी से उतरे

20 Feb 2019 | 11:26 PM

 Sharesee more..

कमलनाथ मिलने पहुंचे बावरिया से

20 Feb 2019 | 11:16 PM

 Sharesee more..
image